समाचार ब्यूरो
10/02/2018  :  11:54 HH:MM
पहली बार दक्षिण अफ्रीका में एकदिवसीय सीरीज जीतने उतरेगी टीम इंडिया
Total View  342

जोहांसबर्ग टीम इंडिया यहां दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ शनिवार को चौथा एकदिवसीय क्रिकेट मुकाबला जीतकर सीरीज पर कब्जा करने उतरेगी। विराट कोहली की टीम इंडिया अभी तक सीरीज में 3-0 से आगे है। अभी तक भारतीय टीम ने अपने तीनों मैच आसानी से जीते हैं और उसके बल्लेबाज और गेंदबाज लय में हैं।

इसलिए इस मैच में भी भारतीय टीम का पलड़ा भारी है। भारतीय गेंदबाज काफी अच्छी गेंदबाजी कर रहे हैं जहां तक बल्लेबाजी का सवाल है विराट जबरदस्त फार्म में हैं। अगर टीम इंडिया ने यहां ये मैच जीत लिया तो वह भारतीय क्रिकेट इतिहास में पहली टीम बन जाएगी, जो अफ्रीका में द्विपक्षीय सीरीज अपने नाम करेगी। इसके साथ ही सीरीज के बाकी मैच औपचारिकता बनकर रह जाएंगे।वहीं दूसरी और मेजबान दक्षिण अफ्रीका सीरीज बचाने उतरेगी। पहले तीन मैचों में टीम का प्रदर्शन बेहद खराब रहा है। उसके लिए केवल राहत की बात यह है कि उसके स्टार बल्लेबाज एबी डिविलियर्स टीम के साथ जुड़ गये हैं।

मेजबानों को इस सीरीज में अपना सम्मान बचाए रखना है तो उसे किसी भी कीमत पर इस मैच को जीतना होगा। उसकी सारी उम्मीद अपने स्टार बल्लेबाज डिविलियर्स पर रहेंगी। उंगली में चोट के कारण वह तीन एकदिवसीय मैचों से बाहर थे। अफ्रीका का कोई भी बल्लेबाज अब तक भारतीय गेंदबाजी के सामने टिक नहीं सके हैं। ऐसे में ये मुकाबला काफी रोमांचक होने की संभावना है।अफ्रीका में द्विपक्षीय सीरीज में इससे पहले भारतीय टीम कभी दो से अधिक एकदिवसीय नहीं जीत पाई है। मेहमान टीम ने 1992-90 में सात मैचों की सीरीज 2-5 से गंवाई थी, जबकि 2010- 11 में भारत 2-1 की बढ़त बनाने के बाद पांच मैचों की सीरीज 2-3 से हार गई थी। इस बार उसके पास सीरीज पर कब्जा करने का सुनहरा मौका है।डिविलियर्स के लौटने से अफ्रीकी टीम ने राहत की सांस ली है। निश्चित रूप से उनके आने से टीम की लचर बल्लेबाजी मजबूत होगी। डिविलियर्स का रिकॉर्ड देखें तो उन्हें ये मैदान खूब पसंद आता है। इसी मैदान पर डिविलियर्स ने एकदिवसीय में सबसे तेज शतक लगाने का रिकॉर्ड बनाया था। 2015 में वेस्टइंडीज के खिलाफ खेले गए मैच में डिविलियर्स ने 31 गेंदों में शतक लगाया था। डिविलियर्स ने 59 गेंदों में 149 रन बनाए थे, जिसमें 16 छक्के और 9 चौके शामिल थे। उस समय अफ्रीका ने 50 ओवर में 2 विकेट पर 439 रनों स्कोर बनाया था। यहां अफ्रीका के खिलाफ टीम इंडिया ने 5 मैच खेले हैं। इसमें उसे सिर्फ एक बार जीत मिली है। वह भी रोमांचक मुकाबले में 1 रन से तीन मैच में उसे हार का सामना करना पड़ा है और एक मैच रद्द हो गया था। टीम इंडिया के स्पिनर युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव भी काफी अच्छी गेंदबाजी कर रहे हैं जबकि तेज गेंदबाज मो शमी, भुवनेशवर कुमार और जसप्रीत बूमराह भी शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   3201126
 
     
Related Links :-
गोस्वामी गणेश दत्त क्रिकेट : रामपाल अकादमी प्री-क्वार्टर फ ाइनल में
एशियाई खेलों के कोचिंग कैंप से बाहर हुई हरियाणा की फोगाट बहनें
शशांक मनोहर दोबारा बने आईसीसी चेयरमैन
मुंबई और पंजाब के बीच ‘करो या मरो’ का मुकाबला आज
सुशील को कभी डांटने की जरूरत नहीं पड़ी : सतपाल
फुटबाल में भी बेहतर करियर : शेर सिंह चौहान
प्रणीत और समीर आस्ट्रेलियाई ओपन बैडमिंटन के क्वार्टर फाइनल में पहुंच
चेन्नई से राजस्थान रॉयल्स की कड़ी परीक्षा
पट्टीकल्याणा की पहलवान बेटी को किया गया सम्मानित
हरियाणा में लड़कियों को ज्यादा सुविधाएं मिल रही है : मनु भाकर