हरियाणा मेल ब्यूरो
06/12/2017  :  09:37 HH:MM
वायु प्रदूषण: बांटे हवा साफ करने वाले पौधे
Total View  195

नई दिल्ली भारत की अग्रणी डायग्नॉस्टिक्स चेन एसआरएल डायग्नॉस्टिक्स ने बढ़ते प्रदूषण से बचने और इसके बारे में जागरुकता फैलाने के प्रयास में गुरूग्राम के भीड़भाड़ भरे सेक्टर 29 में हवा शुद्ध करने वाले 1,000 पौधे वितरित किए। इसके अलावा कम्पनी ने कई अन्य संगठनों के सहयोग से दिल्ली- एनसीआर में अपनी सभी एसआरएल लैब्स एवं इमारतों को हरित एलईडी लाईटों से रौशन करने की एक और पहल शुरू की है।

हवा शुद्ध करने वाले ये पौधे एसआरएल डायग्नॉस्टिक्स के कोरपोरेट कार्यालय में भी रखे गए। दिल्ली-एनसीआर में बढ़ते वायु प्रदूषण के समाधान के लिए एसआरएल डायग्नॉस्टिक्स ने एलो वेरा, स्नेक ह्रश्वलांट, मनी ह्रश्वलांट और एरेका पाम जैसे पौधे वितरित कर लोगों को इस महत्वपूर्ण मुद्दे पर जागरुक बनाने का प्रयास किया। इस मौके पर एसआरएल डायग्नॉस्टिक्स के सीईओ श्री अरिंदम हल्दर ने कहा, ‘घर की भीतरी हवा को साफ रखने के लिए पौधों का इस्तेमाल एक ऐसा तरीका है जिसे नासा द्वारा अनुमोदित किया गया है। वायु शुद्ध करने वाले ये पौधे हवा में से बेंज़ीन और फॉर्मेल्डिहाईड को फिल्टर कर इसे साफ़ कर देते हैं। घर की भीतरी हवा को साफ़ करने के अलावा मैं लोगों से आग्रह करूंगा कि वायु प्रदूषण की रोकथाम के अन्य उपायों को भी अपनाएं जैसे कार पूल, बस, साइकल का इस्तेमाल या अगर हो सके तो पैदल चलना। एसआरएल डायग्नॉस्टिक्स में हमारा मानना है कि रोकथाम उपचार से बेहतर है।’’ यह प्रमाणित तथ्य है कि वायु प्रदूषण कई तरह की
बीमारियों का कारण है जैसे सांस और त्वचा की बीमारियां, शरीर में हॉर्मोनों का असंतुलन, पुरुषों में प्रजनन क्षमता की कमी और महिलाओं में गर्भपात। लांसेट के आंकड़ों के अनुसार 2015 में भारत में प्रदूषण के कारण 2.5 मिलियन मौतें हुईं, यह आंकड़ा दुनिया में अधिकतम है।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   9874725
 
     
Related Links :-
पंजाब में खोले जाएंगे पांच सरकारी मेडिकल कालेज
केन्द्र सरकार देश के नागरिकों के स्वास्थ्य के प्रति प्रतिबद्घ : किरण खेर
योग से रहेंगी स्वस्थ और आकर्षक
इस प्रकार गोरा होगा रंग
अधिक मीठा खाने से बचें
अपने लीवर का रखें उचित ध्यान
डेंगू इलाज के अनुसंधान पर भारत सरकार संजीदा नहीं!
ऐसे निखरेंगी आपकी त्वच
बर्फीली हवाओं और घने कोहरे की चपेट में हरियाणा-पंजाब
बहादुरगढ़ में ईएसआई अस्पतालों के निर्माण को स्वीकृति