होटल मालिक की बढ़ी मुश्किलें,शुक्रवार को स्विमिंग पूल में डूबने से हुई थी दो युवकों की मौत

होटल मालिक की बढ़़ी मुश्किलें,
शुक्रवार को स्विमिंग पूल में डूबने से हुई थी दो युवकों की मौत


 पटौदी। दीप होटल के मालिक की मुश्किलें कम होने के बजाय बढ़ गई है । शुक्रवार को होटल के स्विमिंग पूल में दो युवकों की डूब कर मौत हो गई थी। युवकों की मौत के बाद मरने वाले में से एक के भाई की शिकायत पर पटौदी पुलिस ने दीप होटल के मालिक कुलदीप के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है । शुक्रवार को दीप होटल के स्विमिंग पूल में जाटोली के रहने वाले राजेश पूत्र जय भगवान और शेर सिंह पुत्र बनवारी की डूब कर मौत हो गई थी । पुलिस में दी गई तहरीर पर दर्ज किए गए मुकदमे के मुताबिक दिनेश पुत्र जय भगवान ने तहरीर दी कि शुक्रवार को उसका भाई राजेश पुत्र जय भगवान, शेर सिंह पुत्र बनवारी लाल, भजनलाल पुत्र हरिराम, मेहर चंद पुत्र छुटन्न वार्ड 13 जाटोली के निवासी दीप होल में खाना खाने के लिए गए थे।इसी दौरान लगभग 11 बजे सूचना मिली कि उसके भाई राजेश और शेर सिंह की दीप होटल के स्विमिंग पूल में डूबने के कारण मौत हो गई है।इसके बाद जब दीप होटल पहुंचा तो वहां स्विमिंग पूल के किनारे दो लोगों को मृत हालत देखा गया। इन दोनों की पहचान राजेश पुत्र भगवान और शेर सिंह पुत्र बनवारी लाल के रूप में गई । स्विमिंग पूल में डूब कर मरने वाले राजेश के भाई दिनेश के मुताबिक जब वह होटल परिसर में पहुंचा तो वहां पर मौजूद भजनलाल और मेहर चंद के ने बताया कि होटल मालिक कुलदीप के द्वारा बताया गया कि यहां स्विमिंग पूल में तैराकी करना भी सिखाया जाता है और इसके लिए प्रशिक्षक सहित सभी सुरक्षा के इंतजाम भी मौजूद हैं। तैराकी सीखने के लिए मेंबरशिप लेनी होगी।प्रशिक्षक की देखरेख सहित हर प्रकार की सुरक्षा व्यवस्था के बीच में स्विमिंग करना सिखाया जाएगा। यह बात सुनकर भजन लाल पुत्र हरिराम और मेहर चंद पुत्र छोटेलाल वही होटल परिसर में ही बैठकर चाय पीने लगे और होटल मालिक कुलदीप की बातों पर भरोसा करके राजेश और शेर सिंह होटल के स्विमिंग पूल में नहाने के लिए चले गए ।आरोप है उस समय मौके पर कोई भी प्रशिक्षक तथा किसी भी प्रकार की सुरक्षा व्यवस्था मौजूद नहीं थी । स्विमिंग पूल में जाने के बाद अचानक राजेश और शेर सिंह डूबने लगे और अपने बचाव के लिए छटपटाते रहे , लेकिन वहां पर इन दोनों को बचाने के लिए होटल और स्विमिंग फूल का कोई भी कर्मचारी मौजूद ही नहीं था।यही कारण रहा कि दोनों की स्विमिंग पूल में डूबने से मौत हो गई । एक बात गौर करने वाली है की होटल परिसर में बने हुए हट और स्विमिंग पूल के पास में सीसीटीवी कैमरा भी लगा हुआ है। अब यह पुलिस जांच का विषय है कि सीसीटीवी कैमरे घटना के समय काम कर रहे थे या फिर सीसीटीवी कैमरे बंद पड़े हुए थे । दिनेश पुत्र जय भगवान निवासी जाटोली के द्वारा पुलिस में दर्ज शिकायत में आरोप लगाया गया है कि दीप होटल परिसर में बने स्विमिंग पूल और यहां स्विमिंग सिखाने के लिए होटल मालिक कुलदीप के द्वारा स्थानीय स्वशासन विभाग, जिला प्रशासन सहित अन्य संबंधित विभागों के द्वारा मंजूरी नहीं ली गई है। कथित रूप से होटल के साथ-साथ यहां पर बनाया गया स्विमिंग पूल भी कथित रूप से अवैध ही है। होटल के नाम का साइन बोर्ड बिलासपुर पटौदी हेली मंडी कुलाना बेहद व्यस्त रहने वाले सड़क मार्ग के किनारे पर आम लोगों को आकर्षित करने के साथ-साथ होटल में एसी और नॉन एसी कमरे की सुविधा के प्रति आकर्षित करने के लिए लगाया गया है । जबकि हकीकत में प्रचार के मुताबिक ऐसा सुविधा संपन्न होटल किसी भी नजरिए से दिखाई ही नहीं देता है । पुलिस में दी गई तहरीर में दिनेश पुत्र जय भगवान ने आरोप लगाया गया है कि यहां स्विमिंग पूल में होटल मालिक की लापरवाही के कारण ही राजेश और शेर सिंह की स्विमिंग पूल में डूबने के कारण मौत हुई है। इस मामले में पीड़ित पक्ष की मांग है कि पुलिस इस बात की भी तत्काल जांच करें कि क्या वास्तव में सीसीटीवी होटल में काम भी कर रहे हैं या फिर इन्हें केवल दिखावे के लिए ही लगाया हुआ है । पटौदी पुलिस ने मामले में मुकदमा दर्ज कर अपनी जांच पड़ताल शुरू कर दी है।

ट्रेंडिंग