समाचार ब्यूरो
27/05/2018  :  10:02 HH:MM
मीडियों रिपोर्टों पर नागरिक उड्डयन विभाग ने चिंता जताइ
Total View  447

चंडीगढ़ हरियाणा के करनाल हवाई अड्डे के लिए अधिगृहित की गई भूमि के संबंध में प्रिंट मीडिया में कुछ प्रेस रिपोर्ट के प्रकाशन पर नागरिक उड्डयन विभाग ने चिंता व्यक्त की और स्पष्टï किया कि विकास परियोजनाओं के लिए सरकार द्वारा स्वेच्छा से दी गई भूमि की खरीद के लिए बनाई गई नीति के तहत राज्य सरकार के ई-भूमि पोर्टल पर नागरिक उड्डयन विभाग द्वारा 280 एकड़ भूमि अधिसूचित की गई है। राज्य सरकार द्वारा यह नीति 6 फरवरी, 2017 अधिसूचना संख्या 273 ए-आर -5-2017/884 के माध्यम से अधिसूचित की गई थी।

नीति का उद्देश्य

नागरिक उड्डयन विभाग के प्रवक्ता ने बताया कि इस नीति के दो उद्देश्य हैं। जिसके तहत किसान को सरकारों को अपनी परियोजनाओं के लिए एक संभावित खरीदार के रूप में आने का आश्वासन दिया जाता है और सरकार कुछ हासिल कर सकती है अगर कुछ भू-मालिक किसी विशेष परियोजना के लाभों के बारे में
इतने उत्सुक होंगे कि वे अपनी जमीन को सरकार को बेचने के इच्छुक होंगे। उन्होंने बताया कि इससे यह स्पष्ट होता है कि भूमि को पूरी तरह से स्वैच्छिक आधार पर खरीदना है और इस मामले में भेदभाव या जबरदस्ती का कोई सवाल नहीं है। प्रवक्ता ने बताया कि राज्य सरकार ने केंद्र सरकार द्वारा उठाए गए कदमों के मद्देनजर नागरिक उड्डयन क्षेत्र में उभरते अवसरों का अधिकतम लाभ लेने के लिए राज्य के सभी पांच एरोड्रोम में मौजूदा हवाई पट्टियों का विस्तार करने का निर्णय लिया है। हिसार एयरोड्रोम को अंतर्राष्ट्रीय विमानन केंद्र के रूप में विकसित किया जा रहा है, जबकि करनाल पिंजौर, भिवानी और नारनौल की अन्य चार हवाई पट्टियों को पार्किंग, सब-बेसिंग, एमआरओ, उड़ान प्रशिक्षण जैसी विभिन्न गतिविधियों के लिए मध्यम आकार के विमान को समायोजित करने हेतु 5000 फीट तक बढ़ाया जाएगा। इसके अतिरिक्त, साहसिक खेल जिसके लिए नागरिक उड्डयन विभाग बहुत जल्द ही एक्सपे्रशन ऑफ इन्ट्रस्ट प्रकाशित करेगा। हिसार हवाई अड्डे का विस्तार हिसार हवाई अड्डे पर कार्य पहले ही चल रहा है जो जुलाई 2018 के अंत तक भारत सरकार की क्षेत्रीय कनेक्टिविटी योजना के तहत विकास के चरण-1 के हिस्से के रूप में घरेलू विकास के लिए तैयार होगा। इसके विकास के दूसरे चरण में बड़े विमानों के लिए पार्किंग, बेसिंग और एमआरओ जैसी गतिविधियों हेतु समायोजित करने के लिए हिसार की हवाई पट्टी अगले वर्ष के अंत तक आधुनिक सुविधाओं के साथ 9000 फीट तक विस्तारित की जाएगी।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   3051575
 
     
Related Links :-
लिया फ्रैगरेंसेज ने पेश किए कार फ्रेशनर
उपायुक्त सुमेधा कटारिया ने कहा छोटे किसान को हर योजना का लाभ दिलाने के प्रयास किए जाएंग
चंडीगढ़ के 120 छात्रों को मिला उद्यमिता प्रशिक्षण
अंतोदय सरल केंद्र के लाभ पहुंचाने के लिए डॉ. राकेश गुप्ता ने उपायुक्तों को दिए निर्देश आवेदन करवाने को प्राथमिकता दे
पहले टेंडर मंत्रियों और राजनेताओं के रिश्तेदारों को मिलते थे लेकिन अब ऑनलाइन व्यवस्था : काम्बोज
सूरज कुंड मेले हाथों हाथ बिका सुनारिया जेल में निर्मित सामान
लघु उद्योगों को बढ़ावा मिलेगा और रोजगार के नए अवसर पैदा होंग
पंचकूला में अपूर्वा जिंदल डिजाइनर स्टूडियो लॉन्च हुआ
15 कैंपों में 10703 लाभार्थियों को मिला 16 मैगा क्रेडिट कैंपों में 295 करोड़ की राशि ऋण के रूप में दी गइ
मंडी में जगह नहीं मिली तो सब्जी लेकर डीसी दरबार पहुंचे किसान