Breaking News
मिर्जापुर: विकास हकीकत से कोसो दूर- प्रियंका गांधी  |  गाजीपुर: पत्रकार प्रेस परिषद के जिलाध्यक्ष बने केके  |  चंदौली: भाजपा प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र नाथ पांडेय की बहू अमृता पांडेय कांग्रेस में होंगी शामिल, कहा बीजेपी ने ब्राह्मण समाज को ठगा  |  फिरोजाबाद लोकसभा सीट पर चाचा शिवपाल व भतीजा अक्षय में होगा दिलचस्प मुकाबला, शिवपाल यादव ने जारी की 31 प्रत्याशियों की सूची  |  हम किसी को परेशान नहीं करना चाहते, सपाबसपा का जो मकसद, वही हमारा है : प्रियंका  |  लोकसभा चुनाव : अंतिम तैयारियों में जुटी भाजपा पीएम मोदी 28 मार्च से शुरू करेंगे तूफानी चुनावी दौरा  |  ग्लैमरस लुक में धमाल मचा रही हैं सपना चौधरी  |  होली को बनाएं खुशनुमा  |  
 
 
समाचार ब्यूरो
22/06/2018  :  10:50 HH:MM
योग को बढ़ावा देने के लिए आयोग बनेगा
Total View  524

चंडीगढ़ मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने घोषणा की है कि प्रदेश में योग को बढ़ावा देने के लिए योग आयोग का गठन किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने आज चतुर्थ अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर लोगों को अपना जीवन तनाव रहित रखने के लिए कम से कम एक दिन खुद को समर्पित करने का सुझाव देते हुए कहा कि संडे यानि रविवार को फंडे बनाया जा सकता है, जिससे सप्ताह भर आप खुद को तरोताजा महसूस कर सकेंगे।

एक दिन आप अपने अंदर झांक कर अपनी शक्ति को पहचानें, जीवन में सकारात्मकता का विकास हो सके। आज प्रदेशभर में पूरे उत्साह के साथ मनाया गया। मुख्यमंत्री ने झज्जर में आयोजित राज्य स्तरीय कार्यक्रम में भाग लिया और उपस्थित योग साधकों को संबोधित करते हुए उन्हें खुश रहने का मूलमंत्र दिया। मुख्यमंत्री के साथ कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री श्री ओमप्रकाश धनखड़ तथा बहादुरगढ़ के विधायक श्री नरेश कौशिक ने भी योगाभ्यास किया।उन्होंने ‘थ्री इडियट’ के संवाद ‘इंसान को एक्सीलेंस के पीछे भागना चाहिए, एक्सीलेंस होगा तो सक्सेस अपने आप पीछे आएगी’ का जिक्र करते हुए कहा कि योग का उद्देश्य भी ध्यान केन्द्रित करने की प्रवृति विकसित करना है, जिससे बड़े-बड़े लक्ष्य आसानी से प्राप्त किए जा सकते हैं। भौतिक विकास के साथ-साथ लोगों के मन में प्रसन्नता के भाव को जगाने के लिए राज्य के सभी जिलों में राहगिरी कार्यक्रमों का पाक्षिक या मासिक आयोजन किया जा रहा है। जिला झज्जर में राहगिरी कार्यक्रम अभूतपूर्व बताया
गया है, इसके लिए जिला प्रशासन व जिलावासी बधाई के पात्र हैं। तनाव मुक्त रहना व मन को खुश रखना भी जीवन की एक कला है। भूटान का जिक्र करते हुए उन्होंने बताया कि वहां की सरकार ने तो लोगों को खुश रखने के लिए डिपार्टमेंट ऑफ हैह्रश्वपीनेस भी बनाया है। आज दुनिया में वल्र्ड हैह्रश्वपीनेस इंडेक्स की भी बात
हो रही है यानि किसी देश के नागरिकों के जीवन में खुशहाली को भी मापा जा रहा है। राहगिरी का आयोजन भी इसी उद्देश्य से किया जा रहा है ताकि हरियाणावासी भौतिक विकास के साथ-साथ खुशहाली व तनाव रहित जीवन का आनंद उठा सकें।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   5949631
 
     
Related Links :-
कार्यालयों में कोई तंबाकू और धूम्रपान करता है तो चालान करें
गुरुग्राम में रेडक्रॉस भवन में रक्तदान शिविर
देश में कुपोषण की मार झेल रहे हैं 4.66 करोड़ नौनिहाल
प्राणियों के लिए स्वच्छ पर्यावरण का होना जरूरी : सुमेध
आर्ट ऑफ लिविंग से बदलती है मानसिक सोच
यूएनओ रिपोर्ट बढ़ते उत्सर्जन से दुनिया में एक चौथाई लोगों की जान को खतरा
पंजाब के 40 फीसदी लोगों को दिल की बीमारियों और स्ट्रोक का खतरा
प्रभावित किडनी आमंत्रित करती है बीमारियों को
स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण सोसाइटी के सदस्यों की बैठक उपायुक्त ने दिए बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं देने के लिए आवश्यक दिशा निर्देश
सभी रोगों की एक दवाई शहर में रखो साफ सफाई : अवनीत