healthprose viagra http://tramadoltobuy.com/ http://buypropeciaonlinecheap.com/

मनोरंजन

फिल्म इंडस्ट्री की पहली ड्रीम गर्ल थी देविका रानी
भारतीय सिनेमा जगत में अपनी दिलकश अदाओं से दर्शकों को दीवाना बनाने वाली कई अभिनेत्रियां हुयी और उनके अभिनय के दर्शक आज भी कायल है लेकिन पहली ड्रीम गर्ल देविका रानी को आज कोई याद भी नहीं करता। देविका रानी का जन्म 30 मार्च 1908 को आंध्रप्रदेश के वाल्टेयर नगर में हुआ था । उनके पिता कर्नल एम.एन. चौधरी उंचे बंगाली परिवार से ताल्लुक रखते थे जिन्हें बाद में भारत के प्रथम सर्जन जनरल बनने का गौरव प्राप्त हुआ ।
 
सनग्लास की दीवानी हैं अनुष्का शर्मा
बॉ लीवुड अभिनेत्री अनुष्का शर्मा का कहना है कि एक्सेसरीज के रूप में उन्हें सनग्लास (धूप चश्मा) बेहद पसंद हैं। अनुष्का को चश्मों की कंपनी पोलारॉयड ने ब्रांड एंबेसडर बनाया है। अभिनेत्री ने मुंबई से ईमेल के जरिए आईएएनएस को बताया, "मुझे सनग्लास बेहद पसंद हैं। यह सबसे अहम फैशन एक्सेसरी है, मेरा मानना है कि जो लोग अक्सर यात्रा करते हैं या रोज घर से बाहर जाते हैं उनके लिए सनग्लास फैशन एक्सेसरी से कहीं बढ़कर है।
 
गोविंदा को खुद से बड़ा स्टार मानते हैं वरूण धवन
बॉलीवुड अभिनेता वरूण धवन, गोविंदा को खुद से बड़ा स्टार मानते हैं। वरुण की तुलना इन दिनों गोविंदा से की जा रही है। वरूण के पिता डेविड धवन ने गोविंदा को लेकर कई सुपरहिट फिल्म बनायी है। वरूण खुद को गोविंदा की तुलना में हमेशा छोटा स्टार ही मानते हैं, क्योंकि गोविंदा ने बड़ा स्टारडम देखा है और उनके पास एक्टिंग स्किल्स के साथ डांसिंग की भी स्किल्स है। वरुण ने कहा कि भले ही लोग उनकी तुलना गोविंदा और बाकी कलाकारों से करें लेकिन वो फिर भी मानते हैं कि गोविंदा की एक स्किल है, जो कि कमाल की है और जैसा कमाल गोविंदा ने दिखाया है वैसा वह कभी नहीं दिखा सकते। वरुण ने बताया कि उनके पिता डेविड धवन ने उन्हें गोविंदा के बारे में यह बताया है कि उनका हीरो नंबर वन डायलॉग याद करने में माहिर है। गोविंदा स्क्रिह्रश्वट के कई पन्ने एक साथ पढ़ लेते हैं और उन्हें कंठस्थ भी हो जाते हैं। वरुण ने कहा, "मेरी कोशिश होती है कि वह डायलॉग तेज़ी से याद कर लें लेकिन हमेशा वक़्त लगता है।
 
टाइपकास्ट होने से बचना बेहद मुश्किल : देवेन
दर्शकों के बीच टीवी शो बा बहू बेबी के किरदार गट्टू के नाम से लोकप्रिय देवेन भोजानी अपनी हास्य कलाकार की छवि से बाहर निकलने की कोशिश कर रहे हैं। वह पर्दे पर जितना गुदगुदाते हैं, असल जीवन में उतने ही गंभीर प्रवृत्ति के हैं। कमांडो-2 से निर्देशन की कमान संभाल चुके देवेन टाइपकास्ट होने से बचने पर जोर देते हुए कहते हैं कि टाइपकास्ट होना प्रतिभा पर अंकुश लगाने जैसा है। अभिनय जगत में टाइपकास्ट होने से बचना बेहद मुश्किल होता है, लेकिन एक काबिल अभिनेता को इससे बचना चाहिए।
 
