संपादक

राष्ट्रपति पर असहमति की जिद
राष्ट्रपति भवन और सत्तारूढ़ एनडीए के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद ने कमोबेश विपक्षी एकता की संभावनाओं को बिखेर कर रख दिया है। विपक्षी खेमे में नीतीश कुमार, नवीन पटनायक, चंद्रशेखर, तमिलनाडु के नेता आदि परंपरागत रूप से और वैचारिक आधार पर प्रधानमंत्री मोदी और भाजपा के विरोधी रहे हैं, लेकिन राष्ट्रपति पर आम सहमति के भाव के मद्देनजर उनके दलों से एनडीए उम्मीदवार कोविंद को समर्थन देने की खबरें आ रही हैं।
 
कर्ज माफी की होड
कांग्रेस को नारा चाहिए था कि जो कहते हैं वो करते हैं। साथ ही जब देशभर के किसान उद्वेलित और आंदोलित हैं, पार्टी खुद को किसानों की हितैषी भी दिखाना चाहती है। तो पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने उसे इन दोनों मुद्दों पर कुछ कहने को दे दिया है।
 
हमेशा दबे-कुचलों की बुलंद आवाज रहे हैं रामनाथ कोविंद
दलित-शोषित समाज की आवाज बुलंद करके भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में ऊंचा मुकाम हासिल करने वाले रामनाथ कोविंद को भाजपा-नीत राजग ने राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाकर एक 'मास्टर स्ट्रोक' खेला है। ऐसा इसलिये, क्योंकि ज्यादातर विपक्षी दल देश के सर्वोच्च संवैधानिक पद पर किसी दलित को बैठाने का विरोध नहीं करना चाहेंगे।
 
सहमति का अजीब तरीका
भारतीय जनता पार्टी ने नए राष्ट्रपति के नाम पर सहमति बनाने का अजीब तरीका अपनाया। बिना खुद कोई नाम तय किए उसके प्रतिनिधियों ने दूसरे दलों से संपर्क साधे। इनमें सत्ताधारी राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) के घटक और विपक्षी दल दोनों शामिल हैं।
 
पासपोर्ट बनवाने के लिए दूर नहीं जाना होगा
देश में 149 नए डाकघर पासपोर्ट सेवा केंद्र बनाए जाएंगे। हरियाणा के सात जिलों में डाकघर पासपोर्ट सेवा केंद्र खोलने का फैसला किया गया है। भिवानी,कैथल, नारनौल, पानीपत, रोहतक, सोनीपत और यमुनानगर में यह केंद्र खोले जाएंगे। हरियाणा के लिए यह बड़ा तोहफा है। इससे पासपोर्ट बनवाने के लिए क्षेत्रीय नागरिकों को बड़ी सुविधा मिलेगी।
 
कलाम की तरह पीपुल्स प्रेसिडेंट चाहिए
राष्ट्रपति चुनाव के लिए दुंदुभि बज चुकी है। रायसीना हिल पर कौन पहुंचेगा अभी ये रहस्य बना हुआ है। शायद तब तक बना रहेगा जब तक एनडीए की ओर से नामांकन की घोषणा न हो जाये। कयास,अटकलों के बीच भाजपा के नेता व केंद्र सरकार के वरिष्ठ मंत्री विरोधी दलों के नेताओं से मिल रहे हैं।
 
फिल्म जगत की ब्यूटी क्वीन थी नसीम बानो
भारतीय सिनेमा जगत में अपनी दिलकश अदाओं से दर्शकों को दीवाना बनाने वाली ना जाने कितनी अभिनेत्रियां हुयीं लेकिन चालीस के दशक में एक ऐसी अभिनेत्री भी हुयी जिसे ब्यूटी क्वीन कहा जाता था और आज के सिने प्रेमी उसे नहीं जानते वह थीं नसीम बानो। 04 जुलाई 1916 को जन्मीं नसीम बानो की परवरिश शाही ढंग से हुयी थी और वह स्कूल पढऩे के लिये पालकी से जाती थीं।
 
