Breaking News
पार्क ह्रश्वलाजा जीरकपुर में अदिरा ईवेंट्स का ‘ट्राइसिटी का करवा चौथ बैश’ संपन्न  |  भारत में कैंसर दूसरा सबसे बड़ा हत्यारा  |  भाजपा की सरकार होते हुए भी कालका ने विपक्ष जैसा शासनकाल सहन किया : प्रदीप चौधरी  |  भाजपा और कांग्रेस में दल बदल करवाने में लगी हुई है होड़ : योगेश्वर शर्मा  |  कांग्रेस ही भारत को न.1 बना सकती है : जैन  |  उनकी सरकार ने कमीशन एजेंटों, बिचोलियों और दलालों की खत्म करने की दिशा में काम किया है: मनोहर लाल बिचोलिये कैंसर के समान घातक है  |  जोनल यूथ फेस्ट में विद्यार्थियों की धूम, लगी पुरस्कारों की झड़ी  |  अलीपुर के पूर्व सरपंच जेजेपी में शामिल, कांग्रेस के गुरविंद्र भी आए  |  
 
 
समाचार ब्यूरो
27/09/2018  :  10:10 HH:MM
अपोलो ने लॉन्च किया ईएनआईसीयू में देश का सबसे बड़ा नेटवर्क
Total View  669

चंडीगढ़ देश में नियोनेटल केयर सुविधाओं में बड़ा सुधार लाने के प्रयास में भारत के प्रमुख वुमेन्स एवं चिल्ड्रन्स हॉस्पिटल्स अपोलो क्रेडल ने बुधवार को ‘अडवान्स्ड टेक्नोलॉजी नियोनेटल इन्टेन्सिव केयर युनिट (ईएनआईसीयू)’ का लॉन्च किया।

ऐसा भारत में पहली बार हुआ है कि अपोलो क्रेडल जैसे वुमेन एवं चिल्ड्रन्स हॉस्पिटल्स के सबसे बड़े नेटवर्क ने भारत में इस तरह की अनूठी पहल की है। अपोलो क्रेडल ने नैदानिक उत्कृष्टता के क्षेत्र में विशेष प्रतिष्ठा हासिल कर ली है, इसमें हाई रिस्क प्रेगनेन्सी एवं कॉम्पलेक्स प्री-टर्म बेबीज़ को हैण्डल करने की क्षमता है। ईएनआईसीयू के माध्यम से अपोलो डल के विशेषज्ञ अस्पताल में या किसी भी स्थन पर बैठ कर हर छोटी जानकारी पर नजऱ रख सकेंगे, जैसे दवाएं, पोषण, शिशु का फीडिंग पैटर्न तथा कैलोरी और ग्रोथ चार्ट आदि।

इस एनआईसीयू की मदद से अपोलो क्रडल के डॉक्टर छोटे नगरों के एनआईसीयू को भी सहयोग प्रदान कर सकेंगे। प्री-टर्म बेबी की रियल टाईम मॉनिटरिंग एवं डिजिटल रिकॉड्र्स से नैदानिक परिणामों में सुधार आएगा और भारत में नवजात शिशुओं को विश्व स्तरीय इलाज मिल सकेगा। अपोलो ने अपने दृष्टिकोण ‘‘हमारे साथ आप हमेशा सुरक्षित हाथों में हैं’’ के मद्देनजऱ इस पहल की शुरूआत की है। ईएनआईसीयू के उद्घाटन समारोह के दौरान डॉ अनुपम सिब्बल, ग्रुप मेडिकल डायरेक्टर, अपोलो हॉस्पिटल्स ग्रुप एवं सीनियर कन्सलटेन्ट पीडिएट्रिक गैस्ट्रोएंट्रोलोजिस्ट एवं हेपेटोलोजिस्ट, इन्द्रप्रस्थ अपोलो हॉस्पिटल्स ने कहा, ‘‘अपोलो क्रेडल का ईएनआईसीयू उन नवजात शिशुओं की देखभाल की क्षमता रखता है जो ज़्यादातर अन्य अस्पतालों में मुश्किल होती है। इसकी मदद से डॉक्टर और चिकित्सा अधिकारी एक सेंट्रल लोकेशन से हर बच्चे को मॉनिटर कर सकते हैं। इसमें क्लाउड बेस्ड सिस्टम के द्वारा डॉक्टर के वर्कफ्लो, नर्सिंग वर्कफ्लो एवं रेजिड़ेंट डॉक्टरों के कार्यों का प्रबंधन किया जाता है।’






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   8891329
 
     
Related Links :-
भारत में कैंसर दूसरा सबसे बड़ा हत्यारा
वल्र्ड मेंटल हेल्थ डे: युवाओं ने खास अंदाज में दिया जागरूकता संदेश
स्तन कैंसर से बचने के लिए जागरूक और सावधान रहना जरूरी
एफआरएआई ने तंबाकू उत्पादों की बिक्री पर प्रस्तावित सुझाव पर जताई चिंता दुकानदारों को लाइसेंस दिए जाने के प्रस्ताव का किया विरोध
मोहाली एमसी कमिश्नर ने डॉ. विक्रम शाह को सम्मानित किया
डॉक्टर्स और रोगियों ने बीमारियों के प्रतीक रावण का दहन किया
ड्रग्स और ह्रश्वलास्टिक के खिलाफ बाइक रैली आयोजित
गांव में चलाया गया ह्रश्वलास्टिक मुक्त व फिट इण्डिया पर विशेष अभियान
स्वस्थ भोजन से बचा जा सकता है दिल की समस्याओं से: दहिया
आईएमए चंडीगढ़ में हुई सीएमई में 100 से अधिक डॉक्टर शामिल हुए