स्वास्थ्य

आयुर्वेद के 733 छात्रों ने एक साथ नस्य कर्म कर बनाया विश्व रिकॉर्ड
नई दिल्ली राष्ट्रीय आयुर्वेद संस्थान में पंचकर्म की एक विधि नस्य क्रिया को 733 छात्रों एवं चिकित्सकों ने सात मिनट कर गिनीज बुक ऑफ वल्र्ड रिकार्ड में अपना नाम दर्ज कराया है। इस कार्यक्रम में देश भर की आयुर्वेदिक संस्थानों से जुड़े हजारों छात्र-छात्राओं एवं चिकित्सकों ने हिस्सा लिया।
 
चिकित्सक मरीजों को जेनेरिक दवाएं की लिखे-राव
भोपालत्न राज्यपाल के प्रमुख सचिव तथा मध्यप्रदेश रेडक्रास सोसायटी के चेयरमेन डॉ. एम.मोहन राव ने रेडक्रास चिकित्सालय को निर्देश दिये है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की मंशा के अनुरूप मरीजों को जेनेरिक दवाओं का अधिकाधिक उपयोग करने की सलाह दें। आधिकारिक जानकारी के अनुसार डॉ. राव ने रेडक्रास चिकित्सालय के चिकित्सकों से कहा है कि मरीजों को स्वास्थ्य सुविधाओं का भरपूर लाभ दिया जाना सुनिश्चित करें।साथ ही, मरीजों को त्वरित स्वास्थ्य लाभ के लिये जेनेरिक दवाइयाँ लिखें।
 
महज मेवा नहीं समझें अखरोट को, यह पहुंचाता है कई फायदे
जाजहिंदी, कवसिंग, अकोड, अक्षोट और चारमगज विभिन्न भाषाओं में अखरोट के ही नाम हैं। यूग्लांदासी परिवार के सदस्य अखरोट का वानस्पतिक नाम यूग्लांस रेजिआ लिनिअस है। अखरोट एक पर्णपाती वृक्ष है जिसकी ऊंचाई लगभग 30-35 मीटर तक हो जाती है।
 
एसएलसीसी बनाने की सरकार से मिली मंजूरी
चंडीगढ़ हरियाणा सरकार ने तंबाकू मुक्त प्रदेश बनाने की दिशा में कदम बढ़ाते हुए राज्य स्तरीय समन्वय समिति (एसएलसीसी) बनाने की स्वीकृति प्रदान की है जोकि प्रदेश में तम्बाकू नियंत्रण गतिविधियों के कार्यान्वयन, निगरानी और मूल्यांकन के लिए नोडल कमेटी होगी। इसीप्रकार, सभी जिलों में तम्बाकू नियंत्रण गतिविधियों की निगरानी के लिए जिला स्तरीय समन्वय समितियां (डीएलसीसी) बनाई जाएंगी।
 
टीबी खत्म करने में भारत की मदद करेगा डब्ल्यूएचओ
विश्‍व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के मुताबिक भारत 2025 तक क्षयरोग (टीबी) को जड़ से खत्म करने के लिए प्रतिबद्ध है जिसमें डब्ल्यूएचओ उसकी मदद करेगा। इस लक्ष्य को पाने में वह भारत सरकार के साथ मिलकर इस जानलेवा बीमारी से लडऩे के लिए नीतियां विकसित करेगा।
 
सृष्टि कौर करेगी युवाओं को कैंसर के प्रति जागरूक
नई दिल्ली देश मे भयावह हो रही बीमारी, कैंसर के प्रति लोगो को खासकर युवाओं को जागरूक करने के लिए गैर लाभकारी संस्था इंडियन कैंसर सोसाइटी ने मिस यूनिवर्स (टीन) सृष्टि कौर को अपना ब्रांड एम्बेसडर नियुक्त किया। इंडियन कैंसर सोसाइटी ने सोमवार को दिल्ली के इंडिया इंटरनेशनल सेंटर मे सृष्टि कौर के साथ युवाओ के लिए एक इंटरैक्टिव सेशन ‘दि ग्रेट कैंसर डिबेट’ का भी आयोजन किया था जिसमे बढ़-चढक़र युवाओं ने हिस्सा लिया और सृष्टि एवं उपस्थित एक्सपर्ट के साथ इस बीमारी के बिभिन्न पहलुओं पर खुलकर बात की।
 
स्वास्थ्य केन्द्रों को ऑनलाइन ई-उपचार से जुड़ा जाएगा
चंडीगढ़ हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कहा कि प्रदेश के 27 स्वास्थ्य केन्द्रों को ऑनलाइन ई-उपचार के माध्यम से जोडऩे की प्रक्रिया शीघ्र पूरी की जाएगी। इसके तहत अभी तक राज्य के 22 चिकित्सा संस्थानों को इस सुविधा से जोड़ा जा चुका है, इस पूरे प्रौजेक्ट पर करीब 128 करोड़ रुपये खर्च होंगे।
 
