समाचार ब्यूरो
19/08/2018  :  14:53 HH:MM
जनसेवा एवं चेतना मंच ने दी बाजपेयी को भावभीनी श्रद्धांजलि
Total View  452

गुरुग्रामत्नभारतीय राजनीति के शिखर पुरुष, भारत रत्न एवं भारत के पूर्व प्रधानमंत्री अटल विहारी बाजपेयी के निधन पर स्थानीय नारायणी मार्केट, खांडसा रोड स्थित जनसेवा एवं सांस्कृतिक चेतना मंच के कार्यालय पर एक शोक सभा का आयोजन किया गया जिसमें अटल जी की तस्वीर के आगे कैंडल जालाकर एवं पुष्प अर्पित कर उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की गई।

इस मौके पर कार्यकर्ताओं ने एक मिनट का मौन भी धारण किया। शोक सभा में मंच के मुख्य सलाहकार सुरेन्द्र प्रताप ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की एक कविता सुनाकर उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की। कविता इस प्रकार है-ठन गई मौत से ठन गई, मौत की उमर क्या है? दो पल भी नहीं, जिंदगी सिलसिला, आज कल की नहीं। मैं जी भर जिया, मैं मन से मरूं, लौटकर आऊंगा, कूच से क्यों डरूं... शोक सभा को संबोधित करते हुए जनसेवा एवं सांस्कृतिक चेतना मंच के अध्यक्ष रणधीर राय ने कहा कि अटल जी देश के सर्वमान्य नेता थे। वे एक मात्र देश के ऐसे नेता थे जिनकी सर्वसमाज में पकड़ थी और लोग उनकी बातों पर अमल करते थे। वे 50 साल तक सांसद रहे। वे भाजपा के एकमात्र ऐसे नेता थे जिनकी तारीफ विपक्षी पार्टियों के नेता भी करते थे। नेहरू तक उनकी तारीफ
करते थे वहीं इंदिरा गांधी उनसे सलाह लेती थी। इस मौके पर संस्था के वरिष्ठ उपाध्यक्ष दयानंद, अजय यादव, शिवदास, शिव कुमार, दिलीप गुप्ता, जितेंद्र, गोपाल, सचितानंद, मनीष राय, रामनिवास, राजेश, सुनील शर्मा, भोड़सी, साहेब सिंह सोलंकी आदि मौजूद रहे।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   1835717
 
     
Related Links :-
ग्रुप डी के विभिन्न पदों को परीक्षाएं संपन्न
मुख्यमंत्री ने श्रमिकों के उत्थान एवं कल्याण के लिए अनूठी योजनाएं एवं कार्यक्रम चलाए
कम बिजली खपत वाले गरीब परिवारों को होगा सीधा लाभ बिजली बिल में राहत मुख्यमंत्री खट्टर का निर्णय ऐतिहासिक
शोक जताने विधायक के आवास पर पहुंचे कृषि मंत्री
आने वाला समय इनेलो का : कौशिक
कुल्लू में मूसलाधार बारिश, बर्फबारी के बाद अलर्ट
केंद्र शासित चंडीगढ़ में प्रशासकीय पदों का मामला चंडीगढ़ में हिस्सेदारी का मुद्दा गर्माया कैह्रश्वटन ने प्रधानमंत्री को लिखा पत्र
शांति और अहिंसा की आवाज है भारत : उपराष्‍ट्रपति नायडू
छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव पहले चरण के लिए प्रचार थमा, आखिरी दिन शाह और राहुल ने झोंक दी ताकत
प्रधानमंत्री की रैली को दिया ‘जन विकास रैली’ का नाम : बराला