समाचार ब्यूरो
18/03/2018  :  14:16 HH:MM
वामपंथ के 100 संगठन लामबंद होने को तैयार
Total View  347

नई दिल्ली लोकसभा चुनाव के एक साल का समय रह गया हैं इस देखते हुए मोदी सरकार को घेरने की तैयारी में विपक्ष जुट गया है। इसी कड़ी में वामपंथ के संगठन भी एकजुट हो रहे है। दरअसल केंद्र सरकार की नीतियों के खिलाफ वामपंथी पार्टियों से संबद्ध 100 संगठन सभी राज्यों की राजधानियों में 23 मई को विरोध प्रदर्शन करने की तैयारी में व्यापारी संगठनों की शीर्ष इकाई जन एकता जन अधिकार आंदोलन (जेईजेएए), किसान संगठन, कृषि श्रमिक, राज्य और केंद्र सरकार के कर्मचारी, बैंक और बीमा कर्मी, कॉलेज एवं विश्वविद्यालय के शिक्षक, छात्र, महिला, दलित, आदिवासी और पर्यावरणविद 23 मई को विरोध प्रदर्शन में हिस्सा लेने वाले है। समन्वय समिति के सदस्य हन्नान मोल्ला ने बताया, किसानों, श्रमिकों और अन्य वर्गों के संघर्ष को आगे ले जाते हुए जेईजेएए ने केंद्र सरकार में राजग के चार साल पूरा होने के मौके पर प्रदर्शन करने का निर्णय लिया है। मोल्ला ने कहा 23 मई को जेईजेएए दिल्ली सहित अन्य राज्य की राजधानियों में लोगों को जुटाकर विरोध प्रदर्शन करेगा।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   4457715
 
     
Related Links :-
सिविल सेवा परीक्षा 2017 में चयनित उम्मीदवारों का होगा सम्मान
मलशोधन परियोजनाओं के विस्तार और जल शोधन प्रतिक्रियाओं को सहयोगा देगा केंद्र
विधायक उमेश अग्रवाल ने खुलवाई नगर निगम की सील की गई दुकाने
शिक्षा के स्तर में सुधार के लिए शिक्षा व नवाचार परिषद का गठन : विनय सिंह
परमाणु ऊर्जा : राष्ट्र की ऊर्जा विषय पर निबंध लेखन
गुरुग्राम-फरूखनगर ब्लॉको को शैक्षणिक रूप से सक्षम बनाने के लिए किया चिन्ह्ति
‘बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ’ अभियान के तहत जागरूकता कार्यक्रम
एसवाईएल निर्माण पर दोनों बड दलों ने राजनीति की है : चौटाला
25 जून से 1 जुलाई तक सभी जिलों में कार्यक्रम
निराकरण के लिए एकजुट प्रयास जरूरी : उपायुक्त