समाचार ब्यूरो
12/04/2018  :  09:53 HH:MM
हरियाणा में सकारात्मक परिणाम आने लगे हैं : विपुल गोयल
Total View  364

चंडीगढ़ हरियाणा सरकार द्वारा राज्य में ‘मेक इन इंडिया’, ‘डिजिटल इंडिया’, तथा ‘स्किलिंग इंडिया’ अभियान को जिस निष्ठïा से लागू किया जा रहा है,उसके सकारात्मक परिणाम आने लगे हैं। हरियाणा में औद्यागिक नीतियों के सरलीकरण से व्यवसाय करने का माहौल निरंतर उत्कृष्ट बन रहा है। आज परिणामस्वरूप हरियाणा ‘इज ऑफ डूईंग बिजिनेस’ के मामले में देश भर में टॉप स्थान पर पहुंच गया है।
एक साल में छठे स्थान से पहले स्थान पर पहुंचना बड़ी उपलब्धि मानी जा रही है। े तीन साल में राज्य सरकार की अनूठी उद्यमी प्रोत्साहन नीति-2015 से बुनियादी ढ़ांचा सुदृढ़ हुआ है और उद्योगों में रोजगार के अधिक अवसर सृजित हुए हैं। हरियाणा में निवेशकों को और अधिक आकर्षित करने के लिए राज्य सरकार ने फरवरी- 2017 में हरियाणा उद्योग प्रोत्साहन केन्द्र नामक ‘सिंगल रूफ मैकेनिज्म’ की स्थापना की। एकल खिडक़ी की अवधारणा के साथ औद्योगिक विभाग ने और कई कदम उठाए। सभी औद्योगिक स्वीकृतियां/लाइसेंस देने के लिए एकल कार्यालय की परिकल्पना करने वाला हरियाणा भारत का एकमात्र राज्य है। एकल कार्यालय के माध्यम से सभी औद्योगिक स्वीकृतियां समयबद्ध तरीके से ऑनलाइन दी जा रही हैं, व्यक्तिगत रूप से कार्यालय जाकर आवेदन करने की अब जरूरत नहीं। अगर ऑनलाइन आवेदन के बाद अधिकतम 45 दिन में कोई बिजिनेस क्लीयरनेंस नहीं होती है तो उस आवेदन की स्वत क्लीयरनेंस मानी जाएगी। उद्योगपतियों को सरकार के विभिन्न विभागों द्वारा दी जाने वाली सेवाओं की फीडबैक देने के लिए नया ‘रैपिड एसेसमैंट सिस्टम’ शुरू किया गया जिसकी काफी प्रशंसा हुई। औद्योगिक प्लाटों की बिल्डिंग प्लान में प्रमाण-पत्र लेने के लिए पहले कई औपचारिकताएं पूरी करनी पड़ती थी,परंतु राज्य सरकार ने सरलीकरण करते हुए ‘हरियाणा कॉमन बिल्डिंग कोड-2017’ के अनुसार सभी औद्योगिक प्लाटों को स्वत:-प्रमाणित करने की सुविधा शुरू कर दी जिसका उद्योग-जगत में खासा स्वागत हुआ है। 10 श्रम कानूनों का एक साथ निरीक्षण करने के लिए नियम बनाया जिससे उद्योगपतियों को इंस्पैक्टरी से मुक्ति मिली।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   2134110
 
     
Related Links :-
अफवाहों दूरी को साझा ईएमएफ जागरूकता कार्यक्रम
विभिन्न स्थानों पर एसटीपी तथा सीटीपी स्थापित किए जाएं : मुख्यमंत्री खट्टर
कविता जैन ने किया राजकीय महिला महाविद्यालय के प्रथम सत्र का शुभारंभ
पौधारोपण करके मनाई शादी की सालगिरह
खालसा कॉलेज ने व्यावसायिक पाठयक्रम की शुरूआत की ओर बढाया कदम
बोले केंद्रीय इस्पात मंत्री चौ. बीरेंद्र सिंह अमरेंद्र सिंह को संविधान के दायरे में रहकर ही सुझाव देने चाहिए
वर्ष 2022 तक सौर ऊर्जा क्षमता 4 हजार मेगावाट करने का लक्ष्य
बीजेपी के खिलाफ देश बचाओ कैंपेन शुरु करेंगी ममता
केंद्र के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव में इनेलो की वोट पर हंगामा
शाहजहांपुर में बोले पीएम जितना ज्यादा होता है ‘दल-दल’, उतना ज्यादा खिलता है कमल : मोदी