समाचार ब्यूरो
07/02/2018  :  11:24 HH:MM
सवालिया घेरे में डेरा की जांच रिपोर्ट
Total View  525

चंडीगढ़ हरियाणा में पिछले साल डेरा प्रकरण के बाद व्यापक पैमाने पर हिंसा के बाद डेरा सच्चा सौदा की जांच पर सवाल उठ गए हैं। पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट में मामले पर सुनवाई के दौरान कोर्ट मित्र अनुपम गुप्ता ने जांच का जिम्मा संभालने वाले कोर्ट कमिश्नर की जांच पर सवाल खड़े किए वहीं बैंच ने भी कड़ा रुख अपनाते हुए कुछ मुद्दों पर जहां सरकार को फटकार पड़ी वहीं कोर्ट कमिश्नर से अपनी रिपोर्ट को री- एग्जामिन करने के निर्देश दिए हैं। उल्लेखनीय है कि सरकार ने रिटायर्ड सेशन जज एके पंवार की अगुवाई में डेरा सच्चा सौदा की जांच करवाई थी।

सुनवाई के दौरान बैंच ने चल रही जांच पर सवाल खड़े करते हुए सरकार से पूछा कि घटना वाले दिन डेरा सच्चा सौदा के सिरसा स्थित मुख्यालय से सामान और नकद की दो-तीन गाडिय़ा निकलने की बात सामने आई है, वह कहां गई। जांच रिपोर्ट में ऐसा कुछ नजर नहीं आया है। पुलिस कैसी जांच कर रही है। इस पर कोर्ट मित्र ने आरोप लगाया कि जांच लचीले तरीके से की जा रही है। सुनवाई के दौरान डेरे की तरफ से दाखिल याचिका पर भी सवाल उठे। इस पर बैंच ने साफ कर दिया कि हमारा काम यह देखना है कि जांच सही हो हम जांच पर नजर रखगे। कोर्ट ने कहा कि अगर इस स्टेज पर हम जांच एजेंसी बदलते गए तो राज्य पर दवाब पड़ेगा। कोर्ट में मौजूद हरियाणा के एडवोकेट जनल बलदेव राज महाजन ने डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को गिरफ्तार किए जाने के बाद पंचकूला समेत राज्य के अन्य हिस्सों में आगनजी, तोडफ़ोड़ और दंगों पर विशेष जांच दल की रिपोर्ट कोर्ट में पेश की। उन्होंने बताया कि 203 केस में चालान पेश कर दिया है जब कि कुल केस
240 है। बैंच ने 25 अगस्त 2017 को घटना वाले दिन 25 गुमशुदा लोगो की पूर्ण जानकारी भी देने का विशेष जांच दल को आदेश दिया। बैंच ने डेरे में नष्ट मिली 65 हार्डडिस्क से डाटा रिकवरी व इन हार्ड डिस्क को नष्ट करने पर भी सरकार से जवाब तलब किया गया। हिंसा के मुख्य आरोपी आदित्य इंसा के अभी तक भी गिरफ्तारी न होने पर पुलिस को फटकार पड़ी। हाईकोर्ट इस मामले में पहले भी तल्ख टिह्रश्वपणी कर चुका है।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   5141955
 
     
Related Links :-
समझौता एक्सप्रेस ब्लास्ट केस में आया फैसला असीमानंद सहित सभी चारों आरोपी बरी
नीरव मोदी लंदन में गिरफ्तार
आखिर क्यों अवैध कब्जाधारियों पर मेहरबान नगरपालिका!
आयोग के कैं प ऑफिस/कोर्ट में 20 मामलों की सुनवाइ
पत्रकार निराला मामला: एनसीएससी ने दिए सीबीसीआईडी को जांच के आदेश
चंदा कोचर ने टैक्स हैवेन में जमा किए वीडियोकॉन और एस्सार समूह से मिले रिश्वत के पैसे
हुडा जिमखाना क्लब बैंकट हॉल के 110 करोड़ के घोटाले की जांच पर पर्दा : अभय जैन
भगोड़ें कारोबारी नीरव को झटका वेस्टमिंस्टर कोर्ट पहुंचा प्रत्यर्पण का मामला
12 फरवरी को पेश हों सीबीआई के पूर्व अंतरिम निदेशक नागेश्वर राव
मानेसर लैंड घोटाला और एजेएल मामला सीबीआई कोर्ट में पेश हुए पूर्व सीएम हुड्डा और वोहरा