खुले में शौच मुक्त हुआ करनाल शहर
चंडीगढ़ हरियाणा के करनाल ने अब शहरी क्षेत्र को खुले में शौच से शत प्रतिशत मुक्त करके एक और उपलब्धि अपने नाम कर ली है। भारत सरकार के आवास एवं शहरी मामले मंत्रालय की ओर से थर्ड पार्टी इंस्पैक्शन के तहत सी.पी. डब्ल्यू.डी. की टीम ने करनाल शहर का दौरा कर इसे खुले में शौचमुक्त होने का प्रमाण-पत्र जारी कर दिया है।
 
कैंसर पीडि़त पूनम का मेदांता अस्पताल में इलाज शुरू
चंडीगढ़त्नमेदांता अस्पताल ने सोमवार को पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट को बताया कि उसने पूनम नाम की कैंसर पीडि़त लडक़ी का इलाज शुरू कर दिया है। इस बाबत मेदांता अस्पताल के वकील ने हाईकोर्ट को एक इलाज की पर्ची भी कोर्ट को दिखाई। मेदांता अस्पताल के इस जवाब पर पीडि़त लडक़ी के वकील ने कोर्ट को बताया कि उसकी केवल पर्ची काटी गई है इलाज शुरू नही किया गया।
 
पौधारोपण से पर्यावरण में होगा सुधार
गुरुग्राम द्रोणाचार्य इंजीनियरिंग कालेज के विभिन्न विभागाध्यक्षों का कहना है कि इस वर्ष मानसून के दौरान गुरुग्राम विधायक उमेश अग्रवाल के नेतृत्व में दस लाख पौधे लगाने के चलाए गए ‘हरित गुरुग्राम-एक प्रयास 2017’ पौधारोपण अभियान से निश्चय ही गुरुग्राम के पर्यावरण में सुधार होगा। इस अभियान से आम लोगों में पौधारोपण के प्रति जो जागरुकता आई है उससे यह भी माना जाता है कि आने वाले वर्षों में ज्यादा से ज्यादा लोग पौधे लगाने में अपना सक्रिय योगदान देंगे। द्रोणाचार्य इंजीनियरिंग कालेज परिसर में आयोजित पौधारोपण कार्यक्रयम में बोलते हुए कालेज प्राचार्य प्रो. (डॉ.) बी.एम. के प्रसाद, डीन प्रो. (डॉ.) श्री किशन यादव, प्रो. एस के यादव व रजिस्ट्रार ब्रिगेडियर आरएस कोचर ने कहा कि वर्तमान में पौधारोपण से बढक़र कोई सामाजिक कार्य नहीं है। विधायक उमेश अग्रवाल के नेतृत्व में जल-वायु संरक्षण समिति ने पूरे गुरुग्राम में पौधारोपण के लिए एक आंदोलन खड़ा कर दिया है।
 
25 मिनट योग से मस्तिष्क होगा दुरुस्त
केवल 25 मिनट के लिए माइंडफुलनेस मेडिटेशन के साथ रोजाना हठ योग ( आसन, प्राणायाम और ध्यान का एक संयोजन) करने से मस्तिष्क तंत्र के क्रियान्वयन व ऊर्जा स्तर में काफी सुधार हो सकता है।
 
उत्तर भारत में सौ लोगों में से एक सिलियैक का रोगी
नई दिल्ली सिलियैक रोग एक वैश्विक बीमारी है और विश्व की आबादी का लगभग 0.7 प्रतिशत हिस्सा इससे प्रभावित है। भारत में 60 से 80 लाख लोग इस बीमारी से पीडि़त होने का अनुमान है, और उत्तर भारतीय समुदाय में इसका प्रसार हर 100 लोगों के बीच किसी एक में है।
 
नशीलें पदार्थो के दुष्प्रभाव पर जागरूकता सेमीनार
गुरुग्राम ग बाल भवन सेक्टर 4 में नशीलें पदार्थो के दुष्प्रभाव पर जागरूकता सेमीनार का आयोजन खेल एवं युवा कार्यक्रम विभाग, हरियाणा के द्वारा आयोजित किया गया। सेमिनार में लगभग 220 युवक एवं युवतियों के द्वारा हिस्सा लिया गया। इस सेमिनार में समाज के युवक एवं युवतियों को नषे के खिलाफ होने वाले दुष्प्रभाव से अवगत करवाया गया। युवक एवं युवतियों को विभिन्न प्रकार के नशीलें पदार्थो से दूर रहने के लिए प्रेरित किया गया। इस सेमिनार में भाग लेंने वाले सभी प्रतिभागियों के लिए जलपान का प्रबंध किया गया। इस अवसर पर जिला एवं युवा कार्यक्रम अधिकारी गुरूग्राम परस राम, वाईसीओ सतीष कोषिक, वाईसीओ सुनीता सूध, योग प्रशिक्षका पूनम बिमरा, जुडो प्रशिक्षक महेन्द्र सिंह, हैंडबॉल प्रशिक्षक विजय कुमार व अन्य उपस्थित रहे।
 
