समाचार ब्यूरो
09/03/2018  :  11:29 HH:MM
हादिया की शादी पर सुप्रीम मुहर, हाईकोर्ट का फैसला पलटा
Total View  402

नई दिल्ली केरल के कथित लव जिहाद मामले में सुप्रीम कोर्ट ने बड़ा फैसला सुनाते हुए हादिया उर्फ अखिला अशोकन के निकाह को फिर से बहाल कर दिया है। कोर्ट ने केरल हाईकोर्ट के उस फैसले को भी पलट दिया है, जिसमें शादी की वैधता को रद्द किया गया था। इस फैसले के बाद हादिया अब अपने पति के साथ रह सकेंगी। वहीं कोर्ट ने कहा कि एनआईए इस मामले से निकले पहलुओं की जांच जारी रख सकेगी।

कोर्ट के बाहर शफी के वकील ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने इस फैसले से हादिया को आजादी मिली है। सुप्रीम कोर्ट ने हाईकोर्ट का फैसला पलटते हुए कहा कि हादिया की शादी को रद्द करने का फैसला गलत था। हादिया अपनी पढ़ाई जारी रख सकती है और जो वह चाहती है, कर सकती है। बता दें कि पिछले साल हादिया ने
मुस्लिम धर्म अपनाकर शफी जहां नामक शख्स से निकाह किया था। इसके बाद लडक़ी के पिता अशोकन केएम ने इस मामले को लेकर कोर्ट में गुहार लगाई थी। केरल हाईकोर्ट ने इसे लव जिहाद का मामला मानते हुए शादी को रद्द कर दिया था। हादिया के पति शफी ने हाईकोर्ट के फैसले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी थी। अब फैसला हादिया के पक्ष में आ गया है। इससे पहले इस मामले की सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने एनआईए को झटका देते हुआ कहा था कि हादिया बालिग है और उसे अपनी मर्जी से शादी करने का अधिकार है, इसलिए एनआईए शादी की वैधता की जांच नहीं कर सकती है।

चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा की अध्यक्षता वाली तीन सदस्यीय पीठ ने कहा कि अगर लडक़ा-लडक़ी कहते हैं कि उनकी शादी हुई है तो इसकी जांच नहीं हो सकती। हालांकि, कोर्ट ने लव जिहाद के मामलों पर जांच का आदेश वापस लेने पर कुछ नहीं कहा। वहीं हादिया उर्फ अखिला अशोकन ने सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दायर कर कहा था कि वह मुस्लिम है और मुस्लिम बने रहना चाहती है। 25 साल की हादिया ने यह भी कहा कि वह अपने पति शफी जहां के साथ ही रहना चाहती है, जिनसे शादी के लिए उन्होंने अपना धर्म बदलते हुए इस्लाम कबूल किया था।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   8438258
 
     
Related Links :-
यशपाल यादव को राष्ट्रीय शिक्षा रत्न अवॉर्ड
राजीव नगर में गुरुग्राम विधायक और मेयर ने किया समर्सिबल का शुभारंभ
विकास की गति को रुकने न दें, करनाल का माहौल हुआ भाजपामय : रेनूबाला
इस वर्ष की अंतिम राष्ट्रीय लोक अदालत
हरियाणा में भी भाजपा की उल्टी गिनती शुरू : सुरजेवाला
लोकसभा चुनावों से पहले माफी के लिए श्री अकाल तख्त साहिब पहुंचा अकाली
महिलाओं को नि:शुल्क हेलमेट प्रदान कर सुरक्षा के प्रति किया गया जागरुक
एंग्री मैन लड़ेगा अब शहीदों के हक की लड़ाई
भूलों पर माफी मांगने का कदम बादलों का राजनैतिक नाटक
बादल पिता-पुत्र ने मांगी 10 साल के राज में हुई गलतियों की माफी