समाचार ब्यूरो
28/04/2018  :  09:01 HH:MM
अप्रेंटिसशिप योजना : रोल मॉडल बना हरियाणा, दूसरों को दिखाएगा राह
Total View  392

पंचूकला कौशल विकास एवं उद्यमिता के क्षेत्र में हरियाणा ने नया मुकाम हासिल किया है। पढ़ाई के तुरंत बाद अप्रेंटिस के मामले में हरियाणा, देश के सामने रोड-मॉडल स्टेट बनकर उभरा है। आने वाले दिनों में यहां की अप्रेंटिसशिप नीति का अनुसरण देश के दूसरे राज्य भी करते नजऱ आएंगे। खुद केंद्रीय कौशल विकास एवं उद्यमिता मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने राज्य की इस नीति के लिए शाबासी दी है।

शुक्रवार को नई दिल्ली स्थित विज्ञान भवन में आयोजित राष्ट्रीय संगोष्ठी में केंद्रीय मंत्री ने हरियाणा के उद्योग एवं आईटीआई मंत्री विपुल गोयल की पीठ थपथपाते हुए कहा कि इस मामले में हरियाणा ‘मॉडल- स्टेट’ बना है और पूरे देश के सामने एक उदाहरण पेश किया है। धर्मेंद्र प्रधान ने राज्य सरकार द्वारा उद्यमियों के साथ मिलकर युवाओं की करवाई जा रही अप्रेंटिसशिप कार्यक्रम की जमकर सराहना की।इस मौके पर राज्य के औद्योगिक प्रशिक्षण एवं कौशल विकास मंत्री विपुल गोयल ने कहा कि राज्य में राष्ट्रीय अप्रेंटिसशिप प्रोत्साहन योजना के लागू होने से अभी तक लगभग 39 हजार अप्रेंटिस लगाए जा चुके हैं। लगभग 9900 निजी एवं
सरकारी प्रतिष्ठान पंजीकृत हो चुके हैं।राज्य सरकार द्वारा अग्रणी निर्णय लेते हुए राज्य के सभी विभागों, बोर्ड, कारपोरेशन आदि में भी अप्रेंटिस लगाने का कार्य आरंभ किया है। इस निर्णय के तहत सितम्बर-2019 तक 25000 अप्रेंटिस लगाए जाने का लक्ष्य है। इस पर कार्य करते हुए विभिन्न विभागों के लगभग 3500 कार्यालय
पंजीकृत हो चुके हैं। यही नहीं, लगभग 22500 सीटें अप्रेंटिसशिप के लिए सृजित हो चुकी हैं, जिनके प्रति लगभग 14000 अप्रेंटिस नियुक्त भी हो चुके हैं। गोयल ने कहा कि योजना के प्रथम वर्ष से ही हरियाणा सरकार द्वारा तेजी से कार्य आरंभ कर दिया गया तथा प्रति लाख जनसंख्या आधार पर पूरे देश में हरियाणा राज्य में
अधिकतम अप्रैंटिस लगाए गए हैं।

2007 में मिला था ‘चैम्पियन ऑफ चेंज’ अवार्ड: इस मामले में हरियाणा पहले भी केंद्र से अवार्ड हासिल कर चुका है। नंवबर-2017 में राज्य को ‘चैंपियन ऑफ चेंज’ का अवार्ड दिया गया था। निजी प्रतिष्ठानों में सितम्बर-2019 तक 20000 अप्रेंटिस लगाने का लक्ष्य सरकार ने रखा है।

बनाए ये नियम : अप्रेंटिस एक्ट के तहत जो प्रतिष्ठान 5 प्रतिशत से अधिक अप्रेंटिस नियुक्त करेंगे उन्हें सरकार द्वारा सक्षम साथी के तौर पर सम्मानित किया जाएगा। ऐसे 22 निजी प्रतिष्ठानों को पहली मार्च को राज्य स्तरीय समारोह में सरकार द्वारा सम्मानित किया गया है। कंपनियों के साथ एमओयू : अंतरराष्ट्रीय स्तर के कौशल प्रशिक्षण की सुविधाएं सृजित करने के लिए पलवल में हरियाणा विश्वकर्मा कौशल विश्वविद्यालय स्थापित किया गया है। विवि ने प्रतिष्ठित कंपनियों के साथ एमओयू करते हुए 10 पाठ्यक्रम आरंभ किए हैं। इनमें थ्योरी विश्वविद्यालय में पढ़ाई जाएगी तथा प्रेक्टिकल कंपनियों में होगी।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   2167214
 
     
Related Links :-
बदइंतजामी और लापरवाही का दर्दनाक परिणाम है अमृतसर की घटना : गोयल
प्रजा को संतुष्ट रखने के लिए उन्होंने मां सीता को अग्नि परीक्षा देने के लिए कहा श्री राम के लिए परिवार से बड़ा राजधर्म : अलका गौरी
महिलाओं का उत्पीडऩ करने वाले रावण रूपी राक्षसों का अन्त जरूरी : रविन्द्र जैन
रोडवेज कर्मचारियों के समर्थन में कटोरा लेकर निकलेंगे नवीन जयहिंद
नवजोत सिद्धू के बचाव में आए पूर्व रेल मंत्री बंसल
जलनिकासी के कार्य की समीक्षा बैठक में बोले कृषि मंत्री जलभराव की समस्या से निपटने के लिए तेजी लाएं : धनखड
एसएफआई जिला कमेटी ने काली पट्टी बांध कर जताया रोष
रेल दुर्घटना को लेकर स्‍थानीय लोगों में रोष
राजनीति के भेंट चढ़े सुलगते सवाल
पूर्णाहूति के साथ सम्पन्न हुआ रामकथा महोत्सव