डॉक्सऐप पर रात्रिकालीन बाल रोग विशेषज्ञ परामर्श की बढ़ती मांग
नई दिल्ली त्नचैट आधारित हेल्थकेयर ह्रश्वलेटफार्म डॉक्सऐप ने नवजातों, बच्चों एवं किशारों की स्वास्थ्य जरूरतों को ध्यान में रखते हुए शुरू की गयी रात्रिकालीन बाल रोग विशेषज्ञ परामर्श सेवा मांग दिन ब दिन बढ़ती जा रही है।
 
कई और बड़े परिसरों में शुरू होगा पौधारोपण
जल-वायु संरक्षण समिति के संरक्षक एवं विधायक उमेश अग्रवाल के नेतृत्व में चल रहे हरित गुरुग्राम-एक प्रयास 2017 अभियान के तहत विभिन्न क्षेत्रों में पौधारोपण जारी है। सोमवार से कई और बड़े परिसरों व भूखण्डों पर पौधारोपण शुरु होगा। जिन बड़े भूखण्डों पर आने वाले सप्ताह में पौधारोपण शुरु होगा उनमें जेल परिसर भौंडसी, वाटर ट्रीटमेंट ह्रश्वलांट बुढेड़ा व सीवर ट्रीटमेंट ह्रश्वलांट धनवापुर शामिल हैं।
 
गरीब रोगियों को शल्य चिकित्सा जैसी महंगी सेवाएं मिलेगी : मुख्यमंत्री
चंडीगढ़ हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने गरीब रोगियों को शल्य चिकित्सा जैसी महंगी सेवाएं मुहैया करवाने के लिए घोषणा की कि प्रदेश सरकार द्वारा जल्दी ही चिकित्सा बीमा योजना आरंभ की जाएगी। इस योजना के लिए प्रदेश में एक अगस्त से सर्वे का काम शुरू हो जाएगा।
 
सेवारत पशु चिकित्सकों के लिए नीति स्वीकृत
चंडीगढ़ हरियाणा सरकार ने पशुपालन एवं डेयरी विभाग में वर्ष 2017-18 के लिए विभाग के सेवारत पशु चिकित्सकों के लिए उच्चत्तर अध्ययन कार्यक्रम के लिए एक नीति स्वीकृत की है। इस नीति के तहत सेवारत पशु चिकित्सकों से उच्चत्तर अध्ययन कार्यक्रम के लिए निर्धारित मानदंडों को पूरा करने वाले इच्छुक उम्मीदवारों से आवेदन आमंत्रित किये गए हैं।
 
युवाओं में बढ़ता हैड नेक कैंसर का खतरा
नई दिल्ली देशभर में प्रतिवर्ष दस लाख से अधिक मुख और गले के कैंसर रोगी सामने आ रहे है, और जिनमें से 50 प्रतिशत की मौत बीमारी की पहचान के अंतराल में ही हो जाती है। इसमें युवा अवस्था में होने वाली मौतों का कारण भी मुंह व गले का कैंसर मुख्य है। हालांकि पूरी दुनियंाभर में विश्व गला व सिर कैंसर दिवस आज ही के दिन मनाया जा रहा है देश के 96 प्रतिशत युवा आबादी जानती है कि चबाने वाले तंबाकू उत्पाद ही गंभीर बीमारियेां (कैंसर) का कारण बनते है।
 
मानव जीवन का अस्तित्व हैं पेड़-पौधे: गोयल
पिंजौर वृक्ष हमारी धार्मिक आस्था के भी प्रतीक हैं, यही कारण है कि हामरे ऋषि मुनियों एवं पूर्वजों ने प्राचीन ग्रंथों में पौधों का काफी गुणगान किया है। हमारे शास्त्रों में वर्णित है कि पौधों के पत्तों से देवताओं, फलों से पित्रों तथा छाया से अतिथि की सेवा होती है।
 
कैसे रुके आबादी, जब स्वास्थ्य केन्द्रों में नहीं नसबंदी की सुविधा
नई दिल्ली नियंत्रक एंव महालेखा परीक्षक (कैग) ने सरकार के जनसंख्या नियंत्रण के उपायों की पोल खोलते हुए कहा है कि देश के चौदह राज्यों के 300 सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों में से 40 फीसदी में पुरुष या महिला नसबंदी की कोई सुविधा उपलब्ध नहीं है। कैग ने स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के राष्ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ्य मिशन के तहत प्रजनन और शिशु स्वास्थ्य सुविधाओं के संबंध में 2012 से 2017 की अवधि में की गई जांच पर संसद में पेश रिपोर्ट में यह खुलासा किया है।