समाचार ब्यूरो
11/02/2018  :  18:36 HH:MM
प्रशंसक ने गलत तरीके से पकड़ा तिरंगा तो आफरीदी ने दी नसीहत
Total View  342

सेंट मोरित्ज त्न स्विट्जरलैंड के सेंट मोरित्ज में शाहिद अफरीदी रॉयल्स इलेवन ने सहवाग डायमंड्स इलेवन से आइस क्रिकेट सीरीज 2-0 से जीत ली। इस दौरान पूर्व पाकिस्तानी दिग्गज शाहिद अफरीदी ने कुछ ऐसा किया, जिसके बाद भारतीय क्रिकेट के प्रशंसक भी उनकी तारीफ करने से खुद को नहीं रोक पाए।

शाहिद आफरीदी ने गलत तरीके से तिरंगा पकड़े फोटो खिंचाने के लिए पहुंची एक भारतीय प्रशंसक को झंडा ठीक से पकडऩे की नसीहत दी। अफरीदी का यह वीडियो सोशल मीडिया पर खू वायरल हो रहा है। दरअसल, यह आइस सीरीज अल्पाइन पर्वत श्रेणियों की जमी हुई सेंट मोरित्ज झील पर कृत्रिम रूप से तैयार
की गई पिच पर खेली गई। कड़ाके की ठंड के बावजूद यहां पहुंचे दर्शकों में जबर्दस्त जोश देखने को मिला। इस दौरान अपने-अपने चहेते खिलाडिय़ों के साथ सेल्फी लेने के अलावा उनके ऑटोग्राफ लेने का भी दौर चला। शाहिद अफरीदी भी दर्शकों से रू-ब-रू हुए। मजे की बात यह है कि न सिर्फ अफरीदी के पाकिस्तानी फैंस, बल्कि इंडियन फैंस भी उनसे मिलने को बेताब दिखे। अफरीदी भी खुद को नहीं रोक पाए उन्होंने बारी-बारी से प्रशंसकों के साथ तस्वीरें खिंचवाईं और ऑटोग्राफ दिए। इस दौरान इंडियन फैंस तिरंगा लेकर खड़े दिखे। अफरीदी ने उनके साथ भी फोटो खिंचवाई, लेकिन उन्होंने जैसे ही तिरंगे की ओर नजर डाली, तो उसे पूरा खुला नहीं पाया। उन्होंने कहा ‘फ्लैग सीधा करो’ और इसके बाद ही फोटो खिंचवाई। तिरंगे के प्रति इस सम्मान के बाद सोशल मीडिया पर अफरीदी की खूब तारीफ हो रही है।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   347548
 
     
Related Links :-
एशियाई खेलों के कोचिंग कैंप से बाहर हुई हरियाणा की फोगाट बहनें
शशांक मनोहर दोबारा बने आईसीसी चेयरमैन
मुंबई और पंजाब के बीच ‘करो या मरो’ का मुकाबला आज
सुशील को कभी डांटने की जरूरत नहीं पड़ी : सतपाल
फुटबाल में भी बेहतर करियर : शेर सिंह चौहान
प्रणीत और समीर आस्ट्रेलियाई ओपन बैडमिंटन के क्वार्टर फाइनल में पहुंच
चेन्नई से राजस्थान रॉयल्स की कड़ी परीक्षा
पट्टीकल्याणा की पहलवान बेटी को किया गया सम्मानित
हरियाणा में लड़कियों को ज्यादा सुविधाएं मिल रही है : मनु भाकर
पंजाब के दो पावर लिटरों ने जीते स्वर्ण पदक