Breaking News
 
 
समाचार ब्यूरो
28/04/2018  :  09:05 HH:MM
अपना घर मामले में संचालिका जसवंती समेत 3 को उम्रकैद
Total View  364

पंचकूला हरियाणा के बहुचर्चित अपना घर’ मामले में पंचकूला सीबीआई कोर्ट ने बड़ा फैसला सुनाया। सीबीआई कोर्ट ने मुख्य आरोपी जसवंती देवी सहित 9 आरोपियों को सजा सुनाई। जिसके तहत अपना घर बाल संरक्षण गृह की संचालिका जसवंती देवी, दामाद जय भगवान और ड्राइवर सतीश को उम्रकैद की सजा सुनाई गई।

जबकि जसवंती देवी के भाई जसवंत को 7 साल की सजा हुई। वहीं, तीन आरोपियों वीना, शिला, सिम्मी को अंडरगोन (जितनी सजा काट चुके हैं उतनी ही सजा) और दो आरोपियों राम प्रकाश सैनी और रोशनी को प्रोबेशनरी का फैसला सुनाया। 18 अप्रैल को सीबीआई कोर्ट ने मुख्य आरोपी जसवंती देवी सहित 9 आरोपियों
को दोषी करार दिया था।

पंचकूला स्थित हरियाणा की विशेष सीबीआई अदालत के जज जगदीप सिंह ने मुख्य आरोपित जसवंती देवी सहित 9 आरोपियों को दोषी करार दिए जाने के बाद सजा सुनाई। इस केस में रोहतक की पूर्व बाल विकास परियोजना अधिकारी अंग्रेज कौर हुड्डा को सुबूतों के अभाव में बरी कर दिया गया था। दोषियों की सजा पर आज फैसला 24 अप्रैल को होना था, लेकिन उस दिन फैसला टल गया। दोषियों में जसवंती के अलावा उसका भाई जसवंत, बेटी सुषमा ऊर्फ सिम्मी, दामाद जय भगवान, चचेरी बहन शीला, सहेली रोशनी, ड्राइवर सतीश, कर्मचारी रामप्रकाश सैनी, काउंसलर वीना शामिल हैं। इस केस में रोहतक की पूर्व बाल विकास परियोजना
अधिकारी अंग्रेज कौर हुड्डा को सुबूतों के अभाव में बरी कर दिया गया था। राष्ट्रीय बाल संरक्षण आयोग की एक टीम ने तीन युवतियों के खुलासे के बाद 9 मई 2012 को रोहतक के अपना घर में छापा मारा था। जहां से लगभग 103 बच्चियों और युवतियों को मुक्त करवाकर पुलिस में केस दर्ज करवाया था। पूछताछ में बच्चियों एवं युवतियों ने बताया कि उनके साथ शारीरिक और मानसिक शोषण के अलावा यौन शोषण, बंधुआ मजदूरी भी करवाई जाती थी। जून 2012 को ही मामले की जांच सीबीआइ को सौंप दी गई और अगस्त 2012 को चालान में सीबीआइ ने जसवंती देवी को मामले का मुख्य आरोपित बनाया था। ट्रायल के दौरान आरोपितों पर दुष्कर्म, सामूहिक दुष्कर्म,अनैतिक तस्करी, चोट, गंभीर चोट, छेड़छाड़, महिला की सहमति के बिना गर्भपात, अवैध अनिवार्य श्रम और बच्चों के साथ क्रूरता पर दोनों पक्षों ने अपनी दलीलें दी थी। इस मामले में अंतिम बहस 14 फरवरी से शुरू हुई थी।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   4354716
 
     
Related Links :-
नाबालिग लड़कियों ने आश्रम संचालक पर लगाए थे गंभीर आरोप प्रशासन ने खाली करवाया शांति बाल आश्रम
नई दिल्ली में शनिवार को आउटर डिस्ट्रिक्ट के स्पेशल स्टाफ ने निजाम और रोखा गैंग के सभी सदस्यों को पकड़ते हुए उनके पास से चोरी का सामान, सोना, डायमंड, चांदी आदि बरामद किया जिसकी कीमत 15 लाख रुपए है. इसके अलावा तीन पिस्तौल 6 जिंदा कारतूस और 20 चोरी के मोबाइल फोन भी बरामद किए गए हैं।
गुरुग्राम में अतिक्रमण खिलाफ कार्रवाई अवैध, टावर सील
जाट धर्मशाला की चौधरी की लड़ाई में दो गुट आमने-सामने
गैंगस्टर दिलप्रीत बाबा का साथी गिरफ्तार, पुलिस मुठभेड़ में हुआ घायल
आरटीआई पर गलत सूचना देना पड़ा महंगा स्वास्थ्य विभाग के दो अधिकारी सस्पेंड
ब्लाईड मर्डर की गुत्थी सुलझाते हुए आरोपी को किया काबु
पुलिस पर कार्रवाई नहीं करने का आरोप, दिया ज्ञापन
हरियाणा में किसान 16 लाख, ई-नेम पर पंजीकरण 21 लाख: चौटाला
देवरिया शेल्टर होम कांड पर लोकसभा में हंगामा