समाचार ब्यूरो
30/03/2018  :  12:29 HH:MM
दोनों खिलाडिय़ों को दी गयी सजा पर वार्न हैरान
Total View  48

सिडनी ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज स्पिनर शेन वॉर्न ने गेंद से छेड़छाड़ मामले में स्टीव स्मिथ और डेविड वॉर्नर पर लगाये गये एक साल के प्रतिबंध का कड़ा विरोध करते हुए कहा कि यह सजा काफी ज्यादा है। वार्न ने माना कि वार्न और वॉर्नर ने गलती की है पर कहा कि इतनी ज्यादा सजा दबाव में दी गयी।
वार्न ने कि इस मामले में ऑस्ट्रेलिया को पसंद नहीं करने वालों के हंगामे के कारण ही प्रतिबंध जैसी कड़ी सजा दी गयी। सजा सुनाए जाने के बाद वॉर्न ने एक लंबा कॉलम लिखकर सजा पर सवाल उठाए। वार्न ने कहा बहुत से देश हैं जो ऑस्ट्रेलियाई खिलाडिय़ों को पसंद नहीं करते जबकि गेंद से छेड़छाड़ कोई नया मामला नहीं है। दक्षिण अफ्रीकी कप्तान डु ह्रश्वलेसिस इस मामले में दो बार पकड़े गए हैं। उनके तेज गेंदबाज वेर्नोन फिलैंडर  को भी इसके लिए एक बार सजा मिली थी। गेंद से छेड़छाड़ में शामिल खिलाडिय़ों की सूची बहुत लंबी है। सचिन तेंडुलकर और माइक अथर्टन जैसे क्रिकेट जगत के बड़े नाम भी इसमें शामिल हैं। मैं मानता हूं कि स्मिथ ने गलती है, लेकिन इस गलती की जो सजा उसे मिली है वह कहीं से भी जायज नहीं ठहराई जा सकती। एक साल का प्रतिबंध बहुत ज्यादा है। आप स्मिथ के पिछले रेकॉर्ड को देखिए। एक कप्तान और एक खिलाड़ी के तौर पर वह शानदार रहा है। हम सब दुखी थे, हैरान थे, लेकिन मैं समझता हूं कि भावनाओं को एकतरफ रखकर फैसला सुनाया जाना चाहिए था। मेरे हिसाब से चौथे टेस्ट से बाहर कर देना, भारी हर्जाना लगा देना और कप्तानी छीन लेना भी काफी होता। मैंने भी अपने जीवन में कई गलतियां की हैं और आगे भी करता रहूंगा क्योंकि मैं इंसान हूं। ऑस्ट्रेलियन टफ खेलने के लिए जाने जाते हैं, लेकिन किसी भी कीमत पर जीत के लिए नहीं। हम कभी बेईमानी नहीं करते।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   7396108
 
     
Related Links :-
हीना सिद्धू ने निशानेबाजी में भारत को स्वर्ण दिलाया
लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन ने किया स्पर्धा स्थल का भूमि पूजन
पुलिस जूडो क्लस्टर चैंपियनशिप: 1,200 खिलाड़ी
टेबल टेनिस में पुरुषों ने दिलाया भारत को 9वां गोल्ड
मुझे अपनी क्षमताओं पर पूरा भरोसा था जीतू राय
भारत ने पांचवें दिन जीते तीन स्वर्ण
चेन्नई सुपर किंग्स को लगा झटका, केदार जाधव आईपीएल से बाहर
राष्ट्रमंडल खेल २०१८ : भारत को बैडमिंटन में मिला पहली बार स्वर्ण
ऑस्ट्रेलिया ने तैराकी में जीते पांच स्वर्ण पदक
वेंकट राहुल ने भारत को दिलाया चौथा गोल्ड, जीता सोना