अन्तरराष्ट्रीय

चीन में येंग्त्जे नदी को प्रदूषित करने के मामले में 11 लोग हिरासत में
शंघाई त्न चीन के ङ्क्षजग्सू प्रांत में येंग्त्जे नदी में 2900 टन से भी अधिक कूड़ा करकट डालने के मामले में 11 लोगों को हिरासत में लिया गया है। चीन की सरकारी समाचार एजेंसी शिन्हुआ की रिपोर्ट के मुताबिक ठेके पर काम करने वाली दो फर्मों ने घरेलू कूड़ा करकट इस माह की शुरुआत में डाला था। रिपोर्ट के मुताबिक चीन ने प्रदूषण के खिलाफ अभियान छेड़ रखा है ,हालांकि अधिकारियों ने इस दिशा में और अधिक बल देने की जरुरत बतायी है। पर्यावरण मंत्रालय द्वारा पिछले महीने जारी आंकड़ों के मुताबिक वर्ष 2015 में 1850 लाख टन घरेलू कचरा और एक अरब 91 लाख टन औद्यागिक कचरा निकाला गया था।
 
जापान युद्ध जैसे अत्याचारों को नहीं दोहरायेगा: आबे
टोक्यो त्न जापान के प्रधानमंत्री ङ्क्षशजो आबे ने आज कहा कि अमेरिका के पर्ल हार्बर की अपनी यात्रा के दौरान वह दुनिया को यह संदेश देना चाहते हैं कि जापान युद्ध जैसे अत्याचारों की पुनरावृत्ति नहीं करेगा। अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा की हिरोशिमा यात्रा के सात माह बाद श्री आबे अब पर्ल हार्बर में श्रद्धांजलि देंगे। पर्ल हार्बर पर जापानी हमले से दूसरे विश्व युद्ध की शुरुआत हुई थी। जापान के हिरोशिमा में अमेरिका ने परमाणु बम गिराया था जिसके बाद युद्ध का अंत हो गया था।श्री आबे ने जापानी बिजनेस लॉबी को संबोधित करते हुए कहा कि दुनिया में विभिन्न समस्याओं से निपटने के लिए जापान और अमेरिका का गठबंधन एक नयी उम्मीद है। उन्होंने कहा,Þमुझे उम्मीद है कि यह यात्रा ऐतिहासिक होगी।Þ
 
एनएससीएन के दो कार्यकर्ता गिरफ्तार
कोहिमा त्न अरूणाचल के छांगलांग जिले के नामपोंग क्षेत्र में कल असम राइफल्स ने एनएससीएन खापलांग गुट के दो कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया। आज यहां जारी एक रक्षा विज्ञप्ति में बताया गया कि इस क्षेत्र के खामलाकी गांव में एनएससीएन खापलांग गुट के दो कार्यकर्ताओं के जबरन वसूली और आतंक फैलाने की सूचना मिलने के बाद जयरामपुर बटालियन की डीएओ डिवीजन ने घेराबंदी कर दोनों को दबोचने में सफलता हासिल की।इनके पास से कुछ हथियार और गोला बारूद बरामद हुआ है।पूछताछ में दोनों ने स्वीकार किया कि वे इसी गुट के सदस्य हैं और उनकी ट्रेनिंग म्यांमार में हुई है।ये दोनों जबरन वसूली में काफी समय से लिप्त थे।विज्ञप्ति में बताया गया कि इनकी गिरफ्तारी से स्थानीय लोगों को बहुत राहत मिली है और असम राइफल्स ने एक बार फिर अपने आदर्श वाक्य फै डं स् आफ नार्थ इस्ट को चरितार्थ कर दिखाया है।
 
एफबीआई ने दी अमेरिका में आईएस हमले की चेतावनी
वाङ्क्षशगटनत्न अमेरिकी संघीय अधिकारियों ने स्थानीय कानून प्रवर्तन विभाग को सचेत किया है कि आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट के समर्थक देश में गिरजाघरों समेत छुट्टियों के दौरान घूमने की जगहों को निशाना बना सकते हैं। सीएनएन ने बताया कि संघीय जांच ब्यूरो (एफबीआई) और गृह सुरक्षा विभाग ने कल स्थानीय प्रवर्तन विभाग को एक बुलेटिन जारी करके कहा कि अब तक इस संबंध में कोई धमकी नहीं मिली है। यह बुलेटिन एक इस्लामिक स्टेट समर्थित वेबसाइट पर अमेरिका के गिरजाघरों की सूची जारी होने के बाद एहतियातन जारी किया गया है। इस बुलेटिन के बार े म ें एफबीआर्इ न े तत्काल कोर्इ प्िर तक्रि या नही ं दी ह।ै सीएनएन न े बुलेटिन का हवाला देते हुए कहा कि इस्लामिक स्टेट के समर्थक पर्यटन स्थलों और गिरजाघरों पर हमले के लिए अपने साथियों को उकसा रहे हैं। बुलेटिन में संदिग्ध गतिविधियों के विभिन्न प्रकार के संकेतों का उल्लेख करते हुए पुलिस को सतर्क रहने को कहा गया है।
 
