समाचार ब्यूरो
20/03/2018  :  16:15 HH:MM
मुल्क की हिफाजत में महिलाओं की बराबर की भागीदारी
Total View  424

अभी हाल ही में भारतीय जमीनी, हवाई और पानी की सेनाओं ने कुछ खुसूसी दर्जों में जो कि अभी तक केवल पुरुषों के लिए आरक्षित थे, महिलाओं को भर्ती के लिए दरवाजे खोल दिए हैं ।यह दिखाता है कि मुल्क महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए तेजी से आगे बढ़ रहा है। हमारे मुल्क में कहा जाता है कि जिस घर में नारी का सम्मान होता है वहां हमेशा लक्ष्मी बरसती है और खुशहाली रहती है।
पुराने समय में भी महिलाओं को ऊंचा दर्जा मिला हुआ था और आजादी की लड़ाई में हमें झांसी की रानी- लक्ष्मीबाई ,चांद बीबी, अहिल्याबाई, भीकाजी कामा इत्यादि के योगदान को भुलाना नहीं चाहिए। आजादी के बाद भी औरतों ने मुल्कों को आगे ले जाने में अपना योगदान दिया है। इसके बावजूद अभी महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए बहुत गुंजाइश है ।अब तक महिलाएं जो की आबादी का लगभग आधा हिस्सा है ,पूरे तौर पर पुरुषों के साथ बराबरी से कंधे से कंधा मिलाकर आगे नहीं आ पाई हैं । कुछ पुरानी और पिछड़ी मानसिकता के लोग औरतों को पुरुषों के बराबर नहीं मानते। उनकी यह जि़द इस कारण है कि वह महिलाओं से ज्यादा ताकतवर है और उनमें ज्यादा क्षमता है।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   891267
 
     
Related Links :-
महिला आयोग, प्रशासन तथा पुलिस मिलकर करेंगे महिला सुरक्षा को सुदृढ़ दुर्गा शक्ति एैप के प्रयोग को बढ़ावा देगा महिला आयोग : प्रीति भारद्वाज
वैकल्पिक शिक्षा प्रणाली को मुख्य शिक्षा प्रणाली बनाना समय की मांग
हिन्दुस्तान स्काउट्स एवं गाइड का शिविर
मॉरिशिस के अंदर बसता है भारत : परमशिव पिल्लै वयापुरी
भाजपा के खिलाफ खड़े हो रहे हैं विपक्षी दल पांचों नगर निगम के चुनाव जीतेगी भाजपा : कर्णदेव काम्बोज
पंजाब विधानसभा में कमलनाथ को मुख्यमंत्री बनाए जाने का विरोध
सीएम अमरिंदर सिंह सदन में सर्वसम्मति से प्रस्ताव पास करके कॉरिडोर का स्वागत किया करतारपुर साहिब कॉरिडोर ‘अमन का सेतु’
विपक्षी एकता पर मनोहर वार, कभी नहीं घेर सकते भ्रष्टाचार पर चुनाव प्रचार के अंतिम दिन मुख्यमंत्री और दिल्ली प्रदेशाध्यक्ष तिवारी ने दो निगमों में लगाया जोर
चंडीगढ़ में विराट धर्म सम्मेलन 16 को हिंदू संगठन राम मंदिर निर्माण के लिए सरकार पर बनाएंगे दबाव
राजस्थान : गहलोत सीएम और पायलट होंगे डिह्रश्वटी सीएम