समाचार ब्यूरो
07/04/2018  :  11:29 HH:MM
पायलट बनना चाहती थीं दिशा पाटनी
Total View  378

मॉडलिंग की दुनिया से फिल्मों में आईं दिशा पाटनी को ‘धोनी द अनटोल्ड स्टोरी' में बहुत पसंद किया गया। इन दिनों वह चर्चा में हैं, अपनी नई फिल्म ‘बागी 2’ से। दिशा और टाइगर श्रॉफ की फिल्म भले अब रिलीज हो रही है, मगर उनके रोमांस और झगड़े की खबरें हमेशा सुर्खियां रंगती रही हैं।

टाइगर के बारे में पूछने पर दिशा कहती हैं, 'मैं इतना कह सकती हूं कि टाइगर मेरा बहुत अच्छा दोस्त है, बस। जहां तक हमारे ह्रश्वयार-रोमांस की बात है, तो मैं इन बातों पर ध्यान नहीं देती। अगर मैंने इन बातों पर ध्यान देना शुरू किया, तो मैं काम नहीं कर पाऊंगी। मैं खुद को बहुत ही खुशनसीब मानती हूं कि मुझे टाइगर जैसा दोस्त मिला। असल में मुंबई में मेरा कोई दोस्त नहीं है। जितना भी मैं घूमती-फिरती हूं, टाइगर के साथ नजर आती हूं। शायद यही वजह है कि लोग हमारे अफेयर की बातें करते हैं। शुरू में जब मेरा परिवार इस तरह की अफवाहों के बारे में सुनता था, तो उन्हें परेशानी होती थी, मगर फिर मैंने उन्हें यहां के तौर-तरीकों के बारे
में समझा दिया। अब उन्हें भी कोई फर्क नहीं पड़ता। दिशा ने कभी सपने में नहीं सोचा था कि वह अभिनेत्री बनेंगी। वह कहती हैं, ‘मैं तो एयर फोर्स पायलट बनना चाहती थी। मेरे पापा पुलिस फोर्स में हैं और मेरी बहन आर्मी में कैह्रश्वटन हैं। घर के इस माहौल के कारण मैं भी ऐसे ही किसी क्षेत्र में जाने के बारे में सोचा करती थी।
मैं बीटेक की पढ़ाई कर रही थी और गर्मियों की छुट्टियां पड़ी, तो मैं एक कार्यक्रम में भाग लेने मुंबई आई। यहां मॉडलिंग की एक प्रतियोगिता हो रही थी, जिसमें मैं जीत गई। मुझे मुंबई में एक ब्रैंड शूट के लिए बुलाया गया। एक मॉडल ने मेरे फोटो खींचे और एजेंसी को भेजे। एजेंसी ने जब मुझे कहा कि वह मुझे साइन करना चाहते
हैं, तो मात्र 18 साल की थी। बस वहीं से मॉडलिंग का सफर शुरू हो गया। मॉडलिंग में मुझे अच्छे-खासे पैसे मिलने शुरू हो गए। मुझे लगा कि कोशिश करने में कोई हर्ज नहीं और मैंने मुंबई आना-जाना शुरू किया। उस वक्त मेरे लिए सबसे ज्यादा खुशी की बात यह थी कि मैं मुंबई 2-3 दिन के लिए आती थी।

विज्ञापन की शूटिंग करती थी, ऑडिशन देती और पैसे कमा कर वापस घर चली जाती। मुझे मम्मी-पापा से पैसे नहीं मांगने पड़ते थे। मैंने कई टीवी कमर्शल किए। उन दिनों मुझे काफी ट्रैवल करना पड़ता था। मैं बीटेक के दूसरे साल में थी कि तभी कॉलेज से फरमान आया कि या तो मैं कॉलेज नियमित रूप से आऊं या फिर मॉडलिंग को चुन लूं। असल में मेरी कम अटेंडेंस के कारण मुझे कॉलेज से निकाल दिया गया था। उस वक्त मुझे झटका तो लगा, मगर मैंने सोचा कि मॉडलिंग के जरिए मैं कम से कम आत्मनिर्भर तो बन ही रही हूं।

दिशा सोशल मीडिया पर बेहद लोकप्रिय हैं, मगर कई बार वह ट्रोल्स की शिकार भी हुई हैं। इस विषय में वह कहती हैं, हर इंसान आपको पसंद नहीं कर सकता और आप हर किसी को संतुष्ट करने में अपनी जिंदगी नहीं गंवा सकते। मैं कोशिश करती हूं कि 2 दिन में अपने इंस्टाग्राम पर एक फोटो पोस्ट कर सकूं या कुछ लिख सकूं, मगर इन सोशल साइट्स पर सक्रिय रहते हुए आपको अपने दिमाग में यह बात बैठानी पड़ती है कि यह आपकी असल जिंदगी नहीं है। अपनी कमजोरियों के बारे में दिशा कहती हैं, ‘आपको सुनकर अजीब लगेगा, मगर यह सच है कि मैं पर्दे पर खुद को देख नहीं पाती। मैं पर्दे पर जो कुछ करती हूं, मुझे वह कुछ भी अच्छा नहीं लगता। मैं बेहद शर्मीली हूं। कैमरा ऑन होते ही मैं अभिनय कर लेती हूं, मगर जैसे ही कैमरा ऑफ होता है, मैं अपने कवच में सिमट जाती हूं। मैं कभी किसी के सामने रोई नहीं हूं और इसलिए पर्दे पर रोना मुझे बहुत बुरा लगता है। मैं किसी को अपनी कमजोरी दिखाना पसंद नहीं करती। दिशा खुद को खुशकिस्मत मानती हैं कि ‘धोनी द अनटोल्ड स्टोरी' में छोटी-सी भूमिका करने के बावजूद उन्हें बहुत बड़ी पहचान मिली। वह कहती हैं, ‘मेरा रोल छोटा था, मगर फिल्म बहुत बड़ी थी और लोगों को मैं पसंद आ गई। हालांकि मेरी जिंदगी में कोई बदलाव नहीं आया। मैं आज भी बिलकुल सोशल नहीं हुई हूं। पार्टियों में नहीं जाती। सुबह से लेकर शाम तक अपनी क्लासेज और जिमनास्ट करती हूं और रात को चुपचाप सो जाती हूं।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   1093263
 
     
Related Links :-
ब्रेस्ट कैंसर से पीडि़त ताहिरा ने दिया महिलाओं को खास संदेश
थियेटर प्रमोटर अवार्ड से संजय भसीन हुए सम्मानित कलाकारों ने जताई खुशी
वापसी करने मोटी रकम चाहती हैं दयाबेन
रॉकस्टार बेबो का जन्मदिन रहा खास
नेहा बालियान ने मिसेज इंडिया बॉडी ब्यूटिफुल का खिताब जीता
नेहा का बिकिनी पहनने से इंकार
लवरात्रि नहीं बल्कि अब आप देखेंगे ‘लवयात्री’
इन सर्च ऑफ गंगा में बहन की तलाश कर रहा है
किसानों की दशा की वास्तविकता बयान करती है खुदकुशी आंदी फसल : अक्षय शर्मा
सिखों ने मनमर्जीया के खिलाफ दिल्ली में 5 स्थानों पर रोष प्रदर्शन किया