गुरुग्राम में बॉलीवुड थीम पर भव्‍य पार्टी का जश्‍न
गुरुग्राम के दी आर्क में बॉलीवुड कास्टिंग निर्देशक और निर्माता पवन नागपाल ने अपने जन्‍मदिन के अवसर पर बॉलीवुड थीम पर आधारित भव्‍य पार्टी का जश्‍न मनाया। उन्‍होंने अपनी आने वाली फिल्‍म जिंदगी कशमकश की घोषणा क्रिएटिव और प्रोड्यूसर के रूप में की। यह दोहरी खुशी एक उत्‍सव की तरह थी जिसमें सामाजिक और बॉलीवुड इंडस्‍ट्री से जुड़े महत्‍वपूर्ण लोगों ने हिस्‍सा लिया।
 
विदेशी मुद्रा भंडार में वृद्धि
मुंबईत्नदेश का विदेशी मुद्रा भंडार लगातार दो सह्रश्वताह की गिरावट से उबरते हुए 24 फरवरी को समाह्रश्वत सह्रश्वताह में 6.37 करोड़ डॉलर बढक़र 362.79 अरब डॉलर पर पहुंच गया। इससे पहले 17 फरवरी को समाह्रश्वत सह्रश्वताह में 5.67 करोड़ डॉलर की गिरावट के साथ 362.73 अरब डॉलर रहा था। उससे पहले 10 फरवरी को समाह्रश्वत सह्रश्वताह में यह 36.09 करोड़ डॉलर घटकर 362.79 अरब डॉलर पर रहा था। रिजर्व बैंक द्वारा यहाँ जारी आँकड़ों के अनुसार, 24 फरवरी को समाह्रश्वत सह्रश्वताह में विदेशी मुद्रा भंडार के सबसे बड़े घटक विदेशी मुद्रा परिसंपत्ति में 6.37 करोड़ डॉलर की बढोतरी रही तथा सह्रश्वताहांत पर यह 339.78 अरब डॉलर पर पहुंच गया। हालाँकि, स्वर्ण भंडार 19.25 अरब डॉलर पर स्थिर रहा। केंद्रीय बैंक ने बताया कि अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष के पास सुरक्षित निधि भी दो लाख डॉलर बढक़र 2.32 अरब डॉलर पर तथा विशेष आहरण अधिकार एक लाख डॉलर बढक़र 1.44 अरब डॉलर पर पहुँच गया।
 
पंजाब को याम्या के रूप में मिली पहली प्रोफेशनल फीमेल डीजे
मात्र 20 वर्ष की उम्र में पंजाब की पहली डीजे बनी याम्या की यात्रा आसान नहीं थी। कॉमर्स ग्रेजुएट होने के बावजूद याम्या एक प्रोफेशनल मॉडल भी है। शुरुआत में इन्होंने अपने दोस्तों के लिए म्यूजिक बजाना शुरू किया था, और धीरे-धीरे ये अपने एरिया में हिट हो गई। याम्या इलेक्ट्रिक म्यूजिक मिक्सिंग और पंजाबी ट्रांस में दक्षता रखती हैं। संगीत के इस जज्बे ने इन्हें डीजे रिंक्स तक पहुंचाया। जिनकी वर्कस्टेशन में इन्होंने छह महीने का प्रशिक्षण लिया (डीजे रिंक्स पंजाब के हिप-हॉप जॉनर के राजा माने जाते हैं, जिन्होंने देश के प्रसिद्ध डीजे के साथ परफॉर्म किया है, इसमें बाली सागू, सुकेतू और इवान नाम शामिल हैं)। साथ ही इन्होंने छह महीने डीजे रोहित और डीजे राहुल के साथ भी कई प्राइवेट पार्टी में डीजे बजाया।
 
