समाचार ब्यूरो
07/03/2018  :  13:00 HH:MM
प्रयास इन्टरनेशनल स्कूल में आचार्य श्रीसुन्दर सागर महाराज व दर्जन जैन संतों का किया स्वागत
Total View  420

गन्नौर जीटी रोड स्थित प्रयास इंटरनेशनल स्कूल में बुधवार को आचार्य सुन्दर सागर महाराज के साथ दर्जन जैन संत पहुंचे। संतों के समूह का पानीपत से इन्दौर जाते हुए स्कूल पहुंचने पर स्कूल के एम. डी. डा. संजय जैन, अमित बत्रा के अलावा जैन समाज के लोगों ने भव्य स्वागत किया। भक्तों का उत्साह देखते ही बनता था।
आचार्य सुन्दर सागर महाराज ने प्रवचनों की रसधारा प्रवाहित करते हुए कहा कि उपदेश के बिना भी विद्या प्राप्त हो सकती है। जिस राह नहीं चलते वहां रास्ता नहीं, यह धारणा नहीं बनाना चाहिए। कुछ लोग होते हैं, जो रास्ता बनाते जाते हैं। महापुरुष आगे चलते जाते हैं और रास्ता बनता जाता है। आचार्यश्री ने कहा कि समवशरण में सब कुछ प्राप्त हो जाता है किंतु सम्यग्दर्शन मिले, जरूरी नहीं। बाहरी कारण मिलने के साथ भीतरी कारण मिले, यह नियम नहीं होता। मोक्ष मार्ग का निरूपरण करते समय स्वयं को संयत कर लेना चाहिए, वरना स्वयं के साथ-साथ मोक्ष मार्ग का भी बिगाड़ हो जाता है। जिस तरह सूर्य, चंद्रमा और दीपक से अलग-अलग रोशनी मिलती है। जिस तरह गाय अपने बछड़े के प्रति वात्सल्य भाव रखती है। जो केवल ज्ञान का विषय होता है वह उसे मति ज्ञान और श्रुत ज्ञान का विषय नहीं बना सकते हैं।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   905190
 
     
Related Links :-
बदइंतजामी और लापरवाही का दर्दनाक परिणाम है अमृतसर की घटना : गोयल
प्रजा को संतुष्ट रखने के लिए उन्होंने मां सीता को अग्नि परीक्षा देने के लिए कहा श्री राम के लिए परिवार से बड़ा राजधर्म : अलका गौरी
महिलाओं का उत्पीडऩ करने वाले रावण रूपी राक्षसों का अन्त जरूरी : रविन्द्र जैन
रोडवेज कर्मचारियों के समर्थन में कटोरा लेकर निकलेंगे नवीन जयहिंद
नवजोत सिद्धू के बचाव में आए पूर्व रेल मंत्री बंसल
जलनिकासी के कार्य की समीक्षा बैठक में बोले कृषि मंत्री जलभराव की समस्या से निपटने के लिए तेजी लाएं : धनखड
एसएफआई जिला कमेटी ने काली पट्टी बांध कर जताया रोष
रेल दुर्घटना को लेकर स्‍थानीय लोगों में रोष
राजनीति के भेंट चढ़े सुलगते सवाल
पूर्णाहूति के साथ सम्पन्न हुआ रामकथा महोत्सव