समाचार ब्यूरो
05/10/2018  :  13:06 HH:MM
खिलाडिय़ो का हौंसला बढ़ाने में अहम रोल निभाएगी नयी खेल नीति: राणा सोढी
Total View  442

चंडीगढ़ पंजाब सरकार की तरफ से बनाई नयी खेल नीति का मनोरथ राज्य में खेल के लिए रचनात्मक माहौल सृजन करना, खिलाडिय़ों का बड़े नगद राशि पुरुस्कारों और नौकरियों के साथ हौसला अफज़ायी करना है। यह खुलासा पंजाब के खेल मंत्री राणा गुरमीत सिंह सोढी ने आज यहाँ पंजाब भवन में बुलायी प्रैस कान्फ्ऱेंस के दौरान किया।

उन्होंने कहा कि नयी खेल नीति में उभरते खिलाडिय़ों को बड़े मुकाबलों के लिए तैयार करने पर विशेष ज़ोर दिया गया है और आगामी टोकियो ओलम्पिक खेल -2020 में नयी खेल नीति के सार्थक नतीजे सामने आएंगे। उन्होंने मुख्यमंत्री कैह्रश्वटन अमरिन्दर सिंह का विशेष धन्यवाद करते हुए कहा कि इस नयी खेल नीति को बीते कल कैबिनेट की मंज़ूरी मिलने से राज्य में खेल सभ्याचार पैदा होगा। उन्होंने कहा कि पिछली सरकार की तरफ से 2010 में बनाई खेल नीति में समय अनुसार बहुत बदलाव करने की ज़रूरत थी जो अब नयी खेल नीति में कर दिए हैं।

राणा सोढी ने कहा कि नयी खेल नीति में जहाँ राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर के मुकाबलों में पदक विजेता खिलाडिय़ों, महाराजा रणजीत सिंह अवार्ड की इनाम राशि, खिलाडिय़ों को दी जाने वाली पैंशन में विस्तार किया है वहीं खिलाडिय़ों को पदक जीतने के काबिल बनाने पर विशेष ध्यान दिया जायेगा। पैरा स्पोर्टस खेल के विजेताओं की इनाम राशि में भी बराबर विस्तार किया गया है। उन्होंने कहा कि एशियाई और राष्ट्रमंडल /पैरा स्पोर्टस के पदक विजेताओं को दी जाने वाली नगद राशि में तीन गुणा विस्तार करने का फ़ैसला किया गया है।
एशियाई खेल के स्वर्ण, रजत और कांस्य पदक विजेताओं को क्रमवार एक करोड़, 75 लाख रुपए और 50 लाख रुपए और राष्ट्रमंडल खेल के स्वर्ण, रजत और कांस्य पदक विजेताओं को क्रमवार 75 लाख रुपए, 50 लाख और 40 लाख रुपए से सम्मानित किया जायेगा। खेल विभाग की तरफ से 11 अक्तूबर को चण्डीगढ़ में विशेष समागम रखा गया है जिसमें जकार्ता एशियाई खेल और गोल्ड कोस्ट राष्ट्रमंडल खेल के पदक विजेता पंजाबी खिलाडिय़ों को बढ़ी हुई इनाम राशि से सम्मानित किया जायेगा।

खेल मंत्री ने यह भी कहा कि पिछले छह सालों से राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय मुकाबलों के पदक विजेता खिलाडिय़ों को दिए जाने वाले नगद इनाम और महाराजा रणजीत सिंह अवार्ड बकाया पड़े हैं जिनको अब हमारी सरकार की तरफ से देने का फ़ैसला किया है। उन्होंने कहा कि नवंबर महीने 814 खिलाडिय़ों को नगद पुरुस्कार दिए जाएंगे और महाराजा रणजीत सिंह अवार्डों का भी वितरण किया जायेगा। उन्होंने कहा कि महाराजा रणजीत सिंह अवार्ड के लिए इनाम राशि में भी विस्तार करते हुए पाँच लाख रुपए कर दिया गया है। राष्ट्रीय
खेल अवार्डों की तजऱ् पर हर साल 20 खिलाडिय़ों को महाराजा रणजीत सिंह अवार्ड नियमित तौर पर दिए जाएंगे। एक साल में 20 खिलाडिय़ों के अलावा पद्म, अर्जुन अवार्ड और राजीव गांधी खेल रत्न हासिल करने वाले सभी पंजाबियों को भी महाराजा रणजीत सिंह अवार्ड मिलेगा।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   906459
 
     
Related Links :-
भारत ने पहली बार ऑस्ट्रेलियाई धरती पर द्विपक्षीय एकदिवसीय सीरीज जीती आस्टे्रलिया को ७ विकेट से हरा, सीरीज पर कब्जा
अपनी कटेगरी में आर्षवंत ने यूएस किड्स गोल्फ इंडिया टूर में जीता तीसरा खिताब
धुंध और कडक़ड़ाती ठंड में ड्राइव सेफ मैराथन रन फॉर रोड का आयोजन मुख्यमंत्री के साथ हजारों लोगों ने यमुनानगर में लगाई दौड
लहरों से डरकर नौका पार नहीं होती
बुमराह को ऑस्ट्रेलियाई वनडे और कीवी दौरे से विश्राम
ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट सीरीज जीतने पर इमरान ने भारतीय टीम को दी बधाई
स्वच्छ, हरित ऊर्जा’ पर लेखन प्रतियोगिता
ऑस्ट्रेलिया में सीरीज जीतने वाला भारत दुनिया का 5वां देश
इंटर कॉलेज बॉक्सिंग पुरुष प्रतियोगिता में आर्य कॉलेज ने जीता गोल्ड
अनिल विज ने टवीट् कर दी मनु भाकर को नसीहत