समाचार ब्यूरो
18/05/2018  :  10:09 HH:MM
एशियाई खेलों के कोचिंग कैंप से बाहर हुई हरियाणा की फोगाट बहनें
Total View  393

भिवानी कॉमनवेल्थ गेम्स विजेता रेसलर गीता फोगाट और उनकी तीनों बहनों को नेशनल कैंप से बाहर कर दिया गया है। गीता के साथ उनकी छोटी बहनों बबीता, संगीता और रितु को भी भारतीय रेसिलंग फेडरेशन ने नोटिस जारी कर नेशनल कैंप से अनुपस्थिति पर जवाब मांगा है।

बता दें कि चारों बहनें एशियन गेम्स की तैयारियों के लिए आयोजित नेशनल कैंप से नदारद हैं। कोच कुलदीप मलिक की रिपोर्ट पर फेडरेशन ने चारों फोगाट बहनों को नोटिस भेजा है। फेडरेशन के अध्यक्ष बृज भूषण सिंह ने बताया कि फोगाट बहनों समेत जिन खिलाडिय़ों को कारण बताओ नोटिस जारी किए गए हैं, वे फिलहाल कैंप से बाहर हैं। वे आएं और अनुपस्थिति का कारण बताएं। इसके बाद ही कोई निर्णय लिया जाएगा। उन्होंने कहा बबीता और अन्य खिलाड़ी ऐसा नहीं कर सकतीं हैं। यह एक गंभीर मामला है। फेडरेशन ने अनुशासनहीनता के कारण ही उनको बाहर किया है। एशियन गेम्स की तैयारी के लिए 10 से 25 मई तक महिला खिलाडिय़ों के लिए लखनऊ में कैंप आयोजित किया गया है। इस कैंप में चारों फोगाट बहनों को ट्रेनिंग के लिए शामिल होना था। लेकिन, कोई भी इसमें शामिल नहीं हुई। इसके साथ ही कई अन्य खिलाड़ी भी कैंप में शामिल नहीं हुई है। फेडरेशन ने इसे गंभीर अनुशासनहीनता का मामला मानते हुए नोटिस भेजा
है। हालांकि, नोटिस के बाद बबीता फोगाट ने खुद के चोटिल होने का दावा किया है। फेडरेशन ने कहा है कि जो खिलाड़ी खुद नहीं आ सकते हैं उनको कोच को कैंप से अनुपस्थिति का कारण स्पष्ट करना होगा। नेशनल कैंप में चुने गए पहलवानों को 3 दिन के भीतर रिपोर्ट करनी होती है। जो खिलाड़ी रिपोर्ट नहीं कर सकते,
उन्हें इसकी सूचना कोच को देनी होती है। फोगाट बहनों व बाहर किए गए अन्य पहलवानों ने कोच को इसकी सूचना नहीं दी। इसी पर कार्रवाई करते हुए फेडरेशन ने इन पर कार्रवाई की है। फेडरेशन की कार्रवाई का मतलब यह है कि खिलाडिय़ों को एशियन गेम्स के ट्रायल में भाग लेने से प्रतिबंधित किया जा सकता है। एशियन गेम्स अगस्त सितंबर में इंडोनेशिया में आयोजित होगा।

इस मामले में जब गीता फोगाट से बात की तो गीता ने बताया कि वह अपनी चोट के कारण रिपोर्ट नहीं कर पाई है इसलिए अथॉरिटी ने उनको नोटिस भेजा था आज मेल के माध्यम से जवाब दे दिया है।वहीं बबीता फोगाट ने बताया कि उसके दोनों घुटनों में चोट है। इसलिए कैंप में शामिल नहीं हो पाई। अपनी बहन रितु व
संगीता के लिए उन्होंने कहा कि रूस में आयोजित कैंप में शामिल होने के लिए वे अपने वीजा का इंतजार कर रही हैं। यह फेडरेशन की जानकारी में है। हालांकि, फेडरेशन से इसको खारिज किया है। गीता बेंगलुरु में है। वह निजी कैंप में ट्रेनिंग ले रही है। उनको पता नहीं है कि वह कैंप को क्यों शामिल नहीं हुई हैं।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   7695727
 
     
Related Links :-
पारंपरिक खेलों के उत्थान पर ध्यान दे सरकार: महेश यादव
जिला स्तरीय बाल प्रतियोगिताएं
बीकेटी हरियाणा स्टीलर्स का आधिकारिक पार्टनर बना
बाल भवन में राष्ट्रीय पेंटिंग प्रतियोगिता का आयोजन
दूध-दही का खाणा! ...अब मुल्क की खेल राजधानी भी है आपका हरियाणा
खेल महाकुंभ की विधिवत शुरूआत
23 खिलाडिय़ों को 15.55 करोड़ रुपए मिले राष्ट्रमंडल और एशियाई खेलों के विजेताओं को सीएम ने दिया इनाम
जालंधर में 14 अक्तूबर से ग्लोबल कबड्डी लीग की शुरुआत : सोढी
रोमांचक मोटरसाइकल स्टंट शो का आयोजन
खिलाडिय़ो का हौंसला बढ़ाने में अहम रोल निभाएगी नयी खेल नीति: राणा सोढी