समाचार ब्यूरो
02/08/2018  :  11:17 HH:MM
नवाज शरीफ के स्वास्थ्य में सुधार फिर भेजा आडियाला जेल
Total View  433

इस्लामाबाद पाकिस्तान के सज़ायाफ्ता पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के स्वास्थ्य में सुधार होने के बाद आज उन्हें अस्पताल से वापस आडियाला जेल भेज दिया गया। शरीफ (68) इस्लामाबाद स्थित पाकिस्तान इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (पीआईएमएस) के हृदय केंद्र में भर्ती थे।

उन्हें तबीयत बिगडऩे के बाद रविवार की रात देश के शीर्ष अस्पताल में भर्ती कराया गया था। पीआईएमएस सूत्रों ने बताया कि उनकी विभिन्न जांच की गई थी जिसमें उनकी सेहत में सुधार होने का पता चला। इसके बाद उन्हें वापस जेल भेजने का फैसला किया गया। उन्होंने बताया कि शरीफ ने खुद भी जेल वापस जाने की इच्छा जताई थी क्योंकि वह शुरू में अस्पताल जाने के लिए तैयार नहीं थे और जेल में कैद अपनी बेटी और दामाद के कहने पर राजी हुए थे। भारी सुरक्षा व्यवस्था में उन्हें जेल वापस भेजा गया। इससे पहले दिन में पंजाब
प्रांत के गृह मंत्री शौकत जावेद ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की मेडिकल रिपोर्ट में उनका इलाज विदेश में कराने का कोई सुझाव नहीं दिया गया है। जावेद ने शरीफ को इलाज के लिए लंदन भेजने की अफवाहें खारिज कर दी। डॉक्टरों के मुताबिक, शरीफ के ब्लड प्रेशर और ईसीजी की रिपोर्ट बीती रात पूरी तरह सामान्य नहीं थी। तीन बार पाकिस्तान के प्रधानमंत्री रहे शरीफ (68) और उनकी बेटी मरियम (44) रावलपिंडी की आडियाला जेल में क्रमश:10 और सात साल की कैद की सजा काट रहे हैं। लंदन में चार आलीशान फ्लैटों की मिल्कियत से जुड़े मामले में एक जवाबदेही अदालत ने छह जुलाई को उन्हें दोषी ठहराया था।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   8777951
 
     
Related Links :-
नागेश्वर राव अंतरिम डायरेक्टर नियुक्त
पाक की आतंकी सूची में हाफिज का संगठन नही
सऊदी विदेश मंत्री ने कहा कि वकील नई सूचनाओं के आधार पर जांच जारी रखेंगे सऊदी ने फिर बदला बयान, कहापूर्वनियोजित थी खशोगी की हत्या
रहीशा खान ने दी महर्षि वाल्मीकि जयंती पर शुभकामनाए
नागेश्वर राव अंतरिम डायरेक्टर नियुक्त
रूसी राष्‍ट्रपति व्‍लादिमीर पुतिन ने रेल हादसे पर जताया गहरा दुख
बांग्लादेशी हिंदुओं को पीएम का दिवाली गिफ्ट शेख हसीना ने मंदिर को दान की 43 करोड़ की डेढ़ बीघा जमीन
क्रीमिया कॉलेज में आत्मघाती हमला, 18 लोगों की मौत
युगांडा में भारी बारिश, भूस्खलन के बाद नदी उफनी, 41 लोगों की मौत
188 मत हासिल कर भारत ने जीता यूएन मानवाधिकार परिषद का चुनाव