जकरबर्ग से बोले मुकेश अंबानी- अगले 20 साल में भारत दुनिया की टॉप 3 इकोनॉमी में होगा

मुकेश अंबानी ने कहा कि अगल 20 साल में भारत दुनिया की शीर्ष 3 इकोनॉमी में शामिल होगा. फेसबुक फाउंडर मार्क जकरबर्ग के साथ एक वीडियो संवाद में उन्होंने यह बात कही. जकरबर्ग और अंबानी दोनों ने भारत को डिजिटाइज करने में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की भूमिका की सराहना की है.


रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने कहा कि अगल 20 साल में भारत दुनिया की शीर्ष तीन इकोनॉमी में शामिल होगा. फेसबुक फाउंडर मार्क जकरबर्ग के साथ एक वीडियो संवाद में उन्होंने यह बात कही. जकरबर्ग और अंबानी दोनों ने भारत को डिजिटाइज करने में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की भूमिका की सराहना की है. 

मुकेश अंबानी ने कहा कि जियो और फेसबुक दोनों मिलकर वैल्यू एडेड क्रिएटर बन सकते हैं. व्हाट्सऐप के करोड़ों सब्सक्राइबर हैं, जियो के करोड़ों ग्राहक हैं. 

क्या कहा मुकेश ने

मुकेश अंबानी ने कहा कि जियो मार्ट रिटेल अवसरों को भुनाकर हमारे छोटे शहरों कस्बों के छोटे दुकानदारों को जोड़ेगा और इससे लाखों नए रोजगार पैदा होंगे. 

उन्होंने कहा कि जियो देश के सभी स्कूलों को जोड़ने की कोशिश कर रहा है. इसी तरह हेल्थकेयर के क्षेत्र में हम सभी अथॉरिटी के साथ मिलकर उन्हें टेक्नोलॉजी टूल मुहैया कराने की कोशिश कर रहे हैं.  

मुकेश अंबानी ने कहा, 'जियो से डिजिटल कनेक्टिविटी आयी. अब वॉट्सऐप पे से डिजिट इंटरएक्टिविटी बढ़ेगी और हम क्लोज ट्रांजैक्शन एवं वैल्यू क्रिएशन की तरफ बढ़ पाएंगे. जियोमार्ट ने असीम ऑनलाइन और ऑफलाइन अवसर प्रदान किये हैं जिससे हमारे देश के छोटे दुकानदारों को डिजिटाइज होने का मौका मिला है.' 

उन्होंने कहा कि जियो ने फ्री वायस सेवाएं देने की अगुवाई की है. हमें इस पर गर्व है कि जियो अपने नेटवर्क से फ्री वायस सेवाएं देने में सक्षम रहा है. मुकेश अंबानी ने कहा, 'प्रधानमंत्री मोदी ने कोविड—19 महामारी के दौरान आर्थिक रूप से कमजोर लोगों की मदद के लिए अगुवाई की है.' 

क्या कहा जकरबर्ग ने

फेसबुक फाउंडर मार्क जकरबर्ग ने कहा कि उन्हें भारत के भविष्य में काफी भरोसा है, इसलिए उन्होंने भारत में निवेश किया है. जकरबर्ग ने कहा कि जियो ने भारत के करोड़ों लोगों को इंटरनेट का फायदा पहुंचाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभायी है 

जकरबर्ग ने कहा, 'पीएम मोदी के डिजिटल इंडिया विजन ने इंडस्ट्री के लिए असीम अवसर उपलब्ध किये हैं जिसके द्वारा देश में टेक्नोलॉजी के विकास के लिए इंडस्ट्री सरकार के साथ सहयोग कर पा रही है.' 

जियो प्लेटफार्म्स  में हिस्सेदारी

गौरतलब है कि रिलायंस जियो प्लेटफार्म्स (Reliance Jio Platforms) को फेसबुक से कंपनी में 9.99 फीसदी हिस्सेदारी के लिए 43,574 करोड़ रुपये मिले हैं. कंपनी की ​सब्सिडियरी जियो प्लेटफार्म्स लिमिटेड को फेसबुक की पूर्ण स्वामित्व वाली सब्सिडियरी जाधू होल्डिंग्स, एलएलसी (Jaadhu Holdings) से 43,574 करोड़ रुपये की राशि मिली है. फेसबुक ने जियो प्लेटफार्म्स में 4.62 लाख करोड़ रुपये के एंटरप्राइज वैल्यू पर 9.99 फीसदी हिस्सेदारी ली है.

इस सौदे के द्वारा जहां फेसबुक ने भारत में पहली बार किसी किसी बड़ी कंपनी में निवेश किया. वहीं जियो इससे फेसबुक और वॉट्सऐप के सहारे देश के करीब 6 करोड़ छोटे दुकानदारों तक पैठ बना सकेगी. इसे भारत में फेसबुक की पैठ और बढ़ेगी. पिछले पांच साल में भारत में 56 करोड़ लोगों तक इंटरनेट की पहुंच हुई है और जियो के अपने नेटवर्क में ही 38.8 करोड़ उपभोक्ता हैं.