आस्तीन के कश्मीरी सांप!
चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल में भारत और पाकिस्तान की क्रिकेट टीमें आमने-सामनेज् बेशक जंग के मैदान सरीखा एहसास होगा। वैसी ही उत्तेजना और तनावज्एक टीम चैंपियन बनेगी, तो दूसरी टीम उपविजेता रहेगी। ऐसा सुपरहिट फाइनल 10 सालों के बाद खेला जा रहा है। 2007 में टी-20 के विश्व कप फाइनल में भारत-पाक भिड़ंत हुई थी और भारत ने पाकिस्तान को करारी शिकस्त दी थी। बहरहाल मौजूदा चैंपियंस ट्रॉफी मुकाबलों में दोनों टीमों के खेल की उपलब्धियां नायाब रही हैं।
 
माल्या की इतनी हिम्मत!
अब यह साफ है कि विजय माल्या का इंग्लैंड से प्रत्यार्पण अगले दिसंबर तक नहीं होगा। प्रत्यर्पण की भारत की अर्जी पर सुनवाई 4 दिसंबर तक टाल गई है। उस दिन से शुरू होकर सुनवाई दो हफ्ते चलेगी। इसके पहले सामान्य अदालती कार्यवाही चलेगी, जिसमें 6 जुलाई को माल्या की कोर्ट में पेशी शामिल है।
 
शहनाई तो बजेगी,बाराती थिरकेंगे भी,लेकिन शराब नहीं पी पायेंग
उत्तर प्रदेश के इटावा मे यमुना नदी के किनारे बसे धूमनपुरा गांव की एक शादी में शहनाई तो बजेगी, बाराती थिरकेंगे भी, लेकिन शराब नहीं पी पायेंगे। इसके लिये विवाह के निमंत्रण कार्ड पर साफ तौर से छपवा दिया है कि शादी में शराब पीना सख्त मना है। गांव के एक राजपूत परिवार ने अपने नाती की शादी मे शराब के सेवन को पूरी तरह से प्रतिबंधित कर दिया है। इस निर्णय की हर ओर चर्चा है।
 
ट्रंप से मुलाकात, मोदी के लिए मौका
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अपना कार्यभार संभालने के बाद पहली बार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से 26 जून को मुलाकात करेंगे। भारतीय विदेश मंत्रालय ने कहा है कि प्रधानमंत्री की अगली अमेरिका यात्रा मोदी-ट्रंप के बीच द्विपक्षीय संबंधों को नई दिशा प्रदान करेगी। बेशक मोदी के लिए यह बहुत बड़ा मौका है।
 
राजस्थान में सौर ऊर्जा की विपुल सभांवना
केंद्रीय ऊर्जा मंत्री पीयुष गोयल ने राजस्थान में सौर ऊर्जा वितरण के प्रभार को समाह्रश्वत करने पर बल देते हुये कहा कि इससे प्रदेश में निवेश बढऩे की विपुल संभावना है। श्री गोयल ने आज विडियों कान्फ्रेंङ्क्षसग के जरिये पत्रकारों से बातचीत करते हुये कहा कि राजस्थान में सौर ऊर्जा में निवेश बढ़ाने के लिये जरूरी है कि राज्य सरकार इस पर लगाये गये प्रभार को समाह्रश्वत करें तो इसमें देशी विदेशी निवेश में ओर अधिक बढोतरी हो सकती है।
 
सियासी होड़ का नतीजा
पश्चिम बंगाल सरकार को ख्याल रखना चाहिए था कि गोरखालैंड पर्वतीय प्रशासन (जीटीए) क्षेत्र में भाषा संवेदनशील मुद्दा है। वहां के लोग नेपाली-भाषी हैं और खुद को बांग्ला के बजाय हिंदी के ज्यादा करीब समझते हैं। ऐसे में वहां के स्कूलों में भी दसवीं कक्षा तक बांग्ला को अनिवार्य बनाने का फैसला लेने से पहले ममता बनर्जी सरकार को सतर्कता बरतनी चाहिए थी।
 
