समाचार ब्यूरो
28/11/2017  :  11:30 HH:MM
भिवानी की दो बेटियों ने किया देश का नाम रोशन
Total View  393

भिवानी गुवहाटी में आयोजित यूथ वल्र्ड बॉक्सिंग चैंपियनशिप में मिनी क्यूबा भिवानी के धनाना गांव की दो बेटियों ने गोल्ड जीतकर देश का नाम रोशन किया है। गोल्ड विजेता नीतू घणघस व साक्षी ढांडा के घर अब बधाई देने वालों का तांता लगा हुआ है।

परिजनों ने उम्मीद जताई है कि उनकी बेटियां एक दिन ओलंपिक में पदक जीतकर देश का गौरव बढाएगी।मिनी क्यूबा भिवानी के मिट्टी के लाल ही नही बल्कि एक के बाद एक लाडली भी अपने मुक्के के बल पर नाम कमा रही हैं। इस बार धनाना की मिट्टी में जन्मी दो बेटियों ने एक साथ देश का नाम रोशन किया है। गोहाटी में आयोजित यूथ बॉक्सिंग वल्र्ड चैंपियनशिप में 26 नवंबर को आयोजित फाईनल मुकाबलों में धनाना गांव की नीतू ने 48 किलोग्राम भारवर्ग में कजाकिस्तान की बॉक्सर को 5-0 से हराकर व 54 किलोग्राम भारवर्ग में साक्षी ढांडा ने इंगलेंड की बॉक्सर को 4-1 से हराकर गोल्ड मैडल जीता है। नीतू व साक्षी की इस जीत के बाद
उनके गांव धनाना में जश्न का माहोल है। दोनों के घर बधाई देने वालों का तांता लगा है। परिजन भी बधाई देने आने वालों का मुह मिठा करवा कर खुशी जता रहे हैं। नीतू घणघस की मां मुकेश कुमारी व पिता जय भगवान ने बताया कि वो अपनी बेटी नीतू को बेटे से ज्यादा चाहते हैं। वो बेटी को पढाने, खिलाने व किसी
अन्य चीज में हमेशा आगे रखते हैं। उन्होने बताया कि नीतू ने पांच साल पहले खेलना शुरु किया और हमेशा जीत दर्ज की। माता-पिता का कहना है कि उन्हे कई बार अपनी बेटी के लिए संघर्ष करना पङा, लेकिन उसकी जीत ने सारे संघर्षों को खुशी में बदल दिया। उन्होने इस जीत का श्रेय उनके कोच जगदीश को दिया है और उम्मीद की है कि वो एक दिन ओलंपिक में गोल्ड जीतकर देश का नाम रोशन करेगी। इसी प्रकार साक्षी ढांडा के घर भी बधाई देने वालों का तांता लगा है। अपनी लाडली साक्षी की जीत पर उनके माता-पिता खुशी में झुम रहे हैं। मां शीला देवी व पिता मनोज ढांडा ने बताया कि उन्हे भी अपनी बेटी को बेटे से ज्यादा मानस 
म्मान दिया। उन्हे शुरु से ही अपनी बेटी से बहुत उम्मीदें थी, जिस पर वो हर बार खरी उतर रही है। उन्होने भी नीतू के परिजनों की तरह कोच जगदीश को इस जीत का श्रेय दिया और कहा कि उनकी बेटी ओलंपिक में गोल्ड जीत कर एक दिन देश का नाम रोशन करेगी। ना केवल परिजन बल्कि गांव का एक एक व्यक्ति अपनी लाडलियों की जीत पर गर्व महसुस कर रहा है।

समाजसेवी रणबीर प्रधान ने बताया कि उनकी बेटी साक्षी व नीतू ने ना केवल गांव बल्कि देश का नाम रोशन किया है। ये दोनों बेटियां पूरे गांव की बेटियों व बेटों के लिए प्रेरणा बन चुकी हैं। उन्होने बताया कि दूसरे बेटों व बेटियों को प्रेरित करने के लिए जल्द ही दोनों बेटियों के सम्मान में गांव में बङा सम्मान समारोह आयोजित
किया जाएगा। साधारण परिवार से साक्षी व बेहद की गरीब परिवार से संबंध रखने वाली नीतू ने मेहनत की बदौलत देश का गोरव बढाया है। इस गौरव को गांव वाले आगे बढाना चाहते हैं। जरूरत है अन्य बेटियों व उनके माता-पिता को इनसे प्रेरणा लेने की जो बेटियों को बेटों से कम तवज्जो देते हैं।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   5927852
 
     
Related Links :-
पारंपरिक खेलों के उत्थान पर ध्यान दे सरकार: महेश यादव
जिला स्तरीय बाल प्रतियोगिताएं
बीकेटी हरियाणा स्टीलर्स का आधिकारिक पार्टनर बना
बाल भवन में राष्ट्रीय पेंटिंग प्रतियोगिता का आयोजन
दूध-दही का खाणा! ...अब मुल्क की खेल राजधानी भी है आपका हरियाणा
खेल महाकुंभ की विधिवत शुरूआत
23 खिलाडिय़ों को 15.55 करोड़ रुपए मिले राष्ट्रमंडल और एशियाई खेलों के विजेताओं को सीएम ने दिया इनाम
जालंधर में 14 अक्तूबर से ग्लोबल कबड्डी लीग की शुरुआत : सोढी
रोमांचक मोटरसाइकल स्टंट शो का आयोजन
खिलाडिय़ो का हौंसला बढ़ाने में अहम रोल निभाएगी नयी खेल नीति: राणा सोढी