Breaking News
 
 
समाचार ब्यूरो
09/06/2018  :  13:29 HH:MM
पेट्रोल-डीजल को जीएसटी में लाने पर हो सकता है विचार
Total View  364

नई दिल्ली जीएसटी परिषद की अगली बैठक में पेट्रोल-डीजल व प्राकृतिक गैस को माल एवं सेवा कर (जीएसटी) व्यवस्था के दायरे में लाने पर विचार कर सकता है। उद्योग मंडल पीएचडी चैंबर ने यहां जारी एक वक्तव्य में जीएसटी परिषद के संयुक्त सचिव धीरज रस्तोगी के हवाले से कहा कि जीएसटी के दायरे से बाहर पांच पेट्रोलियम उत्पादों में विमानन टरबाइन ईंधन (एटीएफ) एक अन्य पेट्रोलियम उत्पाद होगा जिसे नई अप्रत्यक्ष कर व्यवस्था के दायरे में लाया जा सकता है।

वक्तव्य के अनुसार प्राकृतिक गैस को प्रायोगिक आधार पर जीएसटी के दायरे में लाने के प्रस्ताव को जीएसटी परिषद की अगली बैठक में विचार के लिये पेश किया जा सकता है। हालांकि, उन्होंने प्राकृतिक गैस और एटीएफ को जीएसटी के दायरे में लाने की स्पष्ट समयसीमा के बारे में कुछ नहीं बताया। केरोसीन, नाफ्था और एलपीजी जैसे पेट्रोलियम उत्पाद पहले से ही जीएसटी के दायरे में हैं जबकि पांच उत्पादों।।। कच्चा तेल, प्राकृतिक गैस, विमान ईंधन, डीजल तथा पेट्रोल को फिलहाल जीएसटी के दायरे से बाहर रखा गया है। रस्तोगी ने कहा, ‘‘ पेट्रोलियम न केवल केंद्र का बल्कि राज्य के राजस्व का बड़ा स्रोत है। प्राकृतिक गैस के मामले
में इसे जीएसटी के दायरे में लाने को लेकर थोड़ी सहमति है। इसीलिए यह पहला पेट्रोलियम उत्पाद हो सकता है जिसे जीएसटी के दायरे में लाया जाए।’’ जीएसटी पर कार्यशाला को संबोधित करते हुए रस्तोगी ने यह भी संकेत दिया कि सरकार का संभवत: जीएसटी के अंतर्गत ‘आपूर्ति’ शब्द की परिभाषा की समीक्षा का भी इरादा है।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   3722241
 
     
Related Links :-
11-15 अगस्त तक बिग बाजार की 5 दिन की महाबचत अब और भी ज्यादा!
वैश्विक रुख और सुस्त मांग से सोना कमजोर, चांदी तेज
सेंसेक्स पहली बार 38000 के पार निफ्टी 11470 के करीब
अधिकारियों की मनमानी से व्यापारी वर्ग फार्म ‘सी’ के लिए तरसे
भवन निर्माण से जुड़े कारीगरों और वर्करों को प्रशिक्षण के लिए भेजा हापुड़
सुरक्षित भंडारण के लिए स्टील के साईलो बनाए जाएंगे : कांबोज
विशेष आभार कलेक्शन लॉन्च के साथ रिलायंस ज्वेल्स मना रहा 11वीं वर्षगांठ
पेट्रोल-डीजल के दामों में फिर लगी आग, मुंबई और चेन्नई में पेट्रोल 80 के पार
भीम ऐप, रुपे कार्ड से भुगतान पर मिलेगा 20 प्रतिशत टैक्स छूट
बिकवाली और रुपये की टूटन से लुढक़ा शेयर बाजार