समाचार ब्यूरो
18/03/2018  :  13:42 HH:MM
अकेली खेती और नौकरी से नहीं होगा लोगों का उत्थान
Total View  353

सोनीपत केंद्रीय इस्पात मंत्री बीरेंद्र सिंह ने वैदिक ज्ञान योग महाविद्यालय गुरुकुलम् जुंआ को 11 लाख रुपये की अनुदान राशि की घोषणा करते हुए कहा कि हरियाणा के लोगों का उत्थान अकेली खेती व अकेली नौकरी से संभव नहीं है। उन्होंने गुजरात का उदाहरण देते हुए कहा कि सुदृढ़ विकास के लिए व्यापार और उद्योग को अपनाने की आवश्यकता है।

केंद्रीय मंत्री बीरेंद्र सिंह शनिवार को जुंआ गांव स्थित वैदिक ज्ञान योग महाविद्यालय गुरुकुलम् के वार्षिकोत्सव में उपस्थित आर्य जनसमूह को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि गुजरात में करीब डेढ़ लाख पुलिसकर्मी हैं जिनमें अधिकांश अन्य राज्यों के हैं। अर्थात् गुजरात के लोग व्यापार व उद्योग में
विश्वास रखते हैं। यही कारण है कि गुजरात को विकास के रोल माडल के रूप में प्रस्तुत किया जाता है। उन्होंने कहा कि यह विषमता का दौर है, जिसमें 100 पैसों में से 57 पैसे मात्र एक प्रतिशत लोगों के पास है जबकि शेष 99 प्रतिशत लोगों को 43 पैसों में गुजारा करना पड़ रहा है। इसलिए हरियाणा के लोगों को खासतौर से ग्रामीण अंचल में बसने वाले समाज को स्वस्थ प्रतिस्पर्धा की ओर बढ़ते हुए व्यापार-उद्योग को अपनाना होगा। सीमित लोगों की आर्थिक स्थिति सुदृढ़ होने से समाज का कल्याण संभव नहीं है। उन्होंने कहा कि समाज में बड़े-छोटे का आकलन संपदा से किया जाता है। इस मानसिकता को बदलना होगा, जिसके लिए आर्य समाज ने प्रयास किया है। हरियाणा में करोड़पतियों की संख्या बढ़ी : केंद्रीय मंत्री ने कहा कि आंकड़े बताते हैं कि करोड़पतियों की संख्या बढ़ी है, किंतु निराशाजनक स्थिति सामने आती है कि गरीबी भी बढ़ती है। जब तक करोड़पतियों की संख्या बढऩे के साथ गरीबी कम नहीं होगी तब तक समाज की दिशा को सही की संज्ञा नहीं दी जा सकती। उन्होंने कहा कि आर्य समाज ने सदैव ही समाज को सही दिशा की तरफ मोड़ा है। स्वामी दयानंद केवल धार्मिक सोच तक सीमित नहीं थे, वे संपूर्ण मानव जाति के उत्थान में विश्वास रखते थे। आर्थिक व्यवस्था मान्यताओं को खत्म कर देती है। वामदलों ने वर्ण विहिन समाज की वकालत की है जबकि स्वामी दयानंद की क्रांतिकारी सोच इससे भी आगे बढकऱ थी, जिनका कहना था कि माता-पिता की मृत्यु पश्चात् उनकी जीवनभर की संपदा उनकी संतानों की नहीं बल्कि समाज की होगी।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   6618254
 
     
Related Links :-
बी.एस.एफ. ने मनाया चौथा ‘अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस’
यूपी में टी-शर्ट पहनकर सीएम योगी ने किया योग, राजनाथ भी रहे मौजूद
योग का प्राचीन विज्ञान भारत का आधुनिक विश्व को अमूल्य उपहार : उपराष्ट्रपति नायडू
योग हमारी प्राचीन जीवन पद्धति है : रमन मलिक
कबीर जयंती 28 को सरकारी तौर पर उत्सव की तरह मनायी जाएगी
मंत्री और आला अधिकारी बताएंगे विभागों की उपलब्धिया
फिर से विश्व गुरू बनने की राह पर है भारत : कविता जैन
बांध सुरक्षा विधेयक के प्रस्ताव को मोदी कैबिनेट से स्वीकृति
कांग्रेस ने की केंद्र सरकार की घेराबंदी
आईटीआई प्रशिक्षण पास आऊट युवाओं से आह्वïान