समाचार ब्यूरो
28/04/2018  :  09:42 HH:MM
जीएसटी बिल पर विशिष्ट पहचान संख्या देना अनिवार्य
Total View  522

नई दिल्ली > भारत में सेवा दे रहे राजनयिकों और बहुपक्षीय एजेंसियों के अधिकारियों को उन्हें आवंटित किया गया विशिष्ट पहचान संख्या (यूआईएन) का उद्धरण बिक्री बिल पर देना अनिवार्य है। शुक्रवार को वित्त मंत्री द्वारा जारी एक विज्ञप्ति में कहा गया कि विदेशी राजनयिक मिशनों और संयुक्त राष्ट्र निकायों से ऐसी शिकायतें आई हैं कि विक्रेता और ई-कॉमर्स साइटें जब उन्हें बिक्री करती हैं तो 15 अंकों के यूआईएन संख्या को रिकार्ड करने की अनिच्छुक होती है। बयान में कहा गया, यूआईएन एक 15 अंकों का विशिष्ट संख्या है, जिसे संयुक्त राष्ट्र (विशेषाधिकार और प्रतिरक्षा) अधिनियम 1947 के तहत अधिसूचित संयुक्त राष्ट्र संगठन या किसी बहुपक्षीय वित्त संस्थान और संगठन, विदेशी देशों के वाणिज्यदूतावास या दूतावास को आवंटित किया गया है। बयान में आगे कहा गया, विदेशी राजनयिक मिशनों और संयुक्त राष्ट्र निकायों को आपूर्ति करते समय यूआईएन की रिकार्डिग जरूरी है, ताकि वे भारत में चुकाए जाने वाले करों पर रिफंड प्राप्त कर सकें।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   3578280
 
     
Related Links :-
नया बैकहो लोडर टाटा हिताची शिनराय पेश करने की घोषणा
बारिश के कारण भूमि कटाव किसानों की फसल खराब न हो
अमरिंदर सरकार से आम आदमी पार्टी की मांग पंजाब के लिए पहाड़ी राज्यों की तर्ज पर टैक्स में छूट मिले
‘रसाल द्वीप’: पंचकूला में शुरू हुआ मल्टी कुजीन रेस्तरां
वर्कशॉप में पाइट के छात्रों ने आइसी इंजन व स्पेयर पार्टस की ली जानकारी
त्योहारी मांग के चलते आलू की कीमतों में आई तेजी
यामाहा ने लॉन्च की एमटी-15 बाइक इसकी कीमत 1.36 लाख रुपए
जीबीटीएल लिमिटेड के ग्रेविएरा के साथ अपने वार्डरोब का ‘विस्तार’ करें!
विश्व उपभोक्ता अधिकार दिवस
पेट्रोल 7 पैसे महंगा और डीजल के घटे दाम