आलिया को जन्मदिन पर कुछ देना चाहते हैं वरुण
अ भिनेता वरुण धवन अपनी सह-कलाकार आलिया भट्ट को फिल्म च्बद्रीनाथ की दुल्हनियाज् की कामयाबी की बधाई उपहार के रूप में भेंट करना चाहते हैं। अभिनेत्री फिल्म की रिलीज के कुछ दिनों बाद ही अपना जन्मदिन मनाएंगी। वरुण से जब आलिया ने गुरुवार को पूछा कि वह उन्हें क्या उपहार देना चाहते हैं तो अभिनेता ने कहा, च्च्मैं हमारी फिल्म च्बद्रीनाथ की दुल्हनियाज् की सफलता भेंट करना चाहता हूं।
 
रजनीकांत के साथ काम करेंगी विद्या
बॉलीवुड में अपने संजीदा अभिनय के लिये मशहूर विद्या बालन दक्षिण भारतीय फिल्मों के महानायक रजनीकांत के साथ काम करती नजर आ सकती हैं।चर्चा है कि रजनीकांत ने अपनी फिल्म कबाली के पार्ट 2 की तैयारी पूरी कर ली है।इस फिल्म में इस बार उनके साथ विद्या बालन स्क्रीन शे यर करेंगी।उन्होंने इसकी तरफ इशारा किया है।विद्या ने कहा कि कुछ देर और इंतजार कीजिए।जल्द ही खबर सामने आएगी।उनकी इस बात से ही अंदाजा लगाया जा सकता है कि वह खुद सबसे बड़े सुपरस्टार के साथ स्क्रीन शेयर करना चाहती हैं।यदि ऐसा हुआ तो विद्या बालन उन बॉलीवुड एक्ट्रेस की फेहरिस्त में शामिल हो जाएगी जिन्होंने रजनीकांत के साथ काम किया है।इनमें ऐश्वर्या राय, दीपिका पादुकोण, सोनाक्षी सिन्हा और राधिका आह्रश्वटे शामिल हैं।
 
बेनी दयाल की आवाज आधुनिक, बेहतरीन : सलीम मर्चेट
गायक-संगीतकार सलीम मर्चेट का कहना है कि गायक बेनी दयाल की आवाज आधुनिकता से भरी और बेहतरीन है। उन्होंने (सलीम) सुलेमान मर्चेट और बेनी दयाल के साथ इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 10वें सीजन के प्रचार गीत 10 साल आपके नामज् को गाया है। इस गीत को सोनी मैक्स ने लांच किया। यह गीत गर्मजोशी और ह्रश्वयार भरे भावुक संदेश के साथ आईपीएल के प्रशसंकों का आभार जताता है। सलीम ने अपने बयान में कहा, बेनी की आवाज आधुनिक, समकालीन और बेहतरीन है। सलीम कहते हैं, च्च्उनके राग और सुर बहुत अच्छे हैं और हम एक-दूसरे को लंबे अर्से से जानते हैं..जब पहली बार आईपीएल के प्रचार गीत को गाने का फैसला हुआ था..उन्होंने लगभग पांच साल पहले ऐसा मौका गीत भी गाया था। प्रचार गीत के वीडियो में देशभर के प्रशंसकों को आईपीएल का लुत्फ लेते हुए दिखाया गया है। खुद को आईपीएल का प्रशंसक मानने वाले बेनी ने बताया कि उनका पहला क्रिकेट मैच स्टेडियम में एक आईपीएल मैच था।
 
