Breaking News
लघू सचिवालय के सभागार में डिजीटल हरियाणा कार्यशाला  |  बच्चों की सुरक्षा से कोई समझौता नहीं, सभी मामलों पर कड़ा संज्ञान लिया : जस्टिस मित्तल  |  अनाधिकृत निर्माणों, अतिक्रमण और विज्ञापनों के खिलाफ निगम की कार्रवाई जारी  |  जीवन में भी धार्मिक परंपराओं का विशेष महत्व : उमेश अग्रवाल  |  डिजीटल हरियाणा कार्यशाला का होगा आयोजन हरपथ ऐप पर प्राप्त शिकायतों के निपटारे के लिए अधिकारियों को मिलेगा प्रशिक्षण  |  रोटरी दिवस पर क्लब ने लगाया रक्तदान शिविर  |  बच्चों को प्रेरणा व जागरूक करने के लिए सेमिनार  |  बेहतर भविष्य के लिए सामाजिक ताने-बाने को मजबूत करना होगा: जस्टिस मित्तल  |  
 
 
समाचार ब्यूरो
20/03/2018  :  16:11 HH:MM
अवैध निर्माणों के खिलाफ कार्रवाई
Total View  387

गुरुग्राम नगर निगम गुरूग्राम द्वारा आज आयुध डिपो के प्रतिबंधित दायरे में अवैध निर्माणों के खिलाफ कार्रवाई की। इस कार्रवाई के लिए संयुक्त निगमायुक्त-2 अनु को ड्यूटी मजिस्टे्रट नियुक्त किया गया था। ड्यूटी मजिस्ट्रेट के नेतृत्व में नगर निगम गुरूग्राम की टीम ने भारी पुलिस बल के साथ प्रतिबंधित क्षेत्र में 16 फ्लैट तथा 9 दुकानों को सील किया तथा 11 निर्माणाधीन भवनों को तोडऩे की कार्रवाई की।

टीम में नगर निगम की इनफोर्समैंट विंग के सहायक अभियंता सत्यवान, राजीव यादव व दलीप सिंह यादव, डीटीपी इनफोर्समैंट मोहन सिंह, कनिष्ठ अभियंता धीरज कुमार, अरूणदीप भारद्वाज एवं भरत, पालम विहार थाना प्रभारी प्रवीण मलिक सहित महिला एवं पुरूष पुलिस बल तैनात था। उल्लेखनीय है कि आयुध डिपो
के प्रतिबंधित क्षेत्र में माननीय उच्च न्यायालय द्वारा नए निर्माणों पर प्रतिबंध लगाया हुआ है।

इन निर्देशों की पालना में नगर निगम गुरूग्राम द्वारा आज अवैध निर्माणों के खिलाफ कार्रवाई की गई। इस कार्रवाई के लिए संयुक्त निगमायुक्त-2 अनु श्योकंद, जो कि इस क्षेत्र के लिए नोडल अधिकारी भी नियुक्त हैं, उनके नेतृत्व में टीम ने कार्रवाई की। हालांकि किसी भी प्रकार के विरोध से निपटने के लिए 100 से अधिक
पुलिसकर्मी तैनात रहे। इनमें महिला एवं पुरूष पुलिस कर्मी शामिल थे।

पूरी कार्रवाई शांतिपूर्ण ढ़ंग से संपन्न हुई। नगर निगम गुरूग्राम एवं जिला प्रशासन द्वारा नागरिकों से अपील की गई है कि वे प्रतिबंधित दायरे में किसी प्रकार का निर्माण ना करें और माननीय उच्च न्यायालय के निर्देशों की पालना करें। प्रतिबंधित दायरे में किसी भी प्रकार के नए निर्माण को सहन नहीं किया जाएगा और अगर
कोई ऐसा करता है, तो निर्माण को तोडऩे के साथसाथ संबंधित के खिलाफ एफआईआर भी दर्ज करवाई जाएगी। साथ ही नागरिकों से यह भी अपील है कि वे प्रतिबंधित क्षेत्र में ह्रश्वलॉट, मकान या दुकानों की खरीदफ रोख्त ना करें।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   7900781
 
     
Related Links :-
अनाधिकृत निर्माणों, अतिक्रमण और विज्ञापनों के खिलाफ निगम की कार्रवाई जारी
पूर्व कांग्रेसी विधायक पर 1984 सिख कत्लेआम की गवाह को खरीदने के लगे आरोप
कांग्रेस पर बूथ कैह्रश्वचरिंग के लगे आरोप
हरियाणा को फिर किया शर्मसार
दहेज उत्पीडऩ केस में सुप्रीम कोर्ट ने पलटा खुद का निर्णय सेफगार्ड किया खत्म
गैर मान्यता प्राप्त निजी स्कूलों के प्रति हाईकोर्ट का रुख सख्त
पुलिस ने चलाया चेकिंग अभियान
सोनीपत में गौतस्करी के आरोप में युवक की पिटाई कर किया आधे सिर का मुंडन
घरौंडा से लापता व्यक्ति का शव रोहतक रजवाहे से मिला, सनसनी
चार साल पहले हुई हेल्थ काउंसलर की भर्ती फर्जीवाड़े में बड़ी कार्रवाई तत्कालीन सीएमओ, डिह्रश्वटी सीएमओ समेत नौ लोगों पर मामला दर्ज