समाचार ब्यूरो
10/02/2018  :  11:55 HH:MM
भारतीय योग और दर्शन से प्रभावित हैं श्वेदोवा
Total View  523

नई दिल्ली > कजाखस्तान की शीर्ष टेनिस खिलाड़ी यारोस्लाव श्वेदोवा भारतीय संस्कृति से काफी प्रभावित हैं। श्वेदोवा ने अपना पहला डब्ल्यूटीए महिला एकल खिताब भारत में ही बेंगलुरु में 2007 में जीता था। इस बार वह कजाखस्तान की फेड कप टीम के साथ यहां आई हैं, लेकिन टखने की चोट के कारण खेल नहीं पा रही हैं।

श्वेदोवा ने अभी गीता के संदेश को पूरी तरह नहीं समझा है, पर उन्हें भरोसा है कि जीवन को लेकर भारतीय तत्वज्ञान सबसे अलग है और अन्य धार्मिक सामग्रियों से अधिक समृद्ध है। कई खिताब विजेता श्वेदोवा ने कहा, ‘कुछ साल पहले मैंने योग शुरू किया और इस साल स्वदेश में अस्ताना में जीवन को लेकर सेमिनार था। एक
व्यक्ति था, वह धर्म के बारे में विस्तार से बता रहा था। मेरी दिलचस्पी जागी और कुछ किताबें खरीदी।’ उन्होंने कहा, ‘मेरे लिए आपका धर्म मानवता के करीब है। यह जीवन के बारे में सब कुछ विस्तार से बताता है। मुझे यह सीखने की उम्मीद है।’ श्वेदोवा ने भारत पर कजाखस्तान की 2-1 की जीत के बाद कहा, ‘यह किताब (गीता) काफी दिलचस्प है, यह जीवन को युद्ध (महाभारत) के जरिए बताती है। मेरी लिए अभी यह नाया है, शायद अगली बार आप मुझे बेहतर देखोगे।’






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   6838132
 
     
Related Links :-
हरियाणा स्टाइल कबड्डी प्रतियोगिता में 25 टीमों ने लिया हिस्सा
अखिल भारतीय फ्रीस्टाईल इनामी कुश्ती 22 से 24 मार्च
जिला स्तरीय खेलकूद प्रतियोगिता 16-17 मार्च को
गंभीर को पद्म श्री सम्मान
बांग्लादेश क्रिकेट स्वदेश रवाना हुई टीम
यूके्रन से सोना जीत लाए गुरुग्राम के वेट लिफ्टर
पिंकाथन दौड़ : धावकों को बांटे गए पुरस्कार
श्रीसंत को मिली बड़ी राहत, सुप्रीम कोर्ट ने आजीवन प्रतिबंध हटाया
विश्व कप से पहले टीम इंडिया की कमजोरियां आईं सामने
आईपीएल : दिल्ली कैपिटल्स के सलाहकार बने गांगुली