Breaking News
लघू सचिवालय के सभागार में डिजीटल हरियाणा कार्यशाला  |  बच्चों की सुरक्षा से कोई समझौता नहीं, सभी मामलों पर कड़ा संज्ञान लिया : जस्टिस मित्तल  |  अनाधिकृत निर्माणों, अतिक्रमण और विज्ञापनों के खिलाफ निगम की कार्रवाई जारी  |  जीवन में भी धार्मिक परंपराओं का विशेष महत्व : उमेश अग्रवाल  |  डिजीटल हरियाणा कार्यशाला का होगा आयोजन हरपथ ऐप पर प्राप्त शिकायतों के निपटारे के लिए अधिकारियों को मिलेगा प्रशिक्षण  |  रोटरी दिवस पर क्लब ने लगाया रक्तदान शिविर  |  बच्चों को प्रेरणा व जागरूक करने के लिए सेमिनार  |  बेहतर भविष्य के लिए सामाजिक ताने-बाने को मजबूत करना होगा: जस्टिस मित्तल  |  
 
 
समाचार ब्यूरो
28/04/2018  :  09:10 HH:MM
गुरुग्राम में भीख नहीं मांग सकेंगे बच्चे
Total View  379

चंडीगढ़ हरियाणा के गुरुग्राम शहर में भीख मांगने वाले बच्चों को बाल कल्याण परिषद और चाईल्ड लाईन द्वारा पुलिस के सहयोग से मुक्त करवाया जाएगा और उन्हें बाल कल्याण संस्थानो में रखा जाएगा ताकि वे बच्चे शिक्षा ग्रहण कर अपना कल्याण कर सकें। यह जानकारी जिला विधिक सेवाएं प्राधिकरण के सचिव तथा चीफ जुडिशियल मैजिस्ट्रेट नरेंद्र सिंह ने आज जिला एवं सत्र न्यायधीश हरनाम सिंह ठाकुर की अध्यक्षता में आयोजित त्रैमासिक सामान्य बैठक के उपरांत दी।

उन्होंने बताया कि जिला विधिक सेवाएं प्राधिकरण द्वारा हाल ही में सडक़ों पर भीख मांगने वाले बच्चों का सर्वेक्षण करवाया गया था, जिसमें पाया गया कि यह कोई रैकेट नहीं है बल्कि उन बच्चों के घरवाले अथवा केयर टेकर अपनी मर्जी से आमदनी बढाने के लिए बच्चों से भीख मंगवा रहे हैं।

कुप्रथा को खत्म करने के लिए यह जरूरी

उन्होंने कहा कि गुरुग्राम शहर में भीख मांगने की कुप्रथा को खत्म करने के लिए यह जरूरी है कि इन बच्चों को कम से कम तीन महीने तक बाल कल्याण संस्थान में रखा जाए। उन्होंने जुविनाईल जस्टिस एक्ट की धारा-23 का उल्लेख करते हुए बताया कि इस धारा में जानबूझ कर बच्चों से भीख मंगवाने पर उन बच्चों के अभिभावकों अथवा केयर टेकर के खिलाफ भी दण्डात्मक कार्यवाही की जा सकती है। उन्होंने बताया कि जिला एवं सत्र न्यायधीश द्वारा प्रशासनिक अधिकारियों निर्देश दिए गए हैं कि शिक्षा के अधिकार कानून के तहत इन बच्चों को नजदीकी स्कूल में भी भेजा जाए। उन्होंने यह भी कहा कि शहर के प्राईवेट स्कूलों में धारा-134 के तहत भी इन बच्चों का दाखिला करवाया जा सकता है। नरेंद्र ने बताया कि गुरुग्राम शहर के 5 स्लम क्षेत्रों में समय-समय पर चिकित्सकों की ड्यूटी लगाकर यहां रहने वाली महिलाओं के स्वास्थ्य की जांच करवाई जाएगी तथा उन्हें स्वच्छता के फायदों के बारे में जागरूक करने के लिए भी कदम उठाए जाएंगे।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   2778222
 
     
Related Links :-
अनाधिकृत निर्माणों, अतिक्रमण और विज्ञापनों के खिलाफ निगम की कार्रवाई जारी
पूर्व कांग्रेसी विधायक पर 1984 सिख कत्लेआम की गवाह को खरीदने के लगे आरोप
कांग्रेस पर बूथ कैह्रश्वचरिंग के लगे आरोप
हरियाणा को फिर किया शर्मसार
दहेज उत्पीडऩ केस में सुप्रीम कोर्ट ने पलटा खुद का निर्णय सेफगार्ड किया खत्म
गैर मान्यता प्राप्त निजी स्कूलों के प्रति हाईकोर्ट का रुख सख्त
पुलिस ने चलाया चेकिंग अभियान
सोनीपत में गौतस्करी के आरोप में युवक की पिटाई कर किया आधे सिर का मुंडन
घरौंडा से लापता व्यक्ति का शव रोहतक रजवाहे से मिला, सनसनी
चार साल पहले हुई हेल्थ काउंसलर की भर्ती फर्जीवाड़े में बड़ी कार्रवाई तत्कालीन सीएमओ, डिह्रश्वटी सीएमओ समेत नौ लोगों पर मामला दर्ज