समाचार ब्यूरो
11/04/2018  :  10:03 HH:MM
नानक शाह फकीर के प्रदर्शन को सुप्रीम कोर्ट की हरी झंडी
Total View  526

नई दिल्ली विवादित फिल्म नानक शाह फकीर को सुप्रीम कोर्ट से हरी झंडी मिल गई है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि जब सेंसर बोर्ड ने फिल्म को प्रमाणपत्र दे दिया है, तो किसी और को उसे रोकने का अधिकार नहीं है।

इसके साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने राज्यों सरकारों को निर्देश जारी किए हैं कि वे फिल्म रिलीज के लिए कानून व् य व स् थ ा बनाएं। कोर्ट अब 8 मई को इस मामले की अगली सुनवाई करेगा। बता दें कि सिख धर्म की सर्वोच्च संस्था अकाल तख्त फिल्म नानक शाह फकीर के विरोध कर रही है। उसने फिल्म को पूरी तरह प्रतिबंधित कर दिया है। अकाल तख्त के जत्थेदार ज्ञानी गुरबचन सिंह ने कहा कि हम लोगों ने विवादित फिल्म नानक शाह फकीर को पूरी तरह प्रतिबंधित कर दिया है। हालांकि अब सुप्रीम कोर्ट ने फिल्म पर किसी तरह का कोई प्रतिबंध नहीं लगाया है। ऐसे में फिल्म अब तय तारीख पर ही रिलीज होगी। गौरतलब है कि फिल्म 13 अप्रैल को रिलीज होनी है। फिल्म में सिख गुरु गुरुनानक देव पर दिए अंशों पर आपत्ति जता कर सिख गुरुद्वारा प्रबंध कमेटी फिल्म का विरोध कर रही है। उनका कहना है कि सिख गुरु को जीवित स्वरूप में दिखाए जाने की अनुमति नहीं दी जा सकती है। जत्थेदार ने कहा कि सिख सेंसर बोर्ड की स्थापना की जाएगी और सिनेमा
निर्माताओं के लिए सिख और सिख धर्म से संबंधित किसी भी योजना पर काम करने से पहले बोर्ड से अनुमति लेना आवश्यक किया जाएगा।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   1497119
 
     
Related Links :-
कौशल गैंग के तीन सदस्य अवैध हथियार के साथ काबू
सुखबीर बादल और बिक्रम सिंह मजीठिया के खिलाफ वारंट जारी अगली सुनवाई 29 अप्रैल को
लंगर की करोड़ों रुपए की सब्जी चोरी कोर्ट पहुंची
करनाल पुलिस से मुठभेड़ में पांच लाख का इनामी बदमाश ढ़ेर
समझौता एक्सप्रेस ब्लास्ट केस में आया फैसला असीमानंद सहित सभी चारों आरोपी बरी
नीरव मोदी लंदन में गिरफ्तार
आखिर क्यों अवैध कब्जाधारियों पर मेहरबान नगरपालिका!
आयोग के कैं प ऑफिस/कोर्ट में 20 मामलों की सुनवाइ
पत्रकार निराला मामला: एनसीएससी ने दिए सीबीसीआईडी को जांच के आदेश
चंदा कोचर ने टैक्स हैवेन में जमा किए वीडियोकॉन और एस्सार समूह से मिले रिश्वत के पैसे