हरियाणा मेल ब्यूरो
06/12/2017  :  08:42 HH:MM
चक्रवाती तूफान ‘ओखी’ से सहमी मुंबई
Total View  196

मुंबई तमिलनाडु, केरल और लक्षद्वीप के तटीय क्षेत्रों में तबाही मचाने के बाद मुंबई पहुंचे चक्रवाती तूफान ओखी’ से मुंबई और आसपास का इलाका भी सहम गया है. मुंबई एवं इससे सटे आसपास के शहरों में सोमवार शाम से ही भारी बारिश के साथ जगहज गह ओले भी गिरे हैं.

महाराष्ट्र सरकार ने मुंबई, ठाणे, पालघर, रायगढ़ और सिंधुदुर्ग जिलों के स्कूलों को मंगलवार यानि 5 दिसंबर को एहतियातन बंद कर दिया. साथ ही बीएमसी की डिजास्टर मैनेजमेंट यूनिट ने समंदर किनारे हाईटाइड आने की आशंका जारी करते हुए एडवाइजरी जारी कर दी. ओखी के असर को देखते हुए मौसम विभाग ने मुंबईकरों को मंगलवार के दिन सतर्क रहने की सलाह दी थी। वहीं ओखी के मद्देनजर एनडीआरआफ की टीम तैनात की गई है सेना, बीएसएफ और नेवी को अलर्ट पर रखा गया है. बता दें कि मुंबई में ओखी चक्रवात तूफान ने सोमवार शाम को दस्तक दी थी। समुद्र तट से दूर रहने की सलाह : साइक्लोन सेंटर के मुताबिक उत्तर महाराष्ट्र और दक्षिण गुजरात के समुद्र तटीय इलाकों में 4 दिसंबर की रात से लेकर 6 दिसंबर की सुबह तक 50 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से लेकर 70 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार की तेज हवाएं चलेंगी और बारिश होगी. इस वजह से इन इलाकों में समंदर में ऊंची-ऊंची लहरें उठेंगी. लिहाजा लोगों को समुद्र तट से दूर
रहने की सलाह दी गई है. मौसम विभाग ने दक्षिण गुजरात और उत्तरी महाराष्ट्र के समुद्र तटीय इलाकों को पहले ही आगाह कर दिया है. इन इलाकों में मछुआरों को समंदर में ना जाने की सलाह दी गई है. इसे अति भीषण समुद्री चक्रवात की कैटेगरी में रखा गया है।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   2634446
 
     
Related Links :-
पंजाब में खोले जाएंगे पांच सरकारी मेडिकल कालेज
केन्द्र सरकार देश के नागरिकों के स्वास्थ्य के प्रति प्रतिबद्घ : किरण खेर
योग से रहेंगी स्वस्थ और आकर्षक
इस प्रकार गोरा होगा रंग
अधिक मीठा खाने से बचें
अपने लीवर का रखें उचित ध्यान
डेंगू इलाज के अनुसंधान पर भारत सरकार संजीदा नहीं!
ऐसे निखरेंगी आपकी त्वच
बर्फीली हवाओं और घने कोहरे की चपेट में हरियाणा-पंजाब
बहादुरगढ़ में ईएसआई अस्पतालों के निर्माण को स्वीकृति