कहानी पसंद आने पर करण के साथ काम करेंगे वरुण
बॉलीवुड अभिनेता वरुण धवन का कहना है कि वह फिल्म की कहानी पसंद आने पर ही करण जौहर के साथ काम करेंगे। वरुण ने अपने कैरियर की शुरूआत वर्ष 2012 में प्रदर्शित करण की फिल्म‘स्टूडेंट ऑफ द ईयर’से की थी । इसके बाद वरुण ने करण की कुछ अन्य फिल्मों में काम किया है। वरुण इन दिनों अपनी आने वाली फिल्म‘बद्रीनाथ की दुल्हनिया’के प्रमोशन में व्यस्त हैं। इस फिल्म का निर्माण भी करण जौहर ने किया है। वरुण ने कहा, Þ‘बद्रीनाथ की दुल्हनिया’को बनाने में कऱीब डेढ़ साल का वक़्त लगा है। हमने किसी भी ची•ा के लिए समझौता नहीं किया। हम दोनों कैरियर में मजबूत स्थिति में हैं। हम कोई भी फ़ल्मि सिफऱ् करने के लिए नहीं करेंगे, चाहे जो इसे बना रहा हो। करण के साथ हमारे संबंध मधुर है। यदि हमें कुछ पसंद नहीं होगा तो हम मना कर देंगे। उन्होंने वह विकल्प खुला रखा है। लेकिन करण हमें कभी ऐसा कुछ ऑफऱ नहीं करेंगे जो बहुत अच्छा ना हो।Þ
 
सोनू सूद बनाएंगे मराठी फिल्म
बॉलीवुड के जाने-माने अभिनेता सोनू सूद भी अब मराठी फिल्म बनाने जा रहे हैं। सैराट समेत कई मराठी फिल्म इन दिनों काफी अच्छी कमायी कर रही है। मराठी फिल्मों की तेजी से बढ़ती लोकप्रियता के कारण बॉलीवुड के कई कलाकार अब मराठी फिल्म की ओर रूख कर रहे हैं। शाहरुख खान, सलमान खान, प्रियंका चोपड़ा और जॉन अब्राहम सहित कई और सितारों ने मराठी फिल्म बनाने का काम तेजी से शुरू कर दिया है। सोनू सूद अपने होम प्रॉडक्शन में मराठी फिल्म बनाने जा रहे हैं। सोनू ने पहले पंजाबी और दक्षिण की क्षेत्रीय फिल्मों में काम किया है और अब वह मराठी फिल्म बनाने की पूरी तैयारी में हैं। सोनू अपने प्रॉडक्शन की मराठी फिल्म में अभिनय भी करेंगे। सोनू ने कहा कि महाराष्ट्र एक ऐसी जगह है जिसने उन्हें बहुत कुछ दिया है, अब समय आ गया है कि वह यहां के लिए कुछ करें। उन्होंने कहा, Þहम मराठी में एक ऐसी फिल्म बना रहे हैं जो मनोरंजन के साथ सामजिक सन्देश देगी। फिलहाल फिल्म की कहानी का काम तेजी से चल रहा है। साल के अंत में इस फिल्म की शूङ्क्षटग भी शुरू हो जाएगी।Þ
 
ङ्क्षजदगी तो बेवफा है एक दिन ठुकराएगी
ङ्क्षज दगी तो बेवफा है एक दिन ठुकरायेगी. मौत महबूबा है अपने साथ लेकर जायेगी। ङ्क्षजदगी के अनजाने सफर से बेहद ह्रश्वयार करने वाले हिन्दी सिने जगत के मशहूर संगीतकार आनंद जी का जीवन से ह्रश्वयार उनकी संगीतबद्ध इन पंक्तियों में समाया हुआ है। आनंद जी का जन्म दो मार्च 1933 को हुआ जबकि उनके बड़े भाई कल्याणजी वीर जी शाह का जन्म 30 जून 1928 को हुआ था। बचपन के दिनों से ही कल्याण जी और आंनद जी संगीतकार बनने का सपना देखा करते थे। हालांकि उन्होंने किसी उस्ताद से संगीत की शिक्षा नहीं ली थी। अपने इसी सपने को पूरा करने के लिये कल्याण जी मुंबई आ गये जहां उनकी मुलाकात संगीतकार हेमंत कुमार से हुयी। कल्याण जी, हेमंत कुमार के सहायक के तौर पर काम करने लगे।
 
