समाचार ब्यूरो
09/06/2018  :  13:34 HH:MM
क्रिकेटर कपिल देव की राजनीति में नई पारी के आसार
Total View  393

चंडीगढ़ भाजपा की चंडीगढ़ इकाई इस बार भी लोकसभा चुनाव से पहले एकजुट नहीं हुई तो फिर से पार्टी किसी नए चेहरे पर दांव लगा सकती है। यह चेहरा जाने माने क्रिकेटर कपिल देव भी हो सकते है। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने हाल ही में कपिल देव से संपर्क से समर्थन अभियान के तहत मुलाकात की थी।

विगत दिन अमित शाह ने चंडीगढ़ में मिल्खा सिंह, तीन ओलंपिक गोल्ड मेडल विजेता बलबीर सिंह सीनियर से मुलाकात की। चंडीगढ़ की यह तीन हस्तियों को केवल चंडीगढ़ ही नहीं पूरा देश जानता है। श्री शाह ने इन दिग्गजों का दरवाजा खटखटाकर शहर की राजनीति को हवा दे दी है। पार्टी में चल रही खींचतान और शीर्ष नेताओं की गतिविधियों ने संकेत दे दिया है कि आगामी लोकसभा चुनाव से पहले नेता एकजुट नहीं हुए तो इस बार भी कोई नया चेहरा मैदान में होगा।पार्टी सूत्रों के अनुसार कपिल देव से चंडीगढ़ के कई भाजपा नेता संपर्क में है। कपिल देव चंडीगढ़ के हैं। 2014 में भी तीन शीर्ष नेताओं के बीच खींचतान के कारण किरण खेर को टिकट मिली थी। यही कारण था कि वीरवार को पार्टी अध्यक्ष को रीसिव करने भी चंडीगढ़ भाजपा के तीनों शीर्ष नेता पहुंचे हुए थे। सिर्फ पूर्व केंद्रीय मंत्री हरमोहन धवन गायब थे। खुद सांसद किरण खेर, पूर्व सांसद सत्यपाल जैन, पार्टी अध्यक्ष संजय टंडन और मेयर देवेश मोदगिल एयरपोर्ट से लेकर पार्टी आफिस के प्रोग्राम 
तक में मौजूद थे। पार्टी का लोकसभा चुनाव में चंडीगढ़ से उ मीदवार कौन होगा इसपर पार्टी का कोई भी बड़ा नेता अभी कुछ भी कहने को तैयार नहीं है। भाजपा की चंडीगढ़ इकाई इस समय सीधे सीधे तीन धड़ो में बंटी हुई है। एक गुट के लीडर चंडीगढ़ ईकाई के अध्यक्ष संजय टंडन हैं। दूसरे के पूर्व एमपी सत्यपाल जैन। सांसद किरण खेर को चाहने वालों का भी एक वर्ग है। सीनियर नेता हरमोहन धवन बगावती तेवर दिखा चुके हैं। पार्टी के केंद्रीय नेताओं की नजर शहर से जुड़े सभी प्रमुख व्यक्तियों पर भी है। किरण खेर के पति अनुपम खेर पर पार्टी पहले ही अपनी मेहरबानी दिखा चुकी है। पार्टी नेता आपस में लड़ते रहे तो चंडीगढ़ से किसी ऐसे चेहरे को मैदान में उतारा जाएगा जोकि शहर की जनता को आसानी से स्वीकार हो। पार्टी अध्यक्ष अमित शाह पहले ही संकेत दे चुके है कि चंडीगढ़ का लोकसभा चुनाव संजय टंडन के नेतृत्व में लड़ा जाएगा।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   2426748
 
     
Related Links :-
पारंपरिक खेलों के उत्थान पर ध्यान दे सरकार: महेश यादव
जिला स्तरीय बाल प्रतियोगिताएं
बीकेटी हरियाणा स्टीलर्स का आधिकारिक पार्टनर बना
बाल भवन में राष्ट्रीय पेंटिंग प्रतियोगिता का आयोजन
दूध-दही का खाणा! ...अब मुल्क की खेल राजधानी भी है आपका हरियाणा
खेल महाकुंभ की विधिवत शुरूआत
23 खिलाडिय़ों को 15.55 करोड़ रुपए मिले राष्ट्रमंडल और एशियाई खेलों के विजेताओं को सीएम ने दिया इनाम
जालंधर में 14 अक्तूबर से ग्लोबल कबड्डी लीग की शुरुआत : सोढी
रोमांचक मोटरसाइकल स्टंट शो का आयोजन
खिलाडिय़ो का हौंसला बढ़ाने में अहम रोल निभाएगी नयी खेल नीति: राणा सोढी