सीरिया शांति प्रक्रिया को खत्म करने की साजिश
रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने आज कहा कि तुर्की में रूसी राजदूत एंड्ररेइ कार्लोव की हत्या रूस और तुर्की के संबंधों को बिगाडऩे तथा सीरिया में शांति प्रक्रिया को खत्म करने की एक साजिश है।
 
हिलेरी ने हार के लिए रूस को जिम्मेदार बताया
अमेरिका में हुए राष्ट्रपति चुनाव में डेमोक्रेटिक पार्टी की उम्मीदवार रहीं हिलेरी ङ्क्षक्लटन ने अपनी हार के लिए पहली बार रूस की ओर से की गई हैङ्क्षकग को जिम्मेदार ठहराया है। श्रीमती ङ्क्षक्लटन ने पार्टी को आर्थिक मदद देने वालों से कहा‘‘रूस के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन को उनसे व्यक्तिगत तौर शिकायत थी क्योंकि उन्होंने पांच साल पहले रूस के संसदीय चुनाव में धांधली की बात कही थी।
 
ट्रंप ने हैङ्क्षकग को लेकर उठाये सवाल
अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने रूस की ओर से राष्ट्रपति चुनाव के दौरान राजनीतिक दलों तथा व्यक्तियों के डाटा हैक करने की रिपोर्ट पर कई सवाल उठाये हैं। ट्रम्प ने ट्वीट कर कहा‘‘अगर रूस अथवा किसी और ने डाटा हैङ्क्षकग की है, व्हाइट हाउस ने उसके खिलाफ कार्रवाई करने में इतनी देरी क्यों की? हिलेरी के चुनाव हारने के बाद उन लोगों ने क्यों इसकी शिकायत की है।
 
इंडोनेशिया से गहराता रिश्ता
इंडोनेशिया के राष्ट्रपति जोको विडोडो की भारत यात्रा को जितना महत्त्व मिलना चाहिए था, उतना शायद नहीं हुआ। इसके बावजूद उनकी नई दिल्ली यात्रा के दौरान कई महत्त्वपूर्ण समझौतों पर दस्तखत हुए। पारंपरिक संबंधों वाले इन दोनों देशों ने द्विपक्षीय व्यापार एवं निवेश को बढ़ावा देने का निर्णय लिया है। खासकर तेल एवं गैस, दवा, सूचना तकनीक एवं कौशल विकास के क्षेत्र में वे सहयोग बढ़ाएंगे।
 
मोदी के आगमन की बेसब्री से प्रतीक्षा कर रहा अंकोरवाट
कंबोडिया के जाने माने पुरातत्वविदों और इतिहासकारों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से कंबोडिया यात्रा की मांग को लेकर एक अनोखी और अनूठी पेशकश की है। अगर यह आमंत्रण मंजूर कर लिया जाता है तो श्री अटल बिहारी वाजपेयी के बाद श्री मोदी कंबोडिया के विख्यात अंकोरवाट मंदिर की यात्रा पर आने वाले दूसरे भारतीय प्रधानमंत्री होंगे।
 
पूर्वी अलेह्रश्वपो में 82 नागरिक मारे गये
संयुक्त राष्ट्र ने कहा है कि उसे पिछले कुछ दिनों में सीरिया के पूर्वी अलेह्रश्वपो में 82 नागरिकों के मारे जाने की रिपोर्ट मिली है जिनमें 11 महिलायें तथा 13 बच्चे शामिल हैं। यह सभी सीरिया की सरकार की सेना और उसका समर्थन करने वाली मिलीशिया की कार्रवाई में मारे गये । संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार कार्यालय के प्रवक्ता रूपर्ट कोईबिले ने कहा कि पूर्वी अलेह्रश्वपो के विद्रोहियों के नियंत्रण वाले क्षेत्र के पास हजारों की संख्या में नागरिक फंसे हुये हैं जिनके भविष्य के रूख को लेकर विश्व संस्था ङ्क्षचतित है। प्रवक्ता ने कहा कि कल सायंकाल 82 नागरिकों को मारे जाने की खबर मिली। यह सभी पूर्वी अलेह्रश्वपो के चार क्षेत्रों में मारे गये। प्रवक्ता ने संवाददाताओं से कहा कि मृतकों की संख्या और अधिक हो सकती है। प्रवक्ता ने कहा कि अपने घरों से भागते लोगों को भी गोली से मारे जाने की खबर है।
 
