healthprose viagra http://tramadoltobuy.com/ http://buypropeciaonlinecheap.com/

कारोबार

अक्वा अक्वारिया इंडिया २०१७ शुरू देश-विदेश के किसान ले रहे है हिस्सा
समुद्री खाद्य उत्पादों और निर्यातों को बढ़ावा देने, मत्स्य पालन में अत्याधुनिक तकनीक का प्रयोग करने, मत्स्य पालन में वृद्धिकरण लाने और सजावटी मछली के पालन को बढ़ावा देकर रोजगार के अवसर बढ़ाने के उद्देश्य से आयोजित अक्वा अक्वारिया इंडिया 2017 आज से यहां शुरू हो गया।
 
प्रोत्साहन योजनाएं
चंडीगढ़त्नहरियाणा सरकार ने अधिसूचित किया है कि औद्योगिक इकाईयां को व्यापारिक कारोबार की सहूलियत के रूप में सभी प्रोत्साहन योजनाओं के तहत वित्तीय सहायता या सब्सिडी लेने के लिए कार्यकारी मजिस्ट्रेट या नोटरी पब्लिक द्वारा सत्यापित शपथ-पत्र या घोषणा पत्र देना होगा।
 
सूरजमुखी फसल की कटाई
चंडीगढ़त्नहरियाणा सरकार ने वसंत ऋतु की सूरजमुखी फसल की कटाई की अवधि पहली जून से 15 जून, 2017 तक अधिसूचित की है।
 
मदर्स रेसिपी ने 300 अनाथ बच्चों के साथ 100 मांओं को किया एकजुट
मदर्स रेसिपी ने रविवार की गर्मी से भरी सुबह को अपनी खास पहल से एक सुखद अहसास में बदल दिया। इस पहल के जरिए शहर के विभिन्न भागों से आयी मांओं ने उन बच्चों को स्नेह से दुलारा जिनके पास अपनी मां नही ंहैं।
 
जीएसटी से निवेश को मिलेगा प्रोत्साहन : आरबीआई
रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने 01 जुलाई से लागू होने वाले वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) से निवेश को प्रोत्साहन मिलने और वित्तीय सुढ़ीकरण जैसे फायदे गिनाते हुए अगले एक से डेढ़ साल के लिए खुदरा महंगाई बढऩे की आशंका भी व्यक्त की है। केंद्रीय बैंक द्वारा जारी रिपोर्ट स्टेट फाइनेंसेज : अ स्टडी ऑफ बजट्स ऑफ 2016-17 में कहा गया है, भारत के मौजूदा कर ढाँचे में पूँजीगत वस्तुओं पर उत्पाद शुल्क और वैट (मूल्य वद्र्धित कर) लागू होने से निवेश हतोत्साहित होता है क्योंकि इनके लिए कोई लागत कर छूट नहीं मिलती।
 
पीएनबी हाउङ्क्षसग फाइनेस देगी 60 फीसदी लाभांश
नई दिल्ली त्न आवास ऋण क्षेत्र की वित्तीय कंपनी पीएनबी हाउङ्क्षसग फाइनेंस लिमिटेड ने वर्ष 2016-17 के लिए 60 फीसदी लाभांश देने की घोषणा की है। कंपनी को पिछले वर्ष नवंबर में सूचीबद्ध कराया गया था। कंपनी ने वर्ष 2016-17 में 523.7 करोड़ रुपये का लाभ अर्जित किया जो पिछले वित्त वर्ष में अर्जित 326.5 करोड़ के लाभ की तुलना में 60 फीसदी अधिक है। कंपनी ने मार्च में समाह्रश्वत अंतिम तिमाही में 152.4 करोड़ रुपये का मुनाफा कमाया है जो वित्त वर्ष 2015-16 की इसी अवधि के 102.6 करोड़ रुपये के लाभ की तुलना में 49 प्रतिशत अधिक है। कंपनी के निदेशक मंडल ने वर्ष 2016-17 के लिए 10 फीसदी अर्थात 6 रुपये का लाभांश देने की सिफारिश की है जिसे वार्षिक आम बैठक में अनुमोदित किया जायेगा।
 
