समाचार ब्यूरो
10/05/2018  :  15:02 HH:MM
विकास कार्यों को लेकर ढिलाई कतई बर्दाश्त नहीं की जाएगी : चौहान
Total View  342

गुरुग्राम जिला परिषद् की साधारण बैठक आज सिविल लाइन्स स्थित जॉन हॉल में हुई। बैठक की अध्यक्षता जिला परिषद् के चेयरमैन कल्याण सिंह चौहान ने की। बैठक पिछली बैठक में हुई कार्यवाही की समीक्षा की गई। कई महत्वपूर्ण मुद्दें पर सहमति भी बनी। मुख्य कार्यकारी अधिकारी चिनार चहल व उप मुख्य कार्यकारी अधिकारी ऋषि दांगी उपस्थित थे।

सबसे पहला मुद्दा विकास कार्यों से संबंधी उठाया गया। जिला परिषद् के चेयरमैन ने कहा कि विकास कार्यों को लेकर ढिलाई कतई बर्दाश्त नही की जाएगी। जिन विभागों द्वारा विकास कार्यों को लंबे समय तक लटकाया गया है। उन अधिकारियों को स्पष्टीकरण देना होगा कि आखिर वार्ड में विकास कार्य को निर्धारित समयावधि में पूरा क्यों नही किया गया। उन्होंने अधिकारियों को वार्डों में चल रहे विकास कार्यों को जल्द से जल्द पूरा करवाने के निर्देश दिए। बैठक में उपस्थित जिला परिषद् की मुख्य कार्यकारी अधिकारी चिनार चहल ने विभागीय अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि वे अपने विभाग में विकास कार्यों संबंधी मासिक रिपोर्ट जिला परिषद् कार्यालय में भिजवाना सुनिश्चित करें ताकि विकास कार्यों की स्थिति स्पष्ट हो सके। अगला मुद्दा स्वतंत्रता सेनानी जिला परिषद् भवन में स्वतंत्रता सेनानियों के नाम के पर बनाए जाने वाले स्मारक का उठाया गया। सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया कि यदि कोई संस्था स्वतंत्रता सेनानियों के नाम पर कोई स्मारक वहां बनाना चाहे तो उन्हें इसमें कोई आपत्ति नही होगी। जिला परिषद् के अधिकार क्षेत्र में विज्ञापन लगाने संबंधी विषय पर निर्णय लिया गया कि जिला परिषद् के अधिकार क्षेत्र में आने वाली सडक़ों पर विज्ञापनों का रेवेन्यू जिला परिषद् के खजाने में जमा किया जाएगा। इस निर्णय पर जिला परिषद् के सभी सदस्यों की सहमति बनी और इसे बैठक में सर्वसम्मति से पारित कर दिया गया। जिला परिषद् के सदस्यों ने स्वच्छ भारत मिशन की तर्ज पर शुरू किए जाने वाले पायलट प्रोजेक्ट पर भी सहमति जताई। बैठक में जिला परिषद् के वार्डों के चार गांवो में यह अभियान पॉयलट तौर पर शुरू करने का निर्णय लिया गया। इन चार गांवो में पटौदी उपमंडल के इंछापुरी, खानपुर, रनसिका, हेड़ाहेड़ी शामिल है। सुश्री चहल ने कहा कि इन गांवों में लोगों को स्वच्छता के लिए प्रेरित किया जाएगा और ठोस कचरा प्रबंधन के लिए उन्हें वैस्ट सेग्रीगेट के लिए जागरूक किया जाएगा। गांवो में ठोस कचरा प्रबंधन के लिए बनाए गए स्ट्रक्चर को भी इस्तेमाल किया जाएगा। कचरे की एकत्रित करने के लिए
डोर-टू-डोर एक्टिीविटी चलाई जाएगी। पार्षदों ने अपने वार्ड संबंधी शिकायतों को भी अधिकारियों के समक्ष रखा। विभिन्न विभागों के अधिकारियों से क्रमवार ढंग से शिकायतें रखी गई। पार्षदों ने अपने वार्ड में बिजली व पानी संबंधी शिकायतों को बैठक में रखा जिन्हें अधिकारियों ने सुना और जल्द ही इन समस्याओं के समाधान का आश्वासन दिया। अबैठक में जिला परिषद् के उपाध्यक्ष संजीव कुमार, जिला परिषद् के उप मुख्य कार्यकारी अधिकारी ऋषि दांगी सहित कई विभागों के अधिकारीगण व पार्षद उपस्थित थे।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   7757019
 
     
Related Links :-
‘हरे भरे पौधों से’ लघु सचिवालय में होगा लोगों का स्वागत
जत्थेबंदियों और इतिहासकारों के साथ तालमेल करने के लिए तीन सदस्यीय कमेटी गठित
दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल ने मोदी से लगाई गुहार दिल्ली में 21 मई से होगा जल संकट
येदियुरह्रश्वपा को आज शाम ४ बजे तक सिद्ध करना होगा बहुमत
हरियाणा १२वीं बोर्ड : बेटियों ने फिर लहराया परचम
लोकतंत्र में पहले तो कभी नहीं थी यह बेबसी
मानव जीवन में अधिकारों के साथ-साथ कत्र्तव्य भी होते है
फरूख नगरवासियों को विकास कार्यों की सौगात देंगे मंत्री राव नरबीर सिंह
बीएलओ मतदाता सूची का घर-घर जा कर 20 मई तक होगा सर्वे
कष्ट निवारण हर एक भाजपाई का धर्म : रमन मलिक