समाचार ब्यूरो
10/04/2018  :  15:42 HH:MM
राष्ट्रमंडल खेल २०१८ : भारत को बैडमिंटन में मिला पहली बार स्वर्ण
Total View  416

गोल्ड कोस्ट बैडमिंटन के मिश्रित टीम मुकाबले में भारत ने मलेशिया को 3-1 से हराकर सोना जीता। यह पहली बार है जब भारत ने इस खेल में सोना जीता है। इसके साथ ही भारत के स्वर्ण पदकों की संख्या 10 हो गई।

मिश्रित युगल में भारत के सात्विक रैंकीरेड्डी और अश्विनी पोनह्रश्वपा की जोड़ी जीती। एकल में किदंबी श्रीकांत ने जीत हासिल की पर पुरुष में भारत के सात्विक रैंकीरेड्डी और चिराग चंद्रशेखर शेट्टी हार गए। आखिरकार साइना नेहवाल ने अगला मैच जीतकर भारत को गोल्ड दिला दिया। साइना ने चौथे मैच में मलेशिया की खिलाड़ी को 21-11, 19- 21 और 21-9 से हराया. भारत का कॉमनवेल्थ में यह दसवां स्वर्ण पदक है।मिश्रित युगल में सात्विक और पोनह्रश्वपा की जोड़ी ने पेंग सून चान और ली युंग गो से पहला गेम 21-14 से जीता। यह मुकाबला बेहद संघर्षपूर्ण रहा। दूसरा गेम मलेशियाई जोड़ी ने 21-15 से जीता। भारतीय जोड़ी ने तीसरा गेम
21-15 से जीतकर मुकाबले में 1-0 की बढ़त बनाई। मुकाबले के दूसरे मैच पुरुष एकल में विश्व के नंबर-2 भारत के श्रीकांत और विश्व के नंबर-6 मलेशिया के वी ली को हराया। श्रीकांत ने पहला गेम 21-17 से जीता। दूसरा गेम भी 21-14 से जीतकर उन्होंने भारत को इस मुकाबले में 2-0 की बढ़त दिला दी। मुकाबले के तीसरे पुरुष युगल में भारत के सात्विक रैंकीरेड्डी और चिराग चंद्रशेखर शट्टे ी का मुकाबला वी शेम गो और वी ऑन्ग टान की जोड़ी से हुआ।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   7332135
 
     
Related Links :-
युवाओं की भूमिका विषय पर जिला स्तरीय भाषण प्रतियोगिता
सीनियर एवं जूनियर लडक़ों और लड़कियों का ट्रायल
हरियाणा की निशा ने नेशनल शूटिंग चैंपियनशिप कम्पटीशन में जीते 6 गोल्ड
गणित क्विज में बच्चों ने दिखाई प्रतिभा
राजकीय महिला औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान में युवा कौशल विकास कार्यक्रम
डीपीएस पानीपत ने बसंत कुंज को हराकर फुटबॉल चैम्पियनशिप जीती
पाइट में एडवैंचर गेम्स का विद्यार्थियों ने उठाया लुत्फ
दि मैसे शॉट पूल एंड स्नूकर क्लब लॉन्च हुआ
हॉकी वल्र्ड कप : भारत ने अपना ओपनिंग मैच 5-0 से जीता
पाक पहुंचकर बोले नब्बे फीसदी लोग चाहते है भारत-पाक क्रिकेट मैच हो करतारपुर कॉरिडोर के बाद सिद्धू ने शुरू की क्रिकेट पर डिह्रश्वलोमेसी