एफपीआई ने पाँच दिन में लगाए 90 करोड़ डॉलर
मुंबई त्न विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) ने मई के पहले सह्रश्वताह में घरेलू पूँजी बाजार से शुद्ध रूप से पैसा निकालने के बाद बीते सह्रश्वताह एक बार फिर बाजार में विश्वास दिखाया और 90.39 करोड़ डॉलर यानी 5,820.84 करोड़ रुपये लगाये। माह के पहले सह्रश्वताह में उन्होंने बाजार से 7.83 करोड़ डॉलर (502.87 करोड़ रुपये) निकाले थे। इस प्रकार इस महीने अब तक पूँजी बाजार में उनका कुल निवेश 82.56 करोड़ डॉलर (5,317.97 करोड़ रुपये) पर पहुँच गया। इसमें शेयर में उन्होंने महज 4.34 करोड़ डॉलर लगाये हैं जबकि डेट में उनका निवेश 78.21 करोड़ डॉलर का रहा है। यह लगातार चौथा महीना है जब एफपीआई बाजार में शुद्ध रूप से लिवाल हैं। अप्रैल में उन्होंने 351.34 करोड़ डॉलर, मार्च में 857.66 करोड़ डॉलर और फरवरी में 236.26 करोड़ डॉलर का निवेश किया था।
 
67.31 लाख मीट्रिक टन से अधिक गेहूं की आवक
चंडीगढ़त्न वर्तमान रबी खरीद मौसम के दौरान हरियाणा की मंडियों में कल तक 73.82 लाख मीट्रिक टन से अधिक गेहंू की रिकॉर्ड आवक दर्ज की गई है, जबकि गत वर्ष इसी अवधि के दौरान केवल 67.31 लाख मीट्रिक टन से अधिक गेहूं की आवक हुई थी। खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले विभाग के एक प्रवक्ता ने आज यहां यह जानकारी देते हुए बताया कि कुल आवक में से 73.75 लाख मीट्रिक टन से अधिक गेहंू की खरीद विभिन्न एजेंसियों द्वारा की न्यूनतम समर्थन मूल्य पर की गई, जबकि व्यापारियों द्वारा 6854 मीट्रिक टन गेहूं की खरीद की गई है। गेहंू खरीद की विस्तृत जानकारी देते हुए उन्होंने बताया कि खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले विभाग ने 18.27 लाख मीट्रिक टन से अधिक और हैफेड ने 26.68 लाख मीट्रिक टन से अधिक गेहूं की खरीद की है।
 
‘मदर्स डे’ पर ऑफरों की झड़ी
किसी भी घर के लिए मां एक ऐसी कड़ी है जो पूरे परिवार को स्नेह के मजबूत धागे से बांधकर रखती है। मां के इसी अनमोल रिश्ते का जश्न मनाने के लिए हर बार की तरह इस साल भी विभिन्न कंपनियों ने 14 मई को ‘मदर्स डे’ पर कई आकर्षक ऑफर पेश किये हैं।पैनासोनिक जैसी कंपनियाँ इस मौके पर इलेक्ट्रॉनिक उत्पाद, पर्सनल केयर एसेसरीज और मोबाइल फोन पेश कर रही हैं तो ऑनलाइन स्टोर्स तरह-तरह के तोहफों पर ऑफर दे रहे हैं।कोई कंपनी टूर पैकेज दे रही तो कोई स्पा और ब्यूटी पार्लर के बिल में छूट ऑफर कर रही है।
 
पेट्रोल, डीजल माँग के पूर्वानुमान की समीक्षा करेगी आईईए
भारत और चीन द्वारा इलेक्ट्रिक वाहनों को तरजीह देने के लिए नयी नीति बनाने के संकेत देने के मद्देनजर अंतरराष्ट्रीय ऊर्जा एजेंसी (आईईए) इलेक्ट्रिक वाहनों के इस्तेमाल तथा पेट्रोल और डीजल की माँग के अपने पूर्वानुमान की समीक्षा करेगी। आईईए ने मौजूदा राजनीतिक परि²श्य को देखते हुये गत साल नवंबर में जारी तेल की माँग के पूर्वानुमान की समीक्षा करने की घोषणा की है।
 
गेहूं उछला; खाद्य तेल, दालें, चना, गुड़ और चीनी स्थिर
नई दिल्लीत्नपिछले कई दिनों की तरह आज भी घरेलू मांग की सुस्ती बरकरार कर रही जिससे दिल्ली थोक ङ्क्षजस बाजार में आज अधिकांश खाद्य तेलों में टिकाव रहा। खाद्य तेलों के अलावा चीनी ,गुड़ ,चना और दालों की कीमतें भी स्थिर रहीं। तेल-तिलहन : अंतर्राष्ट्रीय बाजारों में मलेशिया के बुरसा मलेशिया डेरिवेटिव एक्सेचेंज में पाम ऑयल का जुलाई वायदा कल 2,655 ङ्क्षरगिट प्रति टन पर बंद हुआ। जुलाई का अमेरिकी सोया तेल वायदा भी 32.84 सेंट प्रति पौंड पर बंद हुआ।
 