अमेरिकी लोगों की नौकरियों की सुरक्षा मेरी प्राथमिकता : ट्रंप
अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने फिर दोहराया है कि अमेरिकी लोगों की नौकरियों की रक्षा करना उनकी प्राथमिकता है और एच1-बी वीजा पर यहां आये विदेशी नागरिकों को अमेरिकी नागरिकों की नौकरियां नहीं छीनने दी जाएगी। ट्रंप ने कहा कि वह अमेरिकी लोगों की जगह विदेशी कामगारों को नौकरी पर रखे जाने की अनुमति नहीं देंगे। उन्होंने कहा ,Þचुनाव अभियान के दौरान भी मैंने यह मुद्दा प्रमुखता के साथ उठाया था।
 
आबे 27 जनवरी के आसपास करेंगे ट्रंप से मुलाकात
टोक्यो त्नजापान के प्रधानमंत्री ङ्क्षशजो आबे अगले साल 27 जनवरी के आसपास अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से मुलाकात करेंगे । जीजी न्यूज सर्विस के मुताबिक जापानी राष्ट्रपति आबे अगले वर्ष 20 जनवरी को श्री डोनाल्ड ट्रंप के अमेरिका के राष्ट्रपति पद की शपथ लेने के एक हफ्ते के अंदर ही उनसे मुलाकात करेंगे। श्री आबे पिछले महीने ही न्यूयार्क में श्री ट्रंप के चुनाव में जीत मिलने के बाद मुलाकात की थी। न्यूज सर्विस के मुताबिक श्री आबे श्री ट्रंप से 27 जनवरी के आसपास मुलाकात करेंगे।
 
बर्नार्ड कजनेव फ्रांस के नये प्रधानमंत्री होंगे
पेरिसत्न फ्रांस के गृहमंत्री बर्नार्ड कजनेव को मैनुअल वाल्स के स्थान पर फ्रांस का नया प्रधानमंत्री बनाया गया है। यह जानकारी आज फ्रांस के राष्ट्रपति फ्रांसुआ ओलांद के कार्यालय से एक सूत्र ने दी। श्री वाल्स अब राष्ट्रपति कार्यालय में मंत्री होंगे। श्री वाल्स राष्ट्रपति पद के प्रबल दावेदारों में से एक हैं और राष्ट्रपति कार्यालय में मंत्री रहकर काम करने के बाद उन्हें राष्ट्रपति पद के कामकाज का भी अच्छा अनुभव हो जायेगा। श्री वाल्स 2017 में होने वाले राष्ट्रपति पद के चुनाव के लिए सोशलिस्ट पार्टी का प्रत्याशी बनना चाहते हैं।
 
राष्ट्रपति महाभियोग पर संसद के निर्णय को स्वीकार करेंगे
सोलत्न दक्षिण कोरिया की राष्ट्रपति पार्क गियून हेन ने कहा है कि वह अपने विरूद्ध लाये गये महाभियोग विधेयक पर इस सह्रश्वताह संसद के निर्णय को स्वीकार कर लेंगी लेकिन विपक्षी पार्टियों की मांग पर अपने पद से इस्तीफा नहीं देंगी। राष्ट्रपति की सेबुरी पार्टी के एक पदाधिकारी ने आज यह जानकारी दी।
 
अलेह्रश्वपो में युद्धविराम प्रस्ताव पर रूस, चीन का वीटो
न्यूयार्क त्न संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में कल रूस तथा चीन ने सीरिया के अलेह्रश्वपो में सात दिन के युद्धविराम के प्रस्ताव के विरूद्ध अपने वीटो अधिकार का उपयोग कर उसे निरस्त कर दिया। अलेह्रश्वपो में सात दिन के युद्ध विराम का प्रस्ताव न्यूजीलैंड, मिस्र तथा स्पेन ने पेश किया था। प्रस्ताव के पक्ष में 11 देशों ने वोट दिया जब कि वेनेजुअल ने इसके विरोध में मत दिया।
 
