समाचार ब्यूरो
10/04/2018  :  15:48 HH:MM
मुख्यमंत्री 25 को करेंगे खसरा-रूबैला टीकाकरण अभियान की शुरूआत
Total View  3

चंडीगढ़ हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल 25 अप्रैल को खसरा एवं रूबैला टीकाकरण अभियान की शुरूआत करेंगे। इस अभियान के दौरान खसरा एवं रूबैला जैसी जानलेवा बीमारियों से बच्चों को सुरक्षा प्रदान करवाने के लिए राज्य के 9 माह से 15 वर्ष तक के लगभग 85 लाख बच्चों का टीकाकरण किया जायेगा।

यह अभियान 4 से 6 सप्ताह तक चलाया जायेगा। यह जानकारी आज यहां हरियाणा के मुख्यसचिव डी एस ढेसी की अध्यक्षता में खसरा एवं रूबैला अभियान के लिए गठित की गई राज्य स्तरीय स्टेयरिंग कमेटी की बैठक में दी गई। बैठक में श्री ढेसी ने अधिकारियों को भारतीय शूटर मनु भाकर को इस अभियान की ब्रांड अंबेसडर बनाने, ग्राम स्वराज अभियान के दौरान ग्राम सचिवों व पंचायतों में इस अभियान के बारे में जागरूकता देने एवं ‘परिवर्तन’ योजना के तहत आवंटित किए गए 46 खंडों के प्रशासकीय सचिवों को इस अभियान में शामिल करने के निर्देश दिये।

अभियान 4 से 6 सप्ताह तक चलेगा

बैठक में बताया गया कि खसरा एवं रूबैला टीकाकरण अभियान का जिला स्तर पर उद्घाटन मंत्रियों, सांसदों एवं विधायकों द्वारा किया जायेगा। बैठक में बताया गया कि टीकाकरण में लगभग 22626 सरकारी और निजी स्कूलों, 25771 आंगनवाडी केंद्रों, निर्माण स्थलों, ईंट भ_ों, पोल्ट्री फार्म, खेड़ों या ढाणियों जैसे उच्च
जोखिम वाले क्षेत्रों तथा शहरी क्षेत्रों को इस अभियान के तहत प्रतिरक्षित किया जाएगा। जिसके लिए 5375 वैक्सीनेटर तैयार किये गये हैं। जिलों में खसरा-रूबैला अभियान के लिए चिकित्सा अधिकारियों, डेंटल सर्जन और आयुष चिकित्सकों को सुपरवाइजरी ड्यूटी सौंपी गई है। बैठक में बताया गया कि इस अभियान के दौरान सभी बच्चों को टीका लगाया जायेगा भले ही उन्हें पहलें भी एमआर /एएमआर का टीका दिया जा चुका हैं। अभियान के दौरान मैडिकल कॉलेजों में एक -एक केंद्र स्थापित किया जायेगा। अभियान के दौरान डिस्पोज़ेबल सुईयों का प्रयोग किया जायेगा, जो कि 100 प्रतिशत सुरक्षित एवं गुणवता जांच से पास है। अभियान में स्वास्थ्य विभाग, शिक्षा विभाग, महिला एवं बाल विकास, शहरी स्थानीय निकाय विभाग, पंचायती राज, आईएमए, श्रम विभाग, मैडिकल कालेज के प्रतिनिधियों का सहयोग लिया जायेगा। बैठक में बताया गया कि प्रदेश में खसरा-रूबैला टीकारण अभियान का संचालन भारत सरकार, यूनिसैफ तथा विश्व स्वास्थ्य सगं ठन के सहयोग से किया जा रहा है तथा इस अभियान के उपरान्त खसरा-रूबैला के टीके को नियमित टीकाकरण कार्यक्रम में सम्मिलित कर लिया जायेगा। शिक्षा विभाग द्वारा खसरा-रूबैला अभियान के लिए माता-पिता और बच्चों को जागरूक बनाने के लिए जानकारी दी जा रही है। इसके अलावा ,आंगनवाडी कर्वरों, एएनएम व आशावर्करों को भी
जागरूकता अभिायान में शामिल किया गया है।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   2110965
 
     
Related Links :-
फंगल सक्रंमण देश के स्वास्थ्य सेवा के लिए एक महत्वपूर्ण चुनौती
उत्तरांचल हीरोज और स्प्रिंग होप मिलकर कैंसर से लड़ेंगे!
मनुष्य के शरीर में आंखें वह अंग हैं जिसका अधिक उपयोग किया जाता है: डॉ. रावल
अमेरिका में आयोजित विश्व बैठक में वेपिंग भारत का करेगा प्रतिनिधित्व
महिलाओं को खुद स्वास्थ्य पर ध्यान देना चाहिए
सेंधा नमक से निखरेगी त्वचा
फरीदाबाद में कैंसर से हुई सर्वाधिक मौत
हलाली डैम स्थित गौशाला में 545 दिनों में 2948 गायों की मौत
एम्स से संसद तक मार्च के लिए आज जुटेंगे 10 हजार डॉक्टर
रक्तदान की मुहिम को जन आंदोलन बनाने का आहवान