भारत और इटली दूर करेंगे आपसी व्यापार की अड़चनें
नई दिल्लीत्न भारत और इटली ने अपने आर्थिक संबंधों को मजबूत करने की प्रतिबद्धता व्यक्त करते हुए दोनों देशों के बीच निवेश और व्यापारिक अड़चनों को दूर करने के लिए समझौते के प्रारुप पर हस्ताक्षर किए हैं। भारत - इटली संयुक्त आर्थिक सहयोग आयोग की 19 वीं बैठक 11 मई और 12 मई को रोम में आयोजित की गयी । बैठक में भारतीय पक्ष का नेतृत्व केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री निर्मला सीतारमण ने किया। इटली की आर्थिक विकास मंत्री कार्लो सेनेंडा ने इटली के पक्ष का नेतृत्व किया। दोनों देशों के मंत्रियों ने इस बैठक की सह अध्यक्षता की। बैठक के दौरान संयुक्त आयोग की महत्ता पर सहमति व्यक्त की गयी और आपसी आर्थिक तथा व्यापार संबंधों में महत्वपूर्ण भूमिका को स्वीकार किया गया। दोनों देशों का आपसी व्यापार वर्ष 2016-17 में 9.32 अरब डालर रहा है। वैश्विक मंदी के बावजूद दोनों देशों का आपसी व्यापार लगातार बढ़ रहा है।
 
टाटा संपन्न ने शुरू किया‘चेंज द रेसिपी’अभियान
नई दिल्लीत्न विभिन्न क्षेत्रों में कार्यरत कंपनी टाटा केमिकल्स लिमिटेड के खाद्य पदार्थाें का कारोबार करने वाली इकाई टाटा संपन्न ने मदर डे के अवसर पर चेंज द रेसिपी अभियान शुरू करने की घोषणा की है। कंपनी के उपभोक्ता उत्पाद कारोबार के विपणन प्रमुख सागर बोके ने आज यहां जारी बयान में घोषणा करते हुये कहा कि भारतीय समाज की‘परफैक्ट’मां को लेकर हमेशा से एक रटी-रटायी धारणा रही है। इस धारणा को तोडऩे के लिए ही यह डिजिटल अभियान शुरू किया गया है जो इस सोच पर आधारित है कि‘परफैक्ट’मां की तस्वीर में अब काफी बदलाव आ चुके हैं। उन्होंने कहा कि यह अभियान सोशल मीडिया पर प्रमुखता से चलाया जा रहा है क्योंकि आज की युवा पीढ़ी इसी पर अधिक सक्रिय है। इसके जरिये युवाओं में माँ को लेकर बनी परंपरागत सोच में बदलाव लाना है। यह अभियान हर मां से खुद को ब्रेक देने का आह्वान करता है। उन्हें हर वक्त, हर जगह परफैक्ट बनने के दबाव से मुक्त होने तथा उन्हें जैसी हैं, वैसी ही बने रहने का संदेश देता है।
 
टैक्स बार एसोसिएशन जीएसटी के बारे में लोगों को जागरुक करे: अग्रवाल
गुरुग्रामत्न विधायक उमेश अग्रवाल ने गुरुग्राम जिला बार एसोसिएशन के नव निर्वाचित पदाधिकारियों का आह्वान किया कि वे अपने बार एसोसिएशन के माध्यम से व्यापारियों व अन्य टैक्स दाताओं के साथ-साथ अन्य लोगों को भी एक जुलाई से देश भर में लागू हो रहे जीएसटी के बारे में जागरुकता फैलाएं। उन्होंने कहा कि इसके लिए समय रहते ही बैठकों एवं सेमिनार आदि का भी आयोजन करते रहना चाहिए। जिला टैक्स बार एसोसिएशन के नव निर्वाचित पदाधिकारियों से बातचीत में विधायक उमेश अग्रवाल ने कहा कि जीएसटी व्यवस्था लागू होने से पहले इसके बारे में करदाताओं व आम लोगों को जानकारी देकर जागरुक करना जरुरी है। इसमें बार एसोसिएशन अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है।
 