ऊषा मिश्रा ह्यूमैनिटी अचीवर्स अवॉर्ड से सम्मानित
हर इंसान में एक ऐसी खूबी जरूर होती है, जो उसकी वास्तविक धरोहर होती है। यह अलग बात है कि आमतौर पर वह इंसान अपनी उस खूबी से नावाकिफ होता है या फिर वाकिफ होने के बावजूद तब तक उसे तवज्जो नहीं देता, जब तक कि दुनिया उसकी उस खूबी को सलाम न करे। यही वजह है कि आज लाखों-करोड़ों लोग अलग-अलग क्षेत्रों में दिन-रात काम करते हैं, लेकिन खुद को महज एक मजदूर के तौर पर पेश करते हैं।
 
मल्टीस्टारर फिल्म बनाने के लिए मशहूर थे गुलशन राय
बॉलीवुड में गुलशन राय का नाम एक ऐसे फिल्मकार के तौर पर याद किया जाता है जिन्होंने अपनी निर्मित मल्टीस्टारर फिल्मों के जरिये दर्शकों के बीच खास पहचान बनायी। 02 मार्च 1924 को जन्में गुलशन ने अपने कैरियर की शुरूआत बतौर डिस्ट्रीब्यूटर की। गुलशन ने बॉलीवुड में अपने कैरियर की शुरूआत अपने बैनर त्रिमूर्ति फिल्मस के तले वर्ष 1970 में प्रदर्शित फिल्म‘जॉनी मेरा नाम‘से बतौर निर्माता के रूप में की।‘जॉनी मेरा नाम’में देवानंद,हेमामालिनी,प्राण,प्रेम नाथ,आई एस जौहर ने मुख्य भूमिका निभायी थी।मारधाड़ और थ्रिलर से भरपूर यह पिल्म टिकट खिडक़ी पर सुपरहिट साबित हुयी।
 
आलिया के अभिनय की मुरीद है अक्षरा
बॉलीवुड की नवोदित अभिनेत्री और कमल हसन-सारिका की पुत्री अक्षरा हसन, आलिया भट्ट के अभिनय की मुरीद बन गयी है। अक्षरा हसन ने फिल्म शमिताभ से बॉलीवुड में अपने करियर की शुरूआत की थी। अक्षरा जल्द ही आगामी फिल्म ‘लाली की शादी में लड्डू दीवाना’ में दिखाई देंगी। अक्षरा हासन अपनी समकालीन अभिनेत्री आलिया भट्ट की मुरीद हैं और उनका कहना है कि एक अभिनेत्री के तौर पर वह उन्हें न केवल प्रेरणा, बल्कि चुनौती भी देती हैं। उन्होंने कहा "मुझे उनकी पहली फिल्म ‘स्टूडेंट ऑफ द ईयर’ याद है। कलाकार के रूप में उन्होंने जिस तरह से खुद का निखारा है, मैं उनका सम्मान करती हूं। पर्दे पर उन्हें देखना बेहद खूबसूरत होता है।वह स्वाभाविक अभिनय करती हैं। " आलिया से प्रतिस्पर्धा के बारे में पूछे जाने पर अक्षरा ने कहा, "हम स्कूलों में स्पर्धा करते रहे हैं। सौभाग्य से जब मैं उनसे मिली तो मुझे अहसास हुआ कि वह बेहतरीन इंसान हैं। एक कलाकार के रूप में आलिया मुझे न केवल प्रेरणा, बल्कि चुनौती भी देती हैं।
 