चीन की सेना के वरिष्ठ कमांडर ने पाकिस्तानी सेनाध्यक्ष से की भेंट
इस्लामाबाद त्नचीन की सेना के पश्चिमी क्षेत्र के कमान्डर जनरल झाओ जोंग की ने कल रावलङ्क्षपडी में पाकिस्तान की सेना के अध्यक्ष जनरल कमर जावेद बाजवा से भेंट की और क्षेत्रीय सुरक्षा तथा सैन्य मामलों पर बात की। चीनी कमान्डर ने पाकिस्तानी सेनाध्यक्ष से बातचीत के दौरान आतंकवाद के विरूद्ध संघर्ष तथा क्षेत्रीय शांति और सुरक्षा के लिए पाकिस्तानी सेना के प्रयासों की सराहना की। पाकिस्तान सेनाध्यक्ष ने चीनी सैनिक अधिकारी को पाकिस्तान-चीन आर्थिक गलियारे की सुरक्षा के अपने देश के आश्वासन को दोहराया। जनरल बाजवा ने अपने देश के विरुद्ध किसी भी आक्रमण का जवाब ढृढ़ता के साथ देने के अपने संकल्प से चीनी अधिकारी को अवगत कराया।
 
नेपाल में संविधान संशोधन विधेयक के खिलाफ प्रदर्शन
नेपाल में संविधान संशोधन विधेयक पेश होने और पांचवां अलग प्रांत बनाने के फैसले के खिलाफ लोगों ने आज प्रदर्शन किया। नये पांचवे प्रांत बनाये जाने के विरोध में लोगों ने बुटवल, रुपनदेही ,भैरावाहा, पाल्पा और विभिन्न इलाकों में प्रदर्शन किये। प्रदर्शन में आम लोगों के साथ-साथ छात्र भी शामिल थे। बुटवल इलाके में जनजीवन पर इसका सबसे ज्यादा असर दिखा। पूर्वीपश् िचम राजमार्ग और सिद्धार्थ राजमार्ग पर आवागमन ठप रहा और बाजार भी बंद रहे। इन स्थानों पर शिक्षण संस्थान भी बंद रहें। पाल्पा, गुल्मी, कपिलवस्तु और अरघखांची जिलों में भी प्रदर्शन हुये। संसद में संविधान संशोधन विधेयक पेश किया था।
 
जनरल बाजवा ने दिए सीमा पर जल्द सुधार के संकेत
पाकिस्तान के नव नियुक्त सेना अध्यक्ष जनरल कमर जावेद बाजवा ने आज कहा कि नियंत्रण रेखा की स्थिति में जल्द ही सुधार होगा। रावलङ्क्षपडी के सेना मुख्यालय में आज अपना कार्यभार संभालने के तत्काल बाद उन्होंने यह बात कही। मंगलवार को सेना की कमान सौंपे जाने के बाद ही जनरल बाजवा ने संवाददाओं से बातचीत के दौरान कहा था कि नियंत्रण रेखा की स्थिति में सुधार होगा।
 
पाक के निवर्तमान सेनाध्यक्ष ने भारत को चेतावनी दी
पाकिस्तान के निवर्तमान सेनाध्यक्ष जनरल राहील शरीफ ने आज अपने देश के कब्जे वाले कश्मीर में हिंसा के विरूद्ध भारत को चेतावनी देते हुए कहा कि कश्मीर में हमारे धैर्य की नीति को हमारी कमजोरी नहीं समझी जानी चाहिये। उन्होंने कमर जावेद बाजवा को सेना की कमान सौंपते हुए कहा कि कश्मीर के मामले में हमारे धैर्य को कमजोरी समझना भारत के लिए खतरनाक सिद्ध हो सकता है।
 
पूंजीवाद के विरुद्ध लड़ाई में सदा अग्रगण्य रहे फिदेल कास्त्रो
जब 20वीं शताब्दी का विश्व इतिहास लिखा जाएगा तो उसमें क्यूबा के पूर्व प्रधानमंत्री एवं राष्ट्रपति फिदेल कास्त्रो का नाम सबसे ऊपर होगा। यह केवल इसलिए नहीं कि उन्होंने क्यूबा जैसे छोटे देश में साम्यवादी क्रांति की थी, इसका सबसे बड़ा कारण यह होगा कि क्यूबा की क्रांति चीन एवं सोवियत संघ से बिल्कुल अलग थी, जो न तो लेनिनवादी क्रांति थी न ही माओवादी क्रांति। फोकोवाद के माध्यम से मुक्ति आंदोलन चलाया गया तथा बिल्कुल एक नया विकल्प रखा।