Breaking News
मिर्जापुर: विकास हकीकत से कोसो दूर- प्रियंका गांधी  |  गाजीपुर: पत्रकार प्रेस परिषद के जिलाध्यक्ष बने केके  |  चंदौली: भाजपा प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र नाथ पांडेय की बहू अमृता पांडेय कांग्रेस में होंगी शामिल, कहा बीजेपी ने ब्राह्मण समाज को ठगा  |  फिरोजाबाद लोकसभा सीट पर चाचा शिवपाल व भतीजा अक्षय में होगा दिलचस्प मुकाबला, शिवपाल यादव ने जारी की 31 प्रत्याशियों की सूची  |  हम किसी को परेशान नहीं करना चाहते, सपाबसपा का जो मकसद, वही हमारा है : प्रियंका  |  लोकसभा चुनाव : अंतिम तैयारियों में जुटी भाजपा पीएम मोदी 28 मार्च से शुरू करेंगे तूफानी चुनावी दौरा  |  ग्लैमरस लुक में धमाल मचा रही हैं सपना चौधरी  |  होली को बनाएं खुशनुमा  |  
 
 
समाचार ब्यूरो
16/05/2018  :  17:22 HH:MM
सुशील को कभी डांटने की जरूरत नहीं पड़ी : सतपाल
Total View  523

कुश्ती के द्रोणाचार्य महाबली सतपाल ने युवा खिलाडिय़ों को सुशील कुमार जैसा आदर्श शिष्य बनने का संदेश देते हुएमंगलवार को कहा कि उन्हें पिछल े 24 साल म ें सश्ु ाील को कभी डांटने की जरूरत नहीं पड़ी।
 पदम् भूषण से सम्मानित सतपाल ने यहां तितिक्षा पब्लिक स्कूल रोहिणी में एक स्वागत और सम्मान समारोह में यह बात कही। समारोह में स्कूल की तरफ से सतपाल और सुशील का सम्मान किया गया। सतपाल ने कहा, सुशील एक ऐसा खिलाड़ी है जिसने हर जगह देश का झंडा लहराया है। सुशील 11 साल की उम्र से आज तक मेरे साथ है। पिछले 24 साल में मुझे उसे डांटने की कभी जरूरत नहीं पड़ी और दोबारा उसे समझाने की जरूरत नहीं पड़ी। महाबली सतपाल ने छात्रछा त्राओं से कहा, आप भी अपने फील्ड में आगे जाना चाहते हो इसलिए हमेशा लक्ष्य ऊंचा रखो। गुरु और माता-पिता का दर्जा सिर्फ भगवान से कम होता है इसलिए हमेशा गुरु और माता-पिता का सम्मान करो। मैं इस तरह का कार्यक्रम आयोजित करने के लिए स्कूल प्रबंधन को बधाई देता हूं। उन्होंने बच्चों से कहा, पता नहीं आप में से कौन सुशील से भी आगे निकल जाए।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   7634289
 
     
Related Links :-
हरियाणा स्टाइल कबड्डी प्रतियोगिता में 25 टीमों ने लिया हिस्सा
अखिल भारतीय फ्रीस्टाईल इनामी कुश्ती 22 से 24 मार्च
जिला स्तरीय खेलकूद प्रतियोगिता 16-17 मार्च को
गंभीर को पद्म श्री सम्मान
बांग्लादेश क्रिकेट स्वदेश रवाना हुई टीम
यूके्रन से सोना जीत लाए गुरुग्राम के वेट लिफ्टर
पिंकाथन दौड़ : धावकों को बांटे गए पुरस्कार
श्रीसंत को मिली बड़ी राहत, सुप्रीम कोर्ट ने आजीवन प्रतिबंध हटाया
विश्व कप से पहले टीम इंडिया की कमजोरियां आईं सामने
आईपीएल : दिल्ली कैपिटल्स के सलाहकार बने गांगुली