समाचार ब्यूरो
11/05/2018  :  10:11 HH:MM
तीन दिन बाद लगा बाजार की तेजी पर ब्रेक
Total View  380

नई दिल्ली विदेशी बाजारों से मिले मजबूत संकेतों के बीच अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कच्चे तेल की कीमतों में रही तेजी से मुद्रास्फीति दर और चालू खाता घाटा बढऩे की आशंका के मद्देनजर हुई बिकवाली के दबाव में तेजी के साथ कारोबार की शुरुआत करने वाला घरेलू शेयर बाजार तीन दिनी तेजी के बाद गिरावट पर बंद हुआ।

गुरुवार को कारोबार की समाप्ति पर सेंसेक्स 73 अंक की गिरावट के साथ 35,246 के स्तर पर बंद हुआ। जबकि निफ्टी 25 अंक की गिरावट के साथ 10,717 के स्तर पर बंद हुआ। गुरुवार को दिग्गज कंपनियों की तुलना में निवेशकों ने मंझोली और छोटी कंपनियों में अधिक बिकवाली की। बीएसई का मिडकैप 251 अंक की
गिरावट में 16,279 अंक पर बंद हुआ जबकि स्मॉलकैप 245 अंक लुढक़कर 17,840 अंक पर बंद हुआ। एशियाई बाजारों से मिले सकारात्मक संकेतों के बीच घरेलू बाजार की शुरुआत भी तेजी के साथ हुई। सेंसेक्स 35,354 अंक पर खुला। कारोबार के दौरान इसने 35,501 अंक के उच्चतम और 35,204 अंक के निचले स्तर को छुआ। इसी तरह निफ्टी भी तेजी के साथ 10,780 अंक पर खुला। कारोबार के दौरान यह 10,786 अंक के उच्चतम और 10,705 अंक के निचले स्तर को छुआ। गुरुवार को बीएसई में कुल 2,787 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ जिनमें 122 कंपनियों के शेयरों के भाव अपरिवर्तित रहे जबकि 1,890 में तेजी और 775 में गिरावट रही।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   6144457
 
     
Related Links :-
व्यापारियों के पास जाकर जारी होंगे ट्रेड लाईसेंस : डिह्रश्वटी मेयर
ईंधन में लगी ‘आग’, पेट्रोल रिकॉर्ड 91.96 रुपए प्रति लीटर पहुंचा
किसान खरीफ फसलों का ब्यौरा एप पर करें अपलोड : धनखड
बीएमडब्लू एक्सपीरिएंस स्पोर्ट्स ऐक्टिविटी व्हीकल्स के साथ बेमिसाल ड्राइविंग अनुभव
भविष्य के बदलाव को ध्यान में रखकर करें इमारतों को डिजाइन : देवेश मौदगिल
देश में 2020 तक एक लाख मेगावाट ऊर्जा का उत्पादन करने का लक्ष्य
किसानों को बकाया गन्ने की फसल का भुगतान जल्द
टेबल्ज़ ने गुरुग्राम में किया कोल्ड स्टोन क्रीमरी का शुभारंभ
किरण रिजिजु ने कनाट ह्रश्वलेस में किया ‘स्वच्छता ही सेवा’ अभियान का उद्घाटन
दूध बिक्री पर सैस दर 10 पैसे प्रति लीटर से घटाकर 5 पैसे करने को सीएम की स्वीकृति : धनखड़