समाचार ब्यूरो
20/03/2018  :  17:05 HH:MM
निधास कप : मियांदाद के छक्के से आगे निकल गए कार्तिक
Total View  48

कोलंबो में बांग्लादेश के खिलाफ अंतिम गेंद पर छक्का लगा कर दिनेश कार्तिक ने न सिर्फ भारत को निधास कप का चैंपियन बना दिया, बल्कि टीम इंडिया की इज्जत भी बचा ली. अंतिम गेंद पर भारत को जीत के लिए पांच रन चाहिए था. भारत लगभग मैच हार चुका था.

हारने पर पूरी टीम इंडिया की फजीहत होती कि बांग्लादेश जैसी टीम से हार गया. ध्यान दीजिए इसी बांग्लादेश ने टी-20 वर्ल्ड कप में भारत को हरा कर टीम इंडिया का सपना तोड़ा था. अंतिम गेंद सौम्या सरकार फेंक रहे थे. सामने थे दिनेश कार्तिक. सबके मन में एक ही सवाल था-क्या छक्का लगेगा? क्या कार्तिक जावेद मियांदाद जैसा करिश्मा कर दिखायेंगे. (मियांयादाद ने भारत के खिलाफ मैच की अंतिम गेंद पर चेतन शर्मा को छक्का मारा था और चैंपियन बना था). कार्तिक पूरे तेवर में थे और उन्होंने कवर के ऊपर से अंतिम गेंद पर छक्का लगा कर भारत को चैंपियन बना दिया. अविश्वसनीय जीत. नायक के तौर पर कार्तिक उभरे. जब कार्तिक मैदान में उतरे, सिर्फ दो ओवर का खेल बाकी था और भारत को जीत के लिए 34 रन चाहिए था. 18 वें ओवर में घटिया खेल कर शंकर ने टीम इंडिया की लुटिया डुबाने की पूरी व्यवस्था कर दी थी. उसने पांच गेंद पर सिर्फ एक रन लिया, वह भी लेगबाइ. अगली गेंद पर मनीष पांडेय आउट हो गये. ऐसी स्थिति में मैदान में उतरना पड़ा कार्तिक को. गेंद सिर्फ 12 और रन 34. लगभग असंभव। कार्तिक के सामने हिट करने के अलावा कोई रास्ता बचा नहीं था. 19वां ओवर था. गेंद फेंकी रुबैल हुसैन ने. सामने था कार्तिक. पहली गेंद छक्का, दूसरा चौका और  तीसरा फिर छक्का. यानी तीन पहली तीन गेंद पर कार्तिक के 16 रन. यहां से उम्मीद बन गयी.  यही ओवर निर्णायक हो रहा था. कार्तिक ने इस ओवर में 22 रन बना दिये. अब अंतिम ओवर का खेल था, 12 रन बनाने थे लेकिन भारत के लिए संकट था कि स्ट्राइक पर थे विजय शंकर. जैसा खेल शंकर खेल रहे थे, किसी को उन पर भरोसा नहीं था. हर किसी के मन में यही बात थी कि एक रन लेकर शंकर जैसे-तैसे भागे
ताकि कार्तिक को स्ट्राइक मिले. अंतिम ओवर में शंकर कुछ सुधरे. पांचवीं गेंद पर शंकर आउट हो गये लेकिन स्ट्राइक दे गये दिनेश कार्तिक को. अंतिम गेंद. रन चाहिए था पांच रन. इस गेंद के पहले कार्तिक ने सिर्फ सात गेंदों का सामना किया था और उनका स्कोर इस प्रकार था-6, 4, 6, 0, 2, 4, 1 रन. लेकिन क्या एक गेंद पर पांच रन संभव होगा? चौका लगेगा तो मैच ड्रा. कम बनाये तो हारेंगे. जीतने के लिए हर हाल में छक्का चाहिए था. सौम्या ने ऑफ स्टंप के बाहर गेंद फेंकी और कार्तिक का कवर के ऊपर से जोरदार हिट, छक्का. भारत चैंपियन।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   4307766
 
     
Related Links :-
हीना सिद्धू ने निशानेबाजी में भारत को स्वर्ण दिलाया
लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन ने किया स्पर्धा स्थल का भूमि पूजन
पुलिस जूडो क्लस्टर चैंपियनशिप: 1,200 खिलाड़ी
टेबल टेनिस में पुरुषों ने दिलाया भारत को 9वां गोल्ड
मुझे अपनी क्षमताओं पर पूरा भरोसा था जीतू राय
भारत ने पांचवें दिन जीते तीन स्वर्ण
चेन्नई सुपर किंग्स को लगा झटका, केदार जाधव आईपीएल से बाहर
राष्ट्रमंडल खेल २०१८ : भारत को बैडमिंटन में मिला पहली बार स्वर्ण
ऑस्ट्रेलिया ने तैराकी में जीते पांच स्वर्ण पदक
वेंकट राहुल ने भारत को दिलाया चौथा गोल्ड, जीता सोना