समाचार ब्यूरो
10/04/2018  :  17:05 HH:MM
मुझे अपनी क्षमताओं पर पूरा भरोसा था जीतू राय
Total View  341

गोल्ड कोस्ट भारत के स्टार निशानेबाज जीतू राय ने कहा कि राष्ट्रमंडल खेलों में 10 मीटर एयर पिस्टल स्पर्धा के क्वालीफाइंग दौर में औसत स्कोर के बावजूद उन्हें वापसी करके स्वर्ण पदक जीतने की अपनी क्षमता पर पूरा भरोसा था। जीतू ने कहा ,ईमानदारी से कहूं तो मेरा क्वालीफिकेशन स्कोर बहुत अच्छा नहीं था लेकिन मुझे अपनी क्षमता पर पूरा भरोसा था।

मैने अतीत में भी फाइनल में अच्छा प्रदर्शन करके देश को पदक दिलाने में योगदान दिया हैं।’’ इस मौके पर जीतू ने पत्रकारों से चर्चा के दौरान कहा कि दो तीन खराब स्कोर से परेशानी हुई लेकिन मुझे आत्मविश्वास का फायदा मिला। इससे मैं बहुत खुश हूं। मुझे पता था कि फाइनल में इसकी भरपाई कर लूंगा।मुझे अभ्यास के दौरान की गई कड़ी मेहनत का फल मिला। इसके साथ ही महिलाओं की 10 मीटर एयर राइफल में रजत पदक जीतने वाली मेहुली को 10-9 के स्कोर के बाद लगा कि उसने स्वर्ण जीत लिया है। मेहुली ने कहा मेरी गलती थी। मैं खेल पर इतना फोकस कर चुकी थी कि भूल गई कि यह शूटआफ है।मेहुली ने कहा यह मेरा पहला राष्ट्रमंडल खेल है। मैं खुश हूं लेकिन संतुष्ट नहीं। भावी योजनाओं के बारे में पूछने पर मेहुली ने बताया कि ,मैं अगली बार और मेहनत करूंगी। मुझे पता है कि इससे बेहतर कर सकती हूं। कांस्य पदक विजेता अपूर्वी चंदेला ने कहा देश के लिए एक और बार पदक जीतकर अच्छा लगा। कुछ शाट बेहतर हो सकते थे लेकिन
मैं अपने पदक से खुश हूं। उन्होंने अपने राष्ट्रीय रिकार्ड से बेहतर समय निकाला लेकिन फिर भी फाइनल के लिए क्वालीफाई नहीं कर सके। श्रीहरि ने 100 मीटर बैकस्ट्रोक की हीट में 56.71 सेकंड का समय लिया और 15वें सबसे तेका तैराक के रूप में सेमीफाइनल के लिए क्वालीफाई किया। लेकिन सेमीफाइनल में 56.65 सेकंड का समय लेकर 16 तैराकों में 10वें नंबर पर रहे और फाइनल में जगह बनाने से चूक गए।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   1955726
 
     
Related Links :-
गोस्वामी गणेश दत्त क्रिकेट : रामपाल अकादमी प्री-क्वार्टर फ ाइनल में
एशियाई खेलों के कोचिंग कैंप से बाहर हुई हरियाणा की फोगाट बहनें
शशांक मनोहर दोबारा बने आईसीसी चेयरमैन
मुंबई और पंजाब के बीच ‘करो या मरो’ का मुकाबला आज
सुशील को कभी डांटने की जरूरत नहीं पड़ी : सतपाल
फुटबाल में भी बेहतर करियर : शेर सिंह चौहान
प्रणीत और समीर आस्ट्रेलियाई ओपन बैडमिंटन के क्वार्टर फाइनल में पहुंच
चेन्नई से राजस्थान रॉयल्स की कड़ी परीक्षा
पट्टीकल्याणा की पहलवान बेटी को किया गया सम्मानित
हरियाणा में लड़कियों को ज्यादा सुविधाएं मिल रही है : मनु भाकर