पश्चिम एशिया में टकराव
तेहरान में संसद भवन और अयातुल्लाह खुमैनी की मजार पर हुए हमलों की जिम्मेदारी इस्लामिक स्टेट (आईएस) ने ली। लेकिन ईरान ने सीधे इसे इसी रूप में स्वीकार करने से इनकार कर दिया। ईरान के विशेष रिवोल्यूशनरी गार्ड ने इन आतंकवादी हमलों के लिए सऊदी अरब और अमेरिका को जिम्मेदार ठहराया। हाल में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप की सऊदी अरब यात्रा का जिक्र किया।
 
अब साईबाबा की चरण रज से महकेगा घर आंगन
भारत समेत दुनिया के तमाम देशों में बसे करोडो साई भक्तों के घर आंगन को अब बाबा की चरण रज की सुगंध से महकेंगे। शिरडी स्थित श्री साईबाबा संस्थान ट्रस्ट की प्रबंध समिति ने साई बाबा की समाधि पर श्रद्धालुओं द्वारा चढाने वाले गुलाब के फूलों से अगरबत्ती बनाने का फैसला किया है।
 
रिर्जव बैंक: अब स्वायत्ता जताने की जुगत
भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के गवर्नर उर्जित पटेल के वचन और कर्म दोनों से संकेत ग्रहण किया गया है कि आरबीआई फिर से अपनी स्वायत्तता जताने की कोशिश में है।
 
अब मगरमच्छों का आतंक से खौफजदा है चंबल घाटी
कभी खूंखार डाकुओं की शरणस्थली के तौर पर कुख्यात चंबल घाटी में इन दिनो मगरमच्छ के आतंक से खौफजदा है। घडियाल,मगरमच्छ और डाल्फिन जैसे हजारों दुर्लभ जलचरो के संरक्षित करने मे जुटी चंबल नदी मे पाये जाने वाले मगरमच्छ अब नरभक्षी हो चुके है ।
 
अंतरिक्ष में भारतीय बाहुबली
भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) की कामयाबियां लगातार देशवासियों के लिए फख्र का मौका बनी है। हाल में ऐसे गर्व अवसर इतनी बार आए हैं कि अब इसरो की असाधारण सफलताओं पर किसी को आश्चर्य नहीं होता। ऐसी असामान्य सफलता उसने सोमवार को पाई। उसके साथ ही वह भारत की प्रतिष्ठा को एक नई ऊंचाई पर ले गया।
 
लड़ाकू भूमिका में महिलाए
थल सेनाध्यक्ष जनरल बिपिन रावत ने एलान किया है कि जल्द ही महिलाओं को कॉम्बैट रोल (लड़ाकू भूमिका) दिया जाएगा। भारत में ऐसी एक बड़ी पहल कुछ वर्ष पहले हुई, जब वायु सेना में महिलाओं को लड़ाकू भूमिका दी गई। तीन लड़ाकू पायलट फिलहाल वहां हैं। कहा गया है कि ये प्रयोग सफल रहा, तो कॉम्बैट रोल वाली महिलाओं की संख्या वायु सेना में बढ़ाई जाएगी।
 
फ्रांस से नई प्रगाढ़ता
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की फ्रांस यात्रा जलवायु परिवर्तन रोकने की पेरिस संधि को लेकर पैदा हुई नई चुनौतियों के बीच हुई। यह चुनौती इस संधि से अमेरिका के हटने से खड़ी हुई है। चूंकि अमेरिका सबसे ज्यादा कार्बन उत्सर्जन करने वाले देशों में है, अत: उसके हटने से इस संधि का औचित्य संदिग्ध हो गया है।
 
previous123456789next