समाचार ब्यूरो
19/05/2018  :  09:43 HH:MM
पंजाब-हरियाणा हाई कोर्ट ने लगाई गई रोक हटा ली
Total View  366

चंडीगढ़ हरियाणा में सामान्य वर्ग के आर्थिक आधार पर पिछड़ों के लिए दिए गए आरक्षण पर आज पंजाब एवं हरियाणा हाई कोर्ट द्वारा लगाई गई रोक हटा ली गई जिससे करीब 1370 युवाओं की विभिन्न नौकरियों में पदों पर नियुक्ति का रास्ता साफ हो गया है। नियुक्ति पर कोर्ट द्वारा लगाई गई रोक हटवाने के लिए हरियाणा सरकार ने मजबूती से पक्ष रखा।
सरकार द्वारा सामान्य वर्ग के आर्थिक आधार पर पिछड़े युवाओं के हित में किए गए प्रयासों पर आज ब्राह्मण समाज के लोगों ने हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल व हरियाणा के शिक्षा मंत्री श्री राम बिलास शर्मा का आभार व्यक्त किया। ब्राह्मण समाज के नेता हरीराम दीक्षित के नेतृत्व में इन लोगों ने श्री शर्मा को सम्मानित करते हुए कहा कि पंजाब एवं हरियाणा हाई कोर्ट में हरियाणा सरकार ने सामान्य वर्ग के आर्थिक आधार पर पिछड़ों के लिए दिए गए आरक्षण के मामले में नियुक्तिों पर लगाई गई रोक हटवाने के लिए सही ढ़ंग से पक्ष रक्षा, इसमें शिक्षा मंत्री राम बिलास शर्मा का विशेष योगदान रहा है। श्री शर्मा ने नियुक्तियों पर कोर्ट द्वारा रोक हटाने पर कोर्ट के फैसले का स्वागत किया और कहा कि वे इस फैसले का आदर करते हैं। उन्होंने बताया कि नियुक्ति पर लगी रोक से लगभग 1370 युवाओं की ज्वाइंनिग रूक गई थी, उनका चयन होने के बाद भी वे नौकरी नहीं कर पा रहे थे।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   9839441
 
     
Related Links :-
गुरुग्राम में अतिक्रमण खिलाफ कार्रवाई अवैध, टावर सील
जाट धर्मशाला की चौधरी की लड़ाई में दो गुट आमने-सामने
गैंगस्टर दिलप्रीत बाबा का साथी गिरफ्तार, पुलिस मुठभेड़ में हुआ घायल
आरटीआई पर गलत सूचना देना पड़ा महंगा स्वास्थ्य विभाग के दो अधिकारी सस्पेंड
ब्लाईड मर्डर की गुत्थी सुलझाते हुए आरोपी को किया काबु
पुलिस पर कार्रवाई नहीं करने का आरोप, दिया ज्ञापन
हरियाणा में किसान 16 लाख, ई-नेम पर पंजीकरण 21 लाख: चौटाला
देवरिया शेल्टर होम कांड पर लोकसभा में हंगामा
लेजर वैली पार्क के आसपास अतिक्रमण के स्थायी समाधान की मांग
मुकद्दमें की ठीक ढंग से पैरवी न करने पर मुरथल एसएचओ को सस्पेंड करने के आदेश