समाचार ब्यूरो
10/01/2018  :  11:01 HH:MM
इस प्रकार गोरा होगा रंग
Total View  365

सुंदर दिखने के लिए हर कोई गोरा रंग चाहता है। खास तौर से लडकियों पर तो अपनी त्वचा के रंग को लेकर जुनून सवार होता है। इसी को देखते हुए बाजार में गोरे रंग के लिए कई क्रीम मिलती हैं पर वह केमिकल से भरे रहती हैं और इन क्रीमों को लगाने से चेहरे की त्वचा और भी खराब हो सकती है। ऐसे में आप घरेलू उपायों से गोरा रंग पा सकती हैं। इसमें किसी प्रकार का नुकसान भी नहीं होता।

पाइर्न पॅ ल (अननस) तो सभी को आसानी से मिल जाता है, तो हम आपको बता दे की यह फल सिर्फ खाने में ही फायदेमंद नहीं तो इसके और भी फायदे है। ये फल आपकी सुंदरता निखारने में भी काम आ सकता है। इन प्राकृतिक उपायों से किसी भी प्रकार का नुकसान नही होता। पाईनॅपल का रस निकालकर या तो अपने फेस पॅक में मिला कर लगाइये या फिर उसके फ्लप को सीधे चेहरे पर लगाइये। कुछ ही दिनों में आपको असर दिखना शुरू हो जायेंगा. मुहांसों को हटाने के लिये पाईनॅपल के रस को फेस पॅक में मिलाकर चेहरे पर लगाये। आप चाहे तो इसका फ्लप को भी चेहरे पर लगाने से मुहासों से छुटकारा मिलाता है। इसके बाद गुनगुने
पानी से अच्छी तरह चेहरा धो लें। पाईनॅपल में ब्लीचिंग एजेंट होता है। जिसे लगाने से चेहरे की रंगत साफ होती है। पाईनॅपल में इम्युनिटी बढ़ती है यह विटामिन सी और एंडी ऑक्सीडेंट का काम भी करता है। इसे लगाने का बेहतर तरीका यह है कि एक कटोरी में एक चम्मच पाईनॅपल का फ्लप और दो चम्मच नमक और एक
चम्मच शहद मिलाये। ये स्क्रब ऑईली चेहरे के लिये अच्छा होता है। ऑइली चेहरे के लिये स्क्रब पाईनॅपल में काफी सारा विटामिन सी होता है पर इसे सप्ताह में केवल एक बार ही लगाना चाहिये।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   6336497
 
     
Related Links :-
मुख्यमंत्री 25 को करेंगे खसरा-रूबैला टीकाकरण अभियान की शुरूआत
फंगल सक्रंमण देश के स्वास्थ्य सेवा के लिए एक महत्वपूर्ण चुनौती
उत्तरांचल हीरोज और स्प्रिंग होप मिलकर कैंसर से लड़ेंगे!
मनुष्य के शरीर में आंखें वह अंग हैं जिसका अधिक उपयोग किया जाता है: डॉ. रावल
अमेरिका में आयोजित विश्व बैठक में वेपिंग भारत का करेगा प्रतिनिधित्व
महिलाओं को खुद स्वास्थ्य पर ध्यान देना चाहिए
सेंधा नमक से निखरेगी त्वचा
फरीदाबाद में कैंसर से हुई सर्वाधिक मौत
हलाली डैम स्थित गौशाला में 545 दिनों में 2948 गायों की मौत
एम्स से संसद तक मार्च के लिए आज जुटेंगे 10 हजार डॉक्टर