समाचार ब्यूरो
11/05/2018  :  10:22 HH:MM
माल्या को एक और झटका: ब्रिटिश कोर्ट ने माल्या को बताया ‘कानून से भगोड़ा’
Total View  437

लंदन भारत में वित्तीय धोखाधड़ी और मनी लांड्रिंग के मामलों का सामना करने वाले भगोड़े उद्योगपति विजय माल्या को ब्रिटेन की अदालत कानून से भगोड़ा करार दे सकती है। माल्या भारत में धोखाधड़ी और मनी लांड्रिंग के अनेक मामलों में वांछित हैं।
हाइकोर्ट के जज एंड्रयू हेनशॉ ने दर्ज किया कि माल्या कथित वित्तीय गड़बडिय़ों के लिए भारत को प्रत्यर्पण किए जाने का विरोध कर रहा है। साथ ही हाईकोर्ट माल्या के उस दावे से संतुष्ट नहीं हुआ कि वह 1988 से एनआरआई के तौर पर रह रहे हैं और 1992 से इंग्लैड में रहते हैं। जज ने अपने फैसले में लिखा है कि उपरोक्त सभी हालात और प्रत्यर्पण का विरोध किए जाने को देखते हुए, माल्या को कानून से भगोड़ा करार दिए जाने का आधार है। माल्या पर भारत में करोड़ों रुपये की धोखाधड़ी व मनी लांड्रिंग का आरोप है। इन मामले के सामने आने के बाद वह देश छोडक़र भाग गया था। गौरतलब है कि जज हेनशॉ ने मंगलवार को अपने फैसले में माल्या की आस्तियों को जब्त करने संबंधी वैश्विक आदेश को पलटने से इनकार कर दिया था। उन्होंने अपने फैसले में भारतीय अदालत के उस आदेश को सही बताया है कि भारत के 13 बैंक माल्या से 1.55 अरब डॉलर की राशि वसूलने के पात्र हैं। भारत के 13 बैंकों के समूह ने माल्या से 1.55 अरब डॉलर से अधिक की वसूली के लिए यहां एक मामला दर्ज कराया था। जज ने अपने फैसले के तहत लिखा है कि उपरोक्त सभी हालात को मद्देनजर रखते हुए, यहां तक कि माल्या द्वारा प्रत्यर्पण के कथित आधार का विरोध किये जाने को देखते हुए, माल्या को कानून से भगोड़ा करार दिये जाने का आधार है। माल्या पर भारत में 9000 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी व मनी लांड्रिंग का आरोप है। ये मामले सामने आने के बाद वह देश छोडक़र भाग गया था।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   5257199
 
     
Related Links :-
कुछ दिन पूर्व दी थी धमकी मेक्सिको सीमा पर दीवार के लिए डॉनाल्ड ट्रंप लगाएंगे आपातकाल..
बांग्लादेश: शेख हसीना की शानदार जीत, चौथी बार बनेंगी प्रधानमंत्री
मालदीव को भारत देगा 1.4 अरब डॉलर की आर्थिक सहायता दोनों देशों के बीच चार समझौते पर हस्ताक्षर
जी-२० सम्मेलन संयुक्त राष्ट्र महासचिव गुतारेस से मिले प्रधानमंत्री मोदी जलवायु परिवर्तन की गंभीर स्थिति पर की चर्चा
एटमी हथियार वाले जंग नहीं कर सकते दोस्ती ही बचा है एक रास्ता : इमरान
मोदी को सार्क सम्मेलन के लिए निमंत्रित करेगा पाकिस्तान
ननकाना साहिब रास्ते पर खालिस्तान के पोस्टर
मोदी मालदीव के राष्ट्रपति के शपथ ग्रहण में हुए शामिल
नागेश्वर राव अंतरिम डायरेक्टर नियुक्त
पाक की आतंकी सूची में हाफिज का संगठन नही