भारत: गणतंत्र दिवस पर मुख्य अतिथि होंगे ब्रिटेन के पीएम बोरिस जॉनसन, स्वीकार किया न्यौता

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस परेड में मुख्य अतिथि होने के लिए अपने भारतीय समकक्ष प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के निमंत्रण को स्वीकार कर लिया है


ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस परेड में मुख्य अतिथि होने के लिए अपने भारतीय समकक्ष प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के निमंत्रण को स्वीकार कर लिया है, डाउनिंग स्ट्रीट ने मंगलवार को कहा कि जॉनसन पिछले साल पद ग्रहण करने के बाद से अपनी पहली प्रमुख द्विपक्षीय यात्रा के लिए पहली बार यूरोपीय संघ ब्रिटेन से बाहर निकलेंगे. 

भारत को इंडो पेसेफिक क्षेत्र में एक प्रमुख खिलाड़ी के रूप में बताते हुए जॉनसन ने मंगलवार को कहा कि उनकी यात्रा रोमांचक वर्ष की शुरुआत को चिन्हित करेगी और द्विपक्षीय संबंधों में छलांग देगी. डाउनिंग स्ट्रीट ने कहा कि इस यात्रा के दौरान दोनों पक्षों का ध्यान व्यापार और निवेश, रक्षा और सुरक्षा, स्वास्थ्य और जलवायु परिवर्तन पर केंद्रित रहेगा. 

जॉनसन ने कहा कि ब्रिटेन के लिए एक रोमांचक वर्ष की शुरुआत में अगले साल भारत आने पर मुझे खुशी हो रही है, हम हमारे द्विपक्षीय संबंधों को विस्तार देने के लिए तत्पर हैं, प्रधानमंत्री मोदी और मैंने इसका संकल्प लिया है. उन्होंने कहा कि इंडो-पेसिफिक क्षेत्र में एक प्रमुख खिलाड़ी के रूप में, भारत यूनाइटेड किंगडम के लिए एक साझेदार है क्योंकि हम नौकरियों और विकास को बढ़ावा देने के लिए काम करते हैं, हम सुरक्षा के लिए साझा खतरों का सामना करते हैं.

हालांकि, यात्रा का पूरा कार्यक्रम समय नजदीक आने के बाद ही पता चलेगा. फिलहाल, ब्रिटेन के प्रधानमंत्री को 26 जनवरी, 2021 के गणतंत्र दिवस समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में आने की पुष्टि की गई है, पिछले महीने एक फोन कॉल के दौरान पीएम मोदी द्वारा उन्हें दिए गए औपचारिक निमंत्रण के बाद ही ये पुष्टि हुई है.

बता दें कि जॉनसन 1993 में पूर्व प्रधानमंत्री जॉन मेजर के बाद नई दिल्ली में वार्षिक गणतंत्र दिवस परेड में भाग लेने वाले दूसरे ब्रिटिश नेता होंगे.