समाचार ब्यूरो
10/02/2018  :  11:55 HH:MM
भारतीय योग और दर्शन से प्रभावित हैं श्वेदोवा
Total View  344

नई दिल्ली > कजाखस्तान की शीर्ष टेनिस खिलाड़ी यारोस्लाव श्वेदोवा भारतीय संस्कृति से काफी प्रभावित हैं। श्वेदोवा ने अपना पहला डब्ल्यूटीए महिला एकल खिताब भारत में ही बेंगलुरु में 2007 में जीता था। इस बार वह कजाखस्तान की फेड कप टीम के साथ यहां आई हैं, लेकिन टखने की चोट के कारण खेल नहीं पा रही हैं।

श्वेदोवा ने अभी गीता के संदेश को पूरी तरह नहीं समझा है, पर उन्हें भरोसा है कि जीवन को लेकर भारतीय तत्वज्ञान सबसे अलग है और अन्य धार्मिक सामग्रियों से अधिक समृद्ध है। कई खिताब विजेता श्वेदोवा ने कहा, ‘कुछ साल पहले मैंने योग शुरू किया और इस साल स्वदेश में अस्ताना में जीवन को लेकर सेमिनार था। एक
व्यक्ति था, वह धर्म के बारे में विस्तार से बता रहा था। मेरी दिलचस्पी जागी और कुछ किताबें खरीदी।’ उन्होंने कहा, ‘मेरे लिए आपका धर्म मानवता के करीब है। यह जीवन के बारे में सब कुछ विस्तार से बताता है। मुझे यह सीखने की उम्मीद है।’ श्वेदोवा ने भारत पर कजाखस्तान की 2-1 की जीत के बाद कहा, ‘यह किताब (गीता) काफी दिलचस्प है, यह जीवन को युद्ध (महाभारत) के जरिए बताती है। मेरी लिए अभी यह नाया है, शायद अगली बार आप मुझे बेहतर देखोगे।’






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   7169488
 
     
Related Links :-
22 पदक विजेता खिलाडिय़ों को इनाम की पूरी राशि से नवाजेगी सरकार
हजारों विद्यार्थियों व ग्रामीणों ने ली योग के प्रसार की शपथ
ऋतिक ने विश्व श्रवण निशक्त कुश्ती में जीता ब्रांज
मैराथन में विजेता का खिताब मिला नीशू, हिमांशु और देवेंद्र पहल को
चंडीगढ़ करेगा कयाकिंग और कैनोइंग के वरिष्ठ राष्ट्रीय चैंपियनशिप की मेजबानी
कौशल तराशने के लिए उठाये जा रहे कदम
महिला हॉकी त्न स्पेन ने भारत को 3-0 से हराया
सॉकर डायरी : फीफा वल्र्ड कप
इस बार सभी टीमों में हैं उम्रदराज खिलाड
‘तंदरुस्त पंजाब मिशन’ की सफलता के लिए खेल विभाग ने बनाया विस्तृत प्रोग्राम