समाचार ब्यूरो
28/04/2018  :  09:42 HH:MM
जीएसटी बिल पर विशिष्ट पहचान संख्या देना अनिवार्य
Total View  413

नई दिल्ली > भारत में सेवा दे रहे राजनयिकों और बहुपक्षीय एजेंसियों के अधिकारियों को उन्हें आवंटित किया गया विशिष्ट पहचान संख्या (यूआईएन) का उद्धरण बिक्री बिल पर देना अनिवार्य है। शुक्रवार को वित्त मंत्री द्वारा जारी एक विज्ञप्ति में कहा गया कि विदेशी राजनयिक मिशनों और संयुक्त राष्ट्र निकायों से ऐसी शिकायतें आई हैं कि विक्रेता और ई-कॉमर्स साइटें जब उन्हें बिक्री करती हैं तो 15 अंकों के यूआईएन संख्या को रिकार्ड करने की अनिच्छुक होती है। बयान में कहा गया, यूआईएन एक 15 अंकों का विशिष्ट संख्या है, जिसे संयुक्त राष्ट्र (विशेषाधिकार और प्रतिरक्षा) अधिनियम 1947 के तहत अधिसूचित संयुक्त राष्ट्र संगठन या किसी बहुपक्षीय वित्त संस्थान और संगठन, विदेशी देशों के वाणिज्यदूतावास या दूतावास को आवंटित किया गया है। बयान में आगे कहा गया, विदेशी राजनयिक मिशनों और संयुक्त राष्ट्र निकायों को आपूर्ति करते समय यूआईएन की रिकार्डिग जरूरी है, ताकि वे भारत में चुकाए जाने वाले करों पर रिफंड प्राप्त कर सकें।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   5489947
 
     
Related Links :-
डीएलएफ शॉपिंग मॉल्स ने फूड एक्सेलेंस अवॉर्ड्स 2018 की घोषणा
लघु, सूक्ष्म एवं मध्यम उद्योगों के लिए कैंप सेक्टर-३७ मे
सीएम ने दिया आलू की कीमतों में उतार-चढ़ाव का मामला जल्दी हल करने का भरोसा
सेनी इंडिया ने नई रेंज के साथ बाउमा कॉनएक्सपो इंडिया में आने वाले विजिटर्स को किया आकर्षित
हमारा प्रदेश उद्योग के क्षेत्र में निवेशकों की पहली पसंद बना हुआ है त्न: शर्मा
घाटा कम करने से ही मजबूत होगी बैंकिंग प्रणाली : कर्नम शेखर
आरआरटीएस कॉरीडोर के एक हिस्से की डीपीआर को मंजूरी मिली
ऑनलाइन पंजीकरण करवाने के लिए दुकानदारों को जागरूक करने का अभियान
घाटा कम करने से ही मजबूत होगी बैंकिंग प्रणाली : कर्नम शेखर
सनकिस्ट लाई सेहतमंद जूस -डीटॉक्स और रीफ्यूल