समाचार ब्यूरो
10/01/2018  :  11:03 HH:MM
योग से रहेंगी स्वस्थ और आकर्षक
Total View  436

क्या आप जानती हैं योग के फायदे बहुत हैं, इसीलिए आपको योग को अपनी लाइफ स्टाइल में शामिल करना चाहिए। आमतौर पर देखा गया है कि महिलाएं अपनी सुंदरता के प्रति बहुत जागरूक होती हैं लेकिन हर समय अपने आप पर ध्यान देना संभव नहीं होता। ऐसे में महिलाओं के लिए जरूरी हो जाता है कि वे योगा करें।

यदि वे शारीरिक रूप से फिट रहेंगी तो उनकी सुंदरता भी खुद-ब-खुद निखर जाएगी। महिलाओं को छरहरी काया और फिटनेस की फ्रिक रहती हैं लेकिन उनके पास सरल और आसान उपाय नहीं होता लेकिन योग के जरिए वे अपनी इस समस्या को सुलझा सकती हैं।

इतना ही नहीं योगा के जरिए आप ना सिर्फ स्वस्थ रह सकती हैं बल्कि आप कई बीमारियों से बच सकती हैं लेकिन क्या आप जानते हैं योगा परिस्थितियों के हिसाब से किया जाता हैं। यानी आप बीमार हैं या आपको कोई गंभीर रोग है तो आपको कुछ योगासन करने के लिए मनाही होगी। इतना ही नहीं गर्भावस्था जैसी स्थितियों में भी आपको योगासन के दौरान बहुत सावधानी बरतनी होगी। ऐसे में ये सवाल उठता है कि महिलाओं के लिए योगासन कौन-कौन से हैं या फिर महिलाओं को किन योगासनों को नहीं करना चाहिए। महिलाओं को कब कौन से आसन करने चाहिए और कौन से नहीं। यहां ये भी सवाल उठता हैं कि महिलाओं के लिए योगा के लाभ कितने हैं और महिलाओं को योगा कैसे करना चाहिए।

महिलाओं के लिए योगा : श्वास क्रिया- महिलाओं को अपनी आवाज को सुरीला बनाने और सांस संबंधी समस्याओं से बचने के लिए श्वास क्रियाएं करनी चाहिए। वज्रासन- जो महिलाएं खाने के बाद टहल नहीं पाती और मोटापे व पेट संबंधी समस्याओं से भी बचना चाहती हैं तो इन्हें वज्रासन करना चाहिए। श्वा‍सन- श्वासन महिलाओं के लिए बहुत ही उपयुक्त आसन हैं क्योंकि शरीर को रिलैक्स करने और तनाव मुक्त होने और थकान उतारने के लिए श्वासन करना चाहिए। सूर्य नमस्कार- महिलाएं यदि अपने लिए समय नहीं निकाल पाती और योगासन को भी कम से कम समय देना चाहती हैं तो उन्हें सूर्य नमस्कार की 12 विधियों को करना चाहिए। इससे ना सिर्फ पूरे शरीर का व्यायाम हो जाता है बल्कि आप तरोताजा भी महसूस करेंगी। योगा के लाभ : महिलाओं के लिए योगा के बहुत फायदे हैं। महिलाओं को घर और बाहर के साथ-साथ और भी कई तरह की जिम्मेदारियां निभानी होती हैं जिसके कारण वे अपने आपको बिल्कुल समय नहीं दे सकती लेकिन जो महिलाएं योगा करती हैं वे योग के जरिए भी स्वस्थ रह सकती हैं। रोजाना योग से बढ़ती उम्र में होने वाली बीमारियों से आसानी से बच सकती हैं। गर्भावस्था के दौरान स्वस्थ रहने के लिए महिलाओं को योगा की बहुत जरूरत होती हैं क्योंकि इससे बच्चे का विकास भी ठीक तरह से होता है और प्रसव के दौरान और बाद में भी आने वाली सम स्‍याओं से बचा जा सकता हैं।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   7707302
 
     
Related Links :-
शिक्षा के साथ-साथ स्वास्थ जरूरी: रेनू सिंह
आर्य वीर नेत्र चिकित्सालय के कार्य सराहनीय :उमेश अग्रवाल
गंदगी में तब्दील हो चुके तालाब को पाईट कॉलेज बनाएगा सुंदर झील
लोग नशे जैसी कुरितियों को छोडक़र बच्चों को शिक्षा के लिए प्रेरित करे : सत्यदेव आर्य
जीवन के लिए वरदान है इलैक्ट्रोहोमयोपैथी: जीएल शर्मा
हील टोक्यो भारत में नि:शुल्क हीलिंग केंद्र खोलेगा
4 जनवरी से चालू है स्वच्छ सर्वेक्षण-2019 अन्य शहर की तरह गुरूग्राम शहर भी स्वच्छ सर्वेक्षण में ले रहा है हिस्सा
जन आरोग्य योजना : आयुष्मान भारत के तहत निर्धन परिवारों को 5 लाख तक का नि:शुल्क इलाज लाभार्थियों को मिला पीएम का संदेश पत्र
मेयर मधु आजाद ने नागरिकों को भेंट किए डस्टबिन
प्राइवेट अस्पतालों में भी मिल रहा है 5 लाख का मुफ्त इलाज