समाचार ब्यूरो
07/03/2018  :  13:02 HH:MM
फरीदाबाद में कैंसर से हुई सर्वाधिक मौत
Total View  442

चंडीगढ़ हरियाणा में प्रत्येक दो घंटे में कैंसर से एक व्यक्ति की मौत हो रही है। प्रदेश में लगातार यह तीसरा साल है जब कैंसर से मरने वालों की संख्या में अभूतपूर्व वृद्धि दर्ज की गई है। हरियाणा सरकार ने मंगलवार को विधानसभा के पटल पर पिछले तीन वर्षों के दौरान कैंसर से होने वाली मौत के संबंध में अपनी रिपोर्ट पेश की है। जिसमें कई चौंका देने वाले तथ्य सामने आए हैं।
अब तो हालात यह हो गए हैं कि पंजाब की तर्ज पर कैंसर पीडि़तों को सीधे सहायता राशि प्रदान करने की मांग भी उठने लगी है। विधानसभा में जुलाना के विधायक परमिंदर सिंह ढुल्ल द्वारा उठाए गए सवाल के जवाब में स्वास्थ्य मंत्री ने रिपोर्ट पेश करते हुए यह स्वीकार किया है कि वर्तमान हालातों में प्रदेश का कोई भी जिला ऐसा नहीं है जहां कैंसर की बीमारी ने अपने पांव नहीं पसारे हों। रिपोर्ट में कहा गया है कि पंजाब के सीमावर्ती जिलों के साथ-साथ राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के अंतर्गत आते जिलों में भी कैंसर अचानक बड़ी तेजी से फैल रहा है। रिपोर्ट के अनुसार वर्ष 2015 में कैंसर के कारण जहां प्रदेश में कुल 3380 मौत हुई थी वहीं 2016 में यह आंकड़ा बढक़र 378 2 तक पहुंच गया और पिछले साल हरियाणा में कैंसर से मरने वालों की संख्या का आंकड़ा 4592 दर्ज किया गया है। इस साल भी जनवरी माह के दौरान हरियाणा में कैंसर के कारण 337 लोगों की मौत हो चुकी है।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   3324150
 
     
Related Links :-
ईको ग्रीन कंपनी पर अरावली की पहाडियों में खुले में कूड़ा जलाने का आरोप
पौधरोपण में नजर आया महिला सशक्तिकरण का प्रभाव
ग्रीन गुरुग्राम के लिए पौधागिरी अभियान में सहयोग दें: उपायुक्त
पीडि़त बच्चों ने दिया कैंसर से बचने का संदेश
तीन दिन से फैली राख के कारण लग रहा है जाम
कूड़ा उठान की समस्या के चलते स्थानीय निवासी खासे परेशान
आयुष्मान भारत-हरियाणा स्वास्थ्य संरक्षण मिशन का शुभारंभ जल्द
कैंसर से रहें सावधान
लघु सचिवालय परिसर में उपायुक्त ने किया पौधा रोपण
पौधागिरी अभियान : निशुल्क वितरित किए 50 लाख पौधे