आमिर कलात्मक सामाजिक रूप से जिम्मेदार : श्रद्धा
अभिनेत्री श्रद्धा कपूर ने बॉलीवुड सुपरस्टार आमिर खान की प्रशंसा करते हुए उन्हें प्रेरक, कलात्मक और एक जिम्मेदार व्यक्ति करार दिया। ट्विटर पर सवाल जवाब सत्र के दौरान मंगलवार को श्रद्धा से आमिर के बारे में पूछा गया। इस पर श्रद्धा ने कहा, "वह सर्वाधिक प्रेरणादायक, निडर, कलात्मक, सामाजिक रूप से जिम्मेदार व्यक्तियों में से एक हैं।" श्रद्धा से महानायक अमिताभ बच्चन और सुपरस्टार शाहरुख खान से पूछे जाने पर उन्होंने एक को सुपरस्टार की परिभाषा और अन्य को किंग बताया। श्रद्धा ने कहा कि उनका अपने बचपन के दोस्त अभिनेता वरुण धवन से खास रिश्ता है। श्रद्धा, अर्जुन कपूर के साथ निर्देशक मोहित सूरी की फिल्म हॉफ गर्लफ्रैंड में दिखाई देंगी। वह अपूर्व लाखिया की हसीना : द क्वीन ऑफ मुंबई में भी नजर आएंगी। इसमें वह अंडरवल्र्ड डॉन दाऊद इब्राहीम की बहन हसीना पारकर पर आधारित भूमिका में होंगी।
 
परिवार को समय नहीं का अफसोस : वरुण धवन
बॉलीवुड अभिनेता वरुण धवन को परिवार तथा दोस्तों के साथ समय नहीं बिता पाने का अफसोस है। वरुण धवन इन दिनों अपनी आने वाली फिल्म ‘बद्रीनाथ की दुल्हनिया’ के प्रमोशन में व्यस्त हैं। वरुण ने कहा, "यदि मेरे करीबी लोग किसी बात को लेकर मुझ पर संदेह करते हैं तो मुझे वास्तव में तकलीफ पहुंचती है। फिल्मों में मेरे व्यस्त कार्यक्रम के कारण मुझे अपने परिवार के साथ समय बिताने के लिए पर्याप्त समय नहीं मिल पाता है। यदि मैं अपने परिवार के लिए समय निकाल भी लूं तो जिन चचेरे-ममेरे भाई-बहनों के साथ बड़ा हुआ हूं, उनसे मिलने का समय नहीं मिल पाता। कई दोस्तों की शादियों में शरीक नहीं हो पाने का भी मुझे दुख है। " उन्होंने कहा "वे समझते हैं कि मैं उनसे नहीं मिलता और उनके फोन नहीं उठाता.. वे मुझे गलत समझ लेते हैं, जिससे मुझे निराशा होती है। मेरी जिंदगी फिल्मों के इर्द-गिर्द घूमती है, लेकिन मैं उनके साथ भी होना चाहता हूं।
 
रहस्य और रोमांच से भरी है शहंशाह : डॉ. अर्चना ङ्क्षसह
भो जपुरी फिल्मों में अपने दमदार अभिनय से दर्शकों को मंत्रमुग्ध करने वाली जानी मानी अभिनेत्री अर्चना ङ्क्षसह का कहना है कि उनकी आने वाली फिल्म शहंशाह रहस्य और रोमांच से परिपूर्ण है। डॉ. अर्चना ङ्क्षसह की फिल्म मेंहदी लगा के रखना हाल ही में प्रदर्शित हुयी है। बॉक्स ऑफिस पर यह फिल्म सुपरहिट साबित हुयी है। फिल्म में खेसारी लाल यादव और काजल राघवानी ने मुख्य भूमिका निभायी है।
 
ङ्क्षजदगी के अनजाने सफर से बेहद ह्रश्वयार करते थे इंदीवर
ङ्क्षज दगी से बहुत ह्रश्वयार हमने किया मौत से भी मोहब्बत निभायेंगे हम रोते रोते जमाने मे आये मगर हंसते- हंसते जमाने से जायेंगे हम .. ङ्क्षजदगी के अनजाने सफर से बेहद ह्रश्वयार करने वाले हिन्दी सिने जगत के मशहूर शायर और गीतकार इंदीवर का जीवन से ह्रश्वयार उनकी लिखी हुयी इन पंक्तियों में समाया हुआ है।