आरबीआई से सीसीएल को गेहूं खरीद के लिए 20683 करोड़
चंडीगढ़त्नपंजाब के मुख्यमंत्री कैह्रश्वटन अमङ्क्षरदर ङ्क्षसह अनुरोध पर भारतीय रिजर्व बैंक(आरबीआई) ने राज्य गेहूँ खरीद के लिये नगद ऋण सीमा (सीसीएल) बढ़ाकर 20683 करोड़ रुपये कर दी है। एक सरकारी प्रवक्ता ने आज यहां बताया कि इससे पहले आरबीआई ने सीसीएल 17994.21 करोड़ रुपये तय की थी जिसमें अब 2688.79 करोड़ रुपये की वृद्धि की गई है। प्रवक्ता के अनुसार चालू गेहूँ खरीद सत्र में राज्य सरकार अब तक किसानों को उनकी गेहूँ खरीद के बदले अब तक 14053.61 करोड़ रुपये का भुगतान कर चुकी है। उन्होंने बताया कि राज्य में गत एक अप्रैल से गेहूँ की खरीद शुरू होने से लेकर अब तक 1.18 करोड़ टन से अधिक गेहूँ खरीदा जा चुका है जिसमें से सरकारी एजेसियों ने 1.15 करोड़ टन से अधिक गेहूँ की न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीद की है। राज्य की मंडियों से खरीदे गये गेहूँ में से 1.11 करोड़ टन से अधिक गेहूँ का उठान किया जा चुका है।
 
जापान का काय ग्रुप भारतीय बाजार में उतरा
किचन उपकरणों और व्यक्तिगत देखभाल श्रेणी में अग्रणी काय ग्रुप ने अपने उत्पादों की विविध रेंज के साथ भारत के बाजार में प्रवेश की घोषणा की। उत्पादों में किचन और पेशेवर श्रेणी के चाकू, रेजर और नेल क्लिपर्स शामिल हैं। काय ग्रुप के प्रेसिडेंस और सीईओ कोजी एंडी ने कहा कि हम भारत में 10 साल की योजना लेकर आए हैं।
 
फिर नये शिखर पर शेयर बाजार
एशियाई बाजारों से मिले सकारात्मक संकेतों के दम पर शुरुआती कारोबार में मजबूत बढ़त बनाने के बावजूद दोपहर बाद बाजार में मुनाफावसूली होने से आज बीएसई का सेंसेक्स 2.81 अंक की मामूली तेजी के साथ 30,250.98 अंक पर बंद हुआ।नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी आरंभिक मजबूती बरकरार नहीं रख सका और अंतत: 15.10 अंक की बढ़त में 9,422.40 अंक पर रहा।
 
73.47 लाख मीट्रिक टन से अधिक गेहंू की रिकॉर्ड आवक दर्ज
चंडीगढ़त्न वर्तमान रबी खरीद मौसम के दौरान हरियाणा की मंडियों में कल तक 73.47 लाख मीट्रिक टन से अधिक गेहंू की रिकॉर्ड आवक दर्ज की गई है, जबकि गत वर्ष इसी अवधि के दौरान केवल 67.14 लाख मीट्रिक टन से अधिक गेहूं की आवक हुई थी। खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले विभाग के एक प्रवक्ता ने आज यहां यह जानकारी देते हुए बताया कि कुल आवक में से 73.40 लाख मीट्रिक टन से अधिक गेहंू की खरीद विभिन्न एजेंसियों द्वारा की न्यूनतम समर्थन मूल्य पर की गई, जबकि व्यापारियों द्वारा 68 54 मीट्रिक टन गेहूं की खरीद की गई है।
 
औद्योगिक ह्रश्वलाट आंबटित करने के लिए 8 जून तक ऑनलाइन आवेदन आमंत्रित
चंडीगढ़त्नहरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण ने राज्य की विभिन्न शहरी स पदाओं में औद्योगिक ह्रश्वलाट आंबटित करने के लिए 8 जून, 2017 तक ऑनलाइन आवेदन आमंत्रित किए हैं। हुड्डïा के एक प्रवक्ता ने आज यहां यह जानकारी देते हुए बताया कि मैगा परियोजना के तहत गुरुग्राम में 4050 वर्ग मीटर के दो तथा 3800 वर्ग मीटर का एक औद्योगिक ह्रश्वलाट आबंटित किया जाएगा।
 
एचसीएल के मुनाफे में 28 फीसदी का उछाल
सॉफ्टवेयर सेवा प्रदाता कंपनी एचसीएल टेक्नोलॉजी लिमिटेड ने 31 मार्च को समाप्त वित्त वर्ष की चौथी तिमाही में 2,475.27 करोड़ रुपये का मुनाफा कमाया , जो इससे पिछले वित्त वर्ष 2015-16 की समान तिमाही के 1,938.66 करोड़ रुपये के आंकड़े से 27.67